बिहार: बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से सांसद-विधायक क्यों हैं लापता ?

आखिर क्यों लापता हो गए हैं बाढ़ग्रस्त इलाकों के सांसद-विधायक? आइये एक नजर डालते हैं ऐसे नेताओं के नामों पर जो जनता को बीच भंवर में छोड़ फरार हैं.

News18 Bihar
Updated: July 16, 2019, 2:05 PM IST
बिहार: बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से सांसद-विधायक क्यों हैं लापता ?
बिहार के अररिया में बाढ़ग्रस्त इलाके की तस्वीर
News18 Bihar
Updated: July 16, 2019, 2:05 PM IST
बिहार के 13 जिले प्रभावित हैं और 19 लाख से अधिक लोग बुरी तरह प्रभावित हैं. अब तक 46 से अधिक मौत हो चुकी है और कई इलाकों से लोग पलायन को मजबूर हैं. इन सबके बीच बड़ी हकीकत ये है कि चुनाव के दौरान गांव-गली की खाक छानते रहे अधिकतर नेता चुनाव बाद से ही लापता हैं. यहां तक कि बाढ़ से प्रभावित इलाकों के अधिकतर सांसद-विधायक अपने इलाके से ही नदारद हैं. मिली जानकारी के अनुसार कोई पटना में तो कोई दिल्ली में हैं.

आखिर क्यों लापता हो गए हैं बाढ़ग्रस्त इलाकों के नेता? आइये एक नजर डालते हैं ऐसे नेताओं के नामों पर जो जनता को बीच भंवर में छोड़ फरार हैं.

चंपारण में ढूंढे नहीं मिल रहे नेता
बिहार में बाढ़ से सबसे अधिक मोतिहारी जिला है. यहां अब तक 19 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, लेकिन यहां से सांसद राधामोहन सिंह अपने क्षेत्र में नहीं हैं. वहीं पश्चिमी चम्पारण के सांसद डॉ संजय जायसवाल भी अपने क्षेत्र में न रहकर दिल्ली में मौजूद हैं.

चंपारण के विधायक भी गायब
रक्सौल के भाजपा विधायक डॉ.अजय कुमार सिंह, सुगौली से बीजेपी विधायक रामचन्द्र सहनी, हरसिद्धि के राजद एमएलए राजेन्द्र राम, गोविंदगंज के लोजपा विधायक राजू तिवारी, केसरिया से राजद विधायक डॉ.राजेश कुमार, कल्याणपुर से भाजपा विधायक सचिन्द्र प्रसाद सिंह, पीपरा से भाजपा के श्यामबाबू यादव, मधुबन से भाजपा विधायक राणा रणधीर, चिरैया से भाजपा के ही लालबाबू प्रसाद, ढाका से राजद के फैसल रहमान, नरकटिया से राजद के डॉ.शमीम अहमद. मोतिहारी से भाजपा के प्रमोद कुमार क्षेत्र में नहीं हैं.

मोतिहारी के कई इलाकों में बाढ़ का कहर, अधिकतर सांसद और विधायक इलाके में नहीं हैं मौजूद

Loading...

11 लोगों की मौत के बाद भी नहीं पहुंचे सांसद
बिहार में बाढ़ से दूसरा सबसे अधिक प्रभावित जिला सीतामढ़ी है. यहां भी 11 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं, लेकिन सीतामढ़ी सुनील कुमार पिंटू और शिवहर की सांसद रमा देवी, दोनों ही अपने क्षेत्र से गायब हैं. रही बात विधायकों की तो सीतामढ़ी के शहर के विधायक सुनील कुशवाहा की भी कोई गतिविधि नहीं है. सुरसंड से अबू दुजाना भी गायब हैं.

हालांकि एक दो विधायक क्षेत्र में मौजूद हैं जिनमें विधायक अमित कुमार टुन्ना पीड़ितों की सेवा में लगे हैं. वहीं परिहार की विधायक गायत्री देवी इलाके में तो हैं, लेकिन मदद के नाम पर उनके द्वारा कुछ खास नहीं कर रही हैं.

