लाइव टीवी

पटना: शहर में अपराधी मस्‍त, पुलिस त्रस्‍त, बैन नक्‍सली संगठन द्वारा रंगदारी मांगने से मचा हड़कंप

Sanjay Kumar | News18 Bihar
Updated: November 29, 2019, 11:44 PM IST
पटना: शहर में अपराधी मस्‍त, पुलिस त्रस्‍त, बैन नक्‍सली संगठन द्वारा रंगदारी मांगने से मचा हड़कंप
नक्सली संगठन ने पटना के कारोबारियों से मांगी रंगदारी.

पटना में सरकार (Government) और प्रशासन (Administration) की नाक के नीचे अपराधी मस्त हैं. जबकि प्रतिबंधित नक्सली संगठन एमसीसी (Naxalite Organization MCC) के नाम पर 20-20 लाख रुपए की रंगदारी मांगने से कारोबारियों और पुलिस में हड़कंप मच गया है.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: November 29, 2019, 11:44 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार की राजधानी पटना में सरकार (Government) और प्रशासन (Administration) की नाक के नीचे अपराधी मस्त हैं, तो पुलिस लगातार होने वाले अपराधों से त्रस्त नजर आ रही है. हत्या, लूट और रंगदारी से पटना का कारोबारी पेरशान है. शायद ही कोई ऐसा दिन हो जब कारोबारियों (Businessmen) के साथ राजधानी में अनहोनी की वारदात ना घटती हो. पश्चिमी पटना के नौबतपुर से लेकर बिहटा तक की बात हो या फिर पू्र्वी पटना के पटना सिटी से लेकर गौरीचक तक की, इन इलाकों में कोई व्‍यापारी महफूज नहीं है. जबकि गौरीचक थाना क्षेत्र के केसारी इलाके में नक्सली संगठन के नाम पर कारोबारियों से लाखों रुपए रंगदारी मांगने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. चुन्नू साव नामक कारोबारी ने बताया कि उनसे प्रतिबंधित नक्सली संगठन एमसीसी (Naxalite Organization MCC) के नाम पर 20-20 लाख रुपए की रंगदारी मांगी गई है. इस दौरान कारोबारी ने पुलिस को रंगदारी मांगने वाले के दोनों मोबाइल नंबर की जानकारी भी दी.

कारोबारी ने कही ये बात
स्थानीय कारोबारी चुन्नू साव की मानें तो उनसे नवबंर महीने में नक्सली संगठन एमसीसी के नाम पर तीन बार रंगदारी मांगी जा चुकी है. हालांकि साव यह परेशानी झेलने वाले वह अकले कारोबारी नहीं हैं बल्कि उनके जैसे कई करोबारियों से इसी तरह से फोन कर लगातार रंगदारी की मांगी जा रही है. फिलहाल रंगदारी की घटना को लेकर गौरीचक थाना में केस दर्ज करा दिया गया है, लेकिन धमकी देने वाले पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं.

बिहार तैलिक साहू सभा ने जताई चिंता

कारोबारियों के साथ लागातर हो रही घटना पर बिहार तैलिक साहू सभा ने गंभीर चिंता जाहिर की है. आज शाम कारोबारियों ने बिहार के डीजीपी से मिलकर अपनी सुरक्षा की गुहार लगाई है. जबकि डीजीपी गुप्‍तेश्‍वर पांडेय (DGP Gupteshwar Pandey) ने कारोबारियों को आश्वस्त किया है कि उन्हें हर हाल में सुरक्षा उपलब्‍ध करायी जाएगी और आरोपियों गिरफ्तार किया जाएगा. डीजीपी चाहे जो आश्वासन दें, लेकिन रंगादरी की इस घटना ने साबित कर दिया है कि पटना पुलिस की इज्‍जत दांव पर है और उसका खौफ खत्म होता दिखाई दे रहा है.

ये भी पढ़ें-

आमरण अनशन के दौरान RLSP सुप्रीमो उपेन्द्र कुशवाहा की तबियत बिगड़ी, समर्थकों ने किया हंगामा
Loading...

पूर्णिया: पुलिस को मिली बड़ी सफलता, अन्तर्राज्यीय गिरोह के 7 डकैत गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 29, 2019, 11:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...