अपना शहर चुनें

States

मुजफ्फरपुर पीड़िता के आखिरी शब्द- मैं पढ़ना चाहती थी लेकिन मेरे सपनों को जला दिया, देखें Video

पीड़िता ने इस दौरान कहा- आरोपी ने उसे हमेशा परेशान किया और उसके परिजन को भी धमकियां दीं. (फाइल फोटो)
पीड़िता ने इस दौरान कहा- आरोपी ने उसे हमेशा परेशान किया और उसके परिजन को भी धमकियां दीं. (फाइल फोटो)

पीड़िता ने मौत से पहले न्यूज 18 को बताया अपना दर्द, कहा- पुलिस (Police) ने कोई मदद नहीं की, हर बार जब भी शिकायत की तो कहा- दबंग है नहीं कर सकते कोई कार्रवाई.

  • Share this:
पटना. एक युवती को पांच साल तक आरोपी परेशान करता रहा, उसके साथ हर दिन छेड़खानी और अभद्रता होती थी. फिर एक दिन रेप (Rape) का प्रयास किया. कामयाब नहीं हुआ तो उसे जिंदा जला दिया. करीब दस दिन तक वह जिंदगी की जंग लड़ती रही. फिर हार गई. लेकिन इस वारदात के बाद पीड़िता ने न्यूज 18 के संवाददाता को अपनी पीड़ा बताई. उसने बताया कि कैसे उसे नहीं उसके और परिजनों के सपनों को आग लगा दी गई, कैसे उसने इतने सालों तक इस पीड़ा को सहा और आज वह मौत की कगार पर आ गई, कैसे वह इस तथाकथित 'सिस्टम' का शिकार हुई.

पढ़ना चाहती थी, अब भी पढ़ना चाहती हूं
पीड़ित युवती ने बताया कि वह पढ़ना चाहती थी. लेकिन उसे पढ़ने नहीं दिया गया. उसके रास्ते में हमेशा परेशानियां खड़ी की गईं. जब वह घर से निकलती थी राजा नामक आरोपी उसे परेशान करता था. पीछे-पीछे आता था. वह मेरे टीचर को भी धमकी देता था. मैं पढ़ना चाहती हूं, मेरी मम्मी एनएम की ट्रेनिंग दिलवाना चाहती थीं. मैं भी लोगों की सेवा करना चाहती थी. लेकिन मेरे रास्ते में हमेशा वह खड़ा रहा. घर पर जब मम्मी नहीं होती थीं तो अंदर घुस आता था परेशान करता था. पीड़िता ने बताया कि जिसे घर पर किराए पर रखा उसे भी गालियां देता था और परेशान करता था.





पुलिस ने नहीं की कोई मदद
पीड़िता ने कहा कि पुलिस ने हमारी कोई भी मदद नहीं की. जब भी पुलिस के पास शिकायत लेकर गई हमेशा यही कहा गया कि वह दबंग लोग हैं उनकी शिकायत नहीं ले सकते. साथ ही पीड़िता ने कहा कि पुलिस हमेशा यही कहती रही कि उनके खिलाफ कुछ मत करो नहीं तो दिक्कत होगी. इसके बाद आला अधिकारियों से भी दो बार संपर्क किया गया लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई.

उसे फांसी नहीं हुई तो मार देगा
इसके साथ ही पीड़िता ने अपने परिजनों को भी आरोपी राजा से खतरा बताया. पीड़िता ने कहा कि उसे इसके लिए फांसी की सजा मिलनी चाहिए. यदि वह बच गया तो वह सभी को मार देगा. मुझे इंसाफ चाहिए. कौन दिलवाएगा अब इंसाफ. पीड़िता ने कहा कि आरोपी का बाप भी क्रिमिनल है और इसी वजह से पुलिस भी उससे डरती है और कुछ नहीं करती.

इंसाफ के लिए लड़ते तोड़ा दम
वहीं पीड़िता की मौत के बाद उसकी बहन ने कहा कि मेरी बहन आज घुट घुट कर मर गई. उसने दम तोड़ दिया लेकिन इंसाफ नहीं मिला. अब हम चाहते हैं कि राजा को फांसी की सजा हो. हमें सरकार से और कुछ नहीं चाहिए. बस परिवार की सुरक्षा और आरोपी को सजा ही हमारी इच्छा है.

क्या था मामला
आरोपी युवक राजा पिछले 5 वर्षों से लगातार पीड़िता को परेशान कर रहा था. इसके बाद आरोपी ने पीड़िता से 7 दिसंबर को रेप का प्रयास किया था लेकिन सफल नहीं होने पर उसने उसे जिंदा जला दिया था. बाद में पीड़िता को अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. हालत बिगड़ती देख उसे पटना रेफर किया गया. 90 फीसदी से ज्यादा जल चुकी पीड़िता ने दस दिन तक मौत से लड़ने के बाद सोमवार देर रात दम तोड़ दिया.

 

ये भी पढ़ें - 

मुजफ्फरपुर की पीड़िता की मौत के बाद पटना में बवाल, रेल और सड़क परिचालन बाधित
पटना में जगह-जगह लगे CM नीतीश कुमार के 'लापता' होने के पोस्टर, सकते में पुलिस
मुजफ्फरपुरः रेप नहीं कर सका तो जिंदा जलाया था, पीड़िता ने अस्पताल में तोड़ा दम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज