Patna News: DM का सख्‍त आदेश, सार्वजनिक जगहों पर रामनवमी, छठ पूजा और जुमे की नमाज नहीं

पटना जिला प्रशासन कोरोना गाइडलाइन के पालने के लिए सख्‍त रुख अपना रहा है.

पटना जिला प्रशासन कोरोना गाइडलाइन के पालने के लिए सख्‍त रुख अपना रहा है.

पटना के डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह (Dr. Chandrashekhar Singh) ने कोरोना की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए सार्वजनिक स्थलों पर रामनवमी, छठ पूजा और जुमे की नमाज के आयोजन पर रोक लगा दी है.

  • Share this:
पटना. कोरोना संक्रमण के खतरे के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए पटना में सार्वजनिक स्थलों पर रामनवमी (Rama Navami), छठ पूजा (Chaiti Chhath Puja 2021) और जुमे की नमाज का आयोजन नहीं करने के आदेश जारी किए गए हैं. डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह (Dr. Chandrashekhar Singh) ने यह निर्देश जारी किया है. इस आदेश का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित कराने के लिए डीएम और एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने नगर आयुक्त, एसपी ट्रैफिक, एसपी सिटी, एसपी ग्रामीण और सभी एडीएम, एसडीओ, एसडीपीओ, बीडीओ और सीओ समेत अन्य अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बुधवार को बैठक की.

डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह और एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए जनहित में सार्वजनिक स्थलों पर भीड़भाड़ नहीं लगाने तथा लोगों को सुरक्षित रहते हुए सावधानी से अपने-अपने घरों में ही पूजा आयोजित करने को कहा है, ताकि कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोका जा सके. सरकारी दिशानिर्देश के अनुरूप अभी सार्वजनिक स्थलों पर किसी भी प्रकार के आयोजन पर रोक है. साथ ही सभी धार्मिक स्थल आम जनों के लिए बंद हैं. छठ घाटों पर छठ पूजा का आयोजन करना मना है. इससे संबंधित फ्लेक्स घाटों पर लगाने का निर्देश दिया गया है, ताकि लोगों को पूर्व से ही इसकी जानकारी रहे और लोग सुरक्षित होकर सावधानी से अपने-अपने घरों में ही छठ पूजा करें.

ये भी पढ़ें- Chaiti Chhath Puja 2021: कल से शुरू होगा चैती छठ पर्व, जानिए व्रत के नियम और महत्‍व

नहीं निकलेगा कोई जुलूस
रामनवमी के अवसर पर कोई जुलूस नहीं निकाले जाएंगे. कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए सार्वजनिक स्थल पर रामनवमी पूजा का आयोजन नहीं होगा. अभी रमजान का महीना चल रहा है, तो जुमे की नमाज सार्वजनिक स्थल-मस्जिद में अदा नहीं करनी है, बल्कि लोग अपने अपने घरों में ही नमाज अदा करें. डीएम ने लोगों को जानकारी देने हेतु क्षेत्र में माइकिंग करने, संबंधित हितधारकों के साथ बैठक करने और सार्वजनिक स्थलों पर रामनवमी, छठ पूजा, जुमे की नमाज के आयोजन पर प्रतिबंध संबंधी जानकारी लोगों को देने के साथ कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज