होम /न्यूज /बिहार /

मोतिहारी का थानेदार बृज बिहारी शरण निकला धनकुबेर, निगरानी को मिली आय से 150% अधिक संपत्ति

मोतिहारी का थानेदार बृज बिहारी शरण निकला धनकुबेर, निगरानी को मिली आय से 150% अधिक संपत्ति

मोतिहारी के रजिस्ट्रार बृज बिहारी शरण के आवास पर निगरानी विभाग की छापेमारी.

मोतिहारी के रजिस्ट्रार बृज बिहारी शरण के आवास पर निगरानी विभाग की छापेमारी.

Corruption in Bihar: पिछली 2 फरवरी को निगरानी विभाग ने अपने ही थाने में रजिस्ट्रार बृज बिहारी शरण के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का केस दर्ज कराया था. दर्ज करवाए गए केस में बताया गया था कि रजिस्ट्रार के पास आय से अधिक 1 करोड़ 29 लाख 55 हजार 408 रुपये हैं. इस बाबत निगरानी थाने में केस नंबर 5/2022 दर्ज है.

अधिक पढ़ें ...

पटना. भ्रष्टाचार के खिलाफ नए साल में निगरानी विभाग एक्शन मोड में दिख रहा है. निगरानी विभाग की टीम ने मोतिहारी के भ्रष्ट रजिस्ट्रार के ठिकानों पर जब शुक्रवार को छापेमारी की, तब निगरानी महकमे के अधिकारी उसकी अकूत संपत्ति देखकर सन्न रह गए.

दरअसल, पिछली 2 फरवरी को निगरानी विभाग ने अपने ही थाने में रजिस्ट्रार बृज बिहारी शरण के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का केस दर्ज कराया था. दर्ज करवाए गए केस में बताया गया था कि रजिस्ट्रार के पास आय से अधिक 1 करोड़ 29 लाख 55 हजार 408 रुपये हैं. इस बाबत निगरानी थाने में केस नंबर 5/2022 दर्ज है.

रजिस्ट्रार बृज बिहारी शरण के यहां छापेमारी में निगरानी विभाग को आय से अधिक 150% संपत्ति का पता चला है. निगरानी विभाग की टीम ने रजिस्ट्रार के पटना के गर्दनीबाग स्थित विष्णुपुरी मोहल्ले और फुलवारी शरीफ स्थित पूर्णेन्दु नगर में एकसाथ छापेमारी की. छापेमारी के दौरान इन दोनों ठिकानों से निगरानी विभाग की टीम ने 10 लाख 50 हजार नगद के अलावा आधा किलो सोने और 2 किलो चांदी के आभूषण जब्त किए. जब्त आभूषण का बाजार मूल्य 24 लाख रुपये से अधिक बताया जा रहा है.

इसके अलावा निगरानी विभाग ने रजिस्ट्रार और उनकी पत्नी के नाम से बैंक अकाउंट में जमा 82 लाख रुपए का भी पता लगाया है. पटना के एसके पुरी इलाके के एसबीआई बैंक में उनका एक लॉकर भी पाया गया है, जिसे तत्काल फ्रिज कर दिया गया. इसके अलावा 14 बीमा पॉलिसी और क्रेडिट और डेबिट कार्ड जब्त किए गए हैं. तलाशी के क्रम में ही रजिस्ट्रार के यहां से दो बड़ी गाड़ियां भी बरामद की गई हैं. इसके अलावा जमीन के 11 डीड भी जब्त किए गए. रजिस्ट्रार का फुलवारी शरीफ इलाके के पूर्णेंदु नगर में जो आलीशान मकान मिला है उसकी कीमत 1 करोड़ 29 लाख रुपये से अधिक आंकी गई है. रजिस्ट्रार द्वारा सरकार को संपत्ति का जो सालाना विवरण दिया जाता है, उसमें निवेशकों और जमीन की डेट की कोई जानकारी नहीं दी गई है.

Tags: Bihar News, Vigilance Raid

अगली ख़बर