मधुबनी के अधिकतर विधायक पटना में
मधुबनी जिले में 2 लोकसभा सीट है यहां मधुबनी सीट से सांसद डॉ अशोक यादव दिल्ली में हैं जबकि झंझारपुर के सांसद रामप्रीत मंडल 14 जुलाई को क्षेत्र में किए गए उनके विरोध के बाद दिल्ली लौट गए हैं.

यहां के 10 में से 8 विधानसभा क्षेत्र बाढ़ से प्रभावित हैं. झंझारपुर के राजद विधायक गुलाब यादव(राजद)14 जुलाई को क्षेत्र में थे, लेकिन फिलहाल वे पटना में हैं. फुलपरास की एमएलए गुलजार देवी पटना में हैं. खजौली के राजद विधायक सीताराम यादव, बाबूबरही के जदयू एमएलए कपिलदेव कामत, राजनगर के बीजेपी एमएलए रामप्रीत पासवान, बेनीपट्टी की कांग्रेस विधायक भावना झा, हरलाखी के विधायक सुधांशु शेखर, बीजेपी MLC बिनोद नारायण झा, कांग्रेस MLC प्रेमचंद्र मिश्रा, बीजेपी.MLC सुमन महासेठ अपने क्षेत्र में नहीं हैं. लौकही विधानसभा जे जदयू के लक्ष्मेश्वर राय सोमवार को पहुंचे हैं.

दरभंगा के सांसद भी गायब
दरभंगा से सांसद गोपाल जी ठाकुर क्षेत्र में नहीं रहकर दिल्ली में हैं. वहीं अलीनगर के राजद विधायक
अब्दुलबारी सिद्दीकी भी पटना में ही हैं. मदन सहनी भी अपने क्षेत्र में नहीं हैं.

अररिया में लापता विधायकों की फौज
जिले के 106 पंचायत बाढ़ प्रभावित हैं, लेकिन नरपतगंज से राजद विधायक अनिल यादव, फारबिसगंज से भाजपा विधायक मंचन केसरी, सिकटी से बीजेपी विधायक विजय मंडल, रानीगंज से जदयू विधायक पटना में हैं.

हालांकि अररिया के भाजपा सांसद प्रदीप कुमार सिंह इलाके में मौजूद हैं. वे बाढ़ प्रभावित फारबिसगंज, नरपतगंज, जोकीहाट और पलासी का दौरा कर चुके हैं और राहत कार्य पर नजर रख रहे हैं. जोकीहाट से राजद विधायक शहनवाज आलम, अररिया से कांग्रेस विधायक आबिदुर्रहमान भी अपने क्षेत्र में हैं.

बिहार के अररिया जिले के जोकीहाट प्रखंड की तस्वीर


किशनगंज के सांसद भी लापता
वहीं किशनगंज के कांग्रेस सांसद मोहम्मद जावेद भी अपने क्षेत्र से लापता हैं. पूर्णिया में बायसी के विधायक हाजी अब्दुस सुबहान अपने क्षेत्र में नहीं हैं. हालांकि अमौर के विधायक अब्दुल जलील मस्तान अपने इलाके में है.

बिहार के पूर्णिया जिले के बायसी प्रखंड के एक गांव की तस्वीर


सहरसा के महिषी से राजद के विधायक अब्दुल गफ्फूर भी गायब हैं. वहीं कटिहार में कदवा के विधायक शकील अहमद खान और सांसद दुलाल गोस्वामी क्षेत्र में मौजूद हैं.

नेटवर्क इनपुट

ये भी पढ़ें-


नीतीश बोले- फ्लैश फ्लड से बिगड़े हालात लेकिन हम सजग और सतर्क हैं




बाढ़ पर संग्राम: राबड़ी बोलीं- जब सरकार कुछ नहीं देगी तो लोग चूहा ही खाएंगे ने

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अररिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 16, 2019, 2:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...