Bihar News: शादी समारोह पर प्रशासन का पहरा, कोरोना ने फिर बिगाड़ा खेल, जानें पूरा मामला

कोरोना संक्रमण को देखते हुए शादी समारोह पर एक बार फिर संकट है.

कोरोना संक्रमण को देखते हुए शादी समारोह पर एक बार फिर संकट है.

नीतीश सरकार (Nitish Government) ने शादी समारोह के लिए नई कोरोना गाइडलाइन जारी कर दी हैं. जबकि कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से एक बार फिर शादी समारोह पर खतरा मंडराने लगा है.

  • Share this:
पटना. शादी का लगन शुरू होने से पहले ही कोरोना ने एक बार फिर से खलल डालना शुरू कर दिया है. बिहार में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामले को देखते हुए नीतीश सरकार (Nitish Government) ने शादी समारोह के लिए नई कोरोना गाइडलाइन जारी (New Corona Guideline) कर दी है. इसके तहत समारोह में अधिकतम ढाई सौ लोग या फिर मैरिज हॉल की क्षमता के अनुरूप आधी संख्या में ही लोग शामिल हो सकते हैं. प्रशासन के इस पहरे से मांगलिक कार्य से जुड़े सभी लोग परेशान हो गए हैं. खासकर उन दूल्हों की हालत वाकई बहुत खराब है जो साल भर से सेहरा बांधकर घोड़ी पर चढ़ने के लिए बेताब हैं.

हम आपको एक ऐसे ही दूल्हे की कहानी सुनाएंगे जो न सिर्फ पिछले एक साल से अपनी शादी की बाट जोह रहा है बल्कि कोरोना के चक्कर में उसको लाखों का चूना भी लग गया है. यह दूल्‍हा पिछले एक साल से शेरवानी सिला रहा है. यही नहीं, साल 2020 में भी कुछ इसी तरह से दूल्हे राजा ने अपनी शादी के लिए टेलर के पास कपड़े और शेरवानी का माप दिया था, शेरवानी बन गई थी, तभी अचानक से लॉकडाउन लग गया और फिर शादी आगे बढ़ गई. और जब साल भर बाद फिर से दूल्हे राजा शेरवानी पहनकर घोड़ी चढ़ने को बेसब्र होने लगे हैं तो फिर से कोरोना ने दस्तक दे दी है. ऐसे में फिर से शादी पर कोरोना का संकट मंडराने लगा है.

दूल्हे राजा ने अपनी शादी रचाने के लिए साल भर के भीतर लाखों खर्च कर डाले हैं. फिर भी अब तक शादी नहीं हो पाई है. दूल्हे ने शेरवानी सिलाने के साथ बैंड बाजों की बुकिंग भी करा ली है. यही नहीं, मैरिज हॉल भी बुक करा लिया, लेकिन एक बार फिर से कोरोना के एक स्ट्रोक ने परेशान कर दिया है. बावजूद दूल्हे राजा को अपनी दुल्हन से मिलने और घोड़ी चढ़ने की इतनी बेताबी है कि ये फिर से हिम्मत जुटाकर शेरवानी सिलाने और शादी की तैयारी में जुट गए हैं.

Nitish Kumar, Bihar Government, New Corona Guideline, Bihar News, Coronavirus,नीतीश कुमार, बिहार सरकार, नई कोरोना गाइडलाइन, बिहार न्‍यूज़, कोरोनावायरस
अब शादी में अधिकतम ढाई सौ लोग या फिर मैरिज हॉल की क्षमता के अनुरूप आधी संख्या में ही लोग शामिल हो सकते हैं.

इसलिए दुबारा सिला रहे हैं शेरवानी

अब जरा ये भी जान लीजिए कि दूल्हे राजा दुबारा टेलर के पास कपड़े का माप क्यों दे रहे हैं. दरअसल पूरा मामला ये है कि दूल्हे राजा का साल भर में पेट बढ़ गया है वो भी एक-दो नहीं पूरे 3 इंच है. यानी लॉकडाउन में शायद दूल्हे राजा ने खूब दबा के खाया है अब पेट तो कटवा नहीं सकते तो शेरवानी को ही फिर से सही करवा रहे हैं. सच में इस कोरोना ने दूल्हे राजा को दुखी कर दिया है.

6 मई 2020 को होनी थी शादी, लेकिन...



अब जरा ये भी जान लीजिए कि दूल्हे राजा यानी सतीश शर्मा की शादी कब तय हुई है. इसी महीने के 26 तारीख यानी 26 अप्रैल 2021 को सतीश शर्मा की शादी मोकामा के नजदीक मरांची में तय हुई है. जबकि आज से ठीक 1 साल पहले इनकी बारात इसी घर में 6 मई को जाने वाली थी, लेकिन कोरोना और लॉकडाउन ने इनकी सारी तैयारियों पर पानी फेर दिया. कोरोना की मार अकेले दूल्हे राजा को ही नहीं लगी है बल्कि उनका टेलर भी कोरोना के मारे आंसू बहा रहा है. साल भर पहