Assembly Banner 2021

बिहार में बीजापुर जैसी साजिश दोहराने के फिराक में थे नक्सली, सुरक्षाबलों ने किया नाकाम

जवानों ने आईईडी बरामद कर उसे डिफ्यूज कर दिया.

जवानों ने आईईडी बरामद कर उसे डिफ्यूज कर दिया.

Naxal Attack Planning in Bihar: बिहार में छत्तीसगढ़ के बीजापुर हमले जैसे बड़ी साजिश के फिराक में नक्सली थे. कोबरा और सीआरपीएफ के जवानों ने उनके मनसूबों पर पानी फेर दिया.

  • Share this:
जमुई. बिहार (Bihar) के जमुई जिले के सदर अनुमंडल इलाके के लक्ष्मीपुर प्रखंड के जंगल नक्सली (Naxali) बड़ी वारदात के फिराक में थे. नक्सलियों के बड़े मंसूबे को कोबरा 207 और सीआरपीएफ 215 बटालियन के जवानों ने विफल कर दिया है. सर्च अभियान में कोबरा के जवानों ने भीम बांध जंगल के चोरमारा तथा भट्ठाकोल गांव के पास पहाड़ पर लगे 50 किलो का दो अलग-अलग आईईडी बम को बरामद किया है. बरामद आईईडी बम का वजन 30 किलो और 20 किलो बताया गया है. बम बरामद होने के बाद सुरक्षाबलों ने उसे जंगल में ही विस्फोट कर नष्ट कर दिया है. बताया जा रहा है कि नक्सली जंगल में आईईडी बम को इसलिए लगा कर रखा था की सर्च अभियान के द्वारा पुलिस बलों को निशाना बनाया जा सके. नक्सलियों द्वारा सुरक्षाबलों को अंबुस में फंसा कर भारी नुकसान पहुंचाने की योजना पर कोबरा 207 बटालियन के जवानों ने पानी फेर दिया है.

बताया जा रहा है कि छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए घटना से प्रेरित नक्सलियों ने जमुई और मुंगेर के सीमावर्ती इलाके के भीम बांध जंगल में भी सुरक्षा बलों को अंबुस जोन में फंसा कर आईईडी बम ब्लास्ट का नुकसान पहुंचाने की योजना थी.

जवानों को मिली बड़ी कामयाबी



जमुई मुंगेर के सीमावर्ती जंगल में सुरक्षाबलों को नुकसान पहुंचाने के लिए प्लांट किए गए बम की सूचना के बाद कोबरा 207 बटालियन के जवानों ने सर्च अभियान शुरू किया था. इस दौरान बुधवार की दोपहर चोरमारा और भट्ठाकोल पहाड़ी के पास अलग-अलग दो जगहों पर एक जगह 30 किलो और दूसरे जगह 30 किलो का एंटी हैंडलिंग आईडी बम और पावर सोर्स कमांड आईईडी बम को लगाया गया था. सुरक्षाबलों ने इसे बरामद किया और फिर बम निरोधक दस्ता  द्वारा उसे जंगल में ही डिफ्यूज किया गया. इस कार्यवाई में कोबरा 207 बटालियन के अलावा 215 बटालियन सीआरपीएफ एवं बरहट थाना पुलिस भी शामिल थी. नक्सली इलाके में 3 अप्रैल 2021 को छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुई घटना को दोहराने के फिराक में थे.
कार्रवाई के बाद जमुई एसपी प्रमोद कुमार मंडल ने बताया कि जंगल में सुरक्षा बलों को टारगेट बनाने के लिए नक्सलियों ने बम को प्लांट किया था. सूचना के बाद सर्च अभियान चलाकर बरामद कर उसे डिफ्यूज कर दिया गया है. नक्सलियों के खिलाफ लगातार कार्रवाई जारी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज