मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस: ब्रजेश ठाकुर सहित सभी पर आरोप तय, 3 अप्रैल से नियमित सुनवाई
Patna News in Hindi

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस: ब्रजेश ठाकुर सहित सभी पर आरोप तय, 3 अप्रैल से नियमित सुनवाई
फाइल फोटो

मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के विरुद्ध 20 विभिन्न धाराओं के तहत कोर्ट ने आरोप तय किए हैं. इस केस की रोजाना ट्रायल तीन अप्रैल से शुरू होगी और उस दिन गवाहों के बयान दर्ज होंगे.

  • Share this:
मुजफ्फपुर शेल्टर होम यौन उत्पीड़न मामले में दिल्ली के साकेत कोर्ट ने सभी आरोपियों के विरुद्ध आरोप तय कर दिए हैं. अब सभी आरोपियों पर यौन उत्पीड़न के साथ आपराधिक साजिश का मुकदमा चलेगा.  पॉक्सो एक्ट की धारा 3,5,6 के समेत अन्य धाराओं के तहत ये केस चलेगा. कोर्ट की सुनवाई के दौरान  मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर समेत अन्य आरोपी अदालत में मौजूद रहे.

बता दें कि मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के विरुद्ध 20 विभिन्न धाराओं के तहत कोर्ट ने आरोप तय किए हैं.  पॉक्सो एक्ट सेक्शन 5, जिसमें न्यूनतम सजा 5 साल और अधिकतम उम्रकैद, पोस्को एक्ट सेक्शन 10, जिसमें न्यूनतम सजा 5 साल और अधिकतम उम्रकैद की सजा और 376 (2), जिसमे न्यूनतम 10 साल और अधिकतम उम्रकैद की सजा का प्रावधान है.

इस केस की रोजाना ट्रायल तीन अप्रैल से शुरू होगी और उस दिन गवाहों के बयान दर्ज होंगे. सुप्रीम कोर्ट ने साकेत कोर्ट से 6 महीने में ट्रायल पूरा करने का निर्देश दिया था. पिछले जुलाई महीने में बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में सरकारी सहायता प्राप्त एक शेल्टर होम में 16 बच्चियों के साथ दुष्कर्म के मामले ने सूबे सहित पूरे देश को हिलाकर रख दिया था.



गौरतलब है कि पीड़ित बच्चियों ने अपने एक साथी की हत्या कर शव को परिसर में दफनाने का आरोप भी लगाया था. वर्ष 2018 के मई में टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज के सोशल ऑडिट के दौरान मामले का खुलासा हुआ था.
ये भी पढ़ें- Bihar Board 12th Result 2019/बिहार बोर्ड रिजल्ट २०१९: आज आएगा 12वीं का रिजल्ट, यहां देखें- अपना Roll Number
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज