Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    News 18 'E एजेंडा बिहार' : CM बनने का सपना देखना बुरा नहीं- चिराग पासवान

    न्यूज 18 के ई एजेंडा बिहार कार्यक्रम में लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान.
    न्यूज 18 के ई एजेंडा बिहार कार्यक्रम में लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान.

    चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने कहा कि 243 सीटों पर मेरी तैयारी नहीं होगी तो इसका कोई मतलब नहीं बनता है. जीतना और जीत दिलाना दोनों मेरी पार्टी का फर्ज है.

    • Share this:
    पटना. बिहार विधानसभा के चुनाव (Bihar Assembly Elections) में अब चंद महीने ही शेष हैं. ऐसे में सभी राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं. इस कड़ी में देश के सबसे बड़े न्यूज़ नेटवर्क न्यूज़ 18 की ओर से भी चुनावी चर्चा के तहत एजेंडा बिहार कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है. पहली बार डिजिटल प्लेटफॉर्म पर हो रहे इस कार्यक्रम में बिहार के सत्ता और विपक्ष के नेता अपनी राय रख रहे हैं. इसी क्रम में लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने न्यूज 18 बिहार के संपादक प्रभाकर कुमार से विधान सभा चुनाव समेत कई मुद्दों पर चर्चा की. इस दौरान उन्होंने एक बार फिर नीतीश सरकार को कई मुद्दों पर निशाने पर लिया.

    चिराग पासवान ने कहा कि 15 साल पुराने पलायन रोकने के सपने को पूरा करने की जरूरत है बिहार में. मेरे पास बिहार को लेकर कई प्लान हैं और मेरा मानना है कि इस पर चर्चा होनी चाहिए. बिहार में लोजपा सरकार का हिस्सा नहीं, हम समर्थन कर रहे हैं. मैं नीतीश कुमार से बातचीत करता रहा हूं लेकिन जब कार्रवाई नहीं होती है तो मुझे सवाल उठाना लाजमी होता है. क्योंकि जनता मुझसे सवाल पूछती है. मैं भी जानना चाहता हूं कि सरकार की क्या योजनाएं हैं.

    लोजपा अध्यक्ष ने कहा कि बिहार में कई काम होने बाकी है. मैंने लोगों के बीच जाकर ही ये सवाल पूछा है और लोगों से बात की है. बिहार में चीजें और बेहतर करने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि  मैंने एक साल पहले ही बिहार फर्स्ट और बिहारी फर्स्ट यात्रा की थी. मेरे पास विजन भी है न कि केवल समस्याएं ही नहीं है. मेरे सवालों को चुनाव से जोड़कर उठाना सही नहीं है.



    उन्होंने कहा कि चिराग और लोजपा प्रेशर पॉलिटिक्स नहीं करती. सीएम के चेहरे पर मैं कोई टिप्पणी नहीं करूंगा. लोजपा-भाजपा का गठबधन पुराना है. मैं अपनी पार्टी के मेनिफेस्टो पर काम कर रहा हूं. सीएम के फेस पर बीजेपी ने निर्णय लिया और हमने इस फैसले का स्वागत किया है. बिहार के विकास के बारे में सोचता हूं इसलिए सीएम का सपना देखना बुरा नहीं.
    चिराग ने कहा कि सीट बंटवारे को लेकर दबाव नहीं करती है लोजपा, मेरे लिए संख्या मायने नहीं रहा लेकिन लोगों के सवाल मायने रखे हैं. 243 सीटों पर मेरी तैयारी नहीं होगी तो इसका कोई मतलब नहीं बनता है. जीतना और जीत दिलाना दोनों मेरी पार्टी का फर्ज है. अगर सभी जिलों में मेरे समर्थक नहीं होंगे तो एनडीए के सहयोगियों को लाभ कैसे मिलेगा.

    हालांकि सीट शेयरिंग के सवाल उन्होंने टालते हुए कहा कि इसका निर्णय गठबंधन के लोग लेंगे और सही समय पर इसकी जानकारी दी जाएगी. लोजपा हर तरीके से बीजेपी के साथ है और गठबंधन अटूट है. जेडीयू के नेता अगर मेरी चिंता कर रहे हैं तो ये मेरे लिए सौभाग्य की बात है.

    मांझी के एनडीए में वापसी के कयासों पर उन्होंने कहा कि मेरे लिए मांझी जी परिवार के सदस्य जैसे हैं. उनके आने से मुझे कोई खतरा नहीं. राजनीति की मुख्य धारा में वंचित समाज के जितने लोग आएं उतना बेहतर है. कांग्रेस से करीबी की खबरों को नकारते हुए उन्होंने कहा कि प्रशांत किशोर से मेरी करीबी नहीं बल्कि राजनीतिज्ञ के नाते दोस्ती है.

    चिराग ने कहा कि लोजपा में हर निर्णय संसदीय कमिटी लेती है. पार्टी में मेरी कोई मनमानी नहीं है. मैं युवा हूं लेकिन मेरी पार्टी के नेता काफी अनुभवी हैं. तेजस्वी के जवानी के आडवाणी वाले बयान पर प्रतिक्रिया देने से बचे. राजद में मची टूट सांवैधानिक तरीके से हुई है आज के दौर में सबको साथ बांधकर रखना मुश्किल है.

     

     

     

     
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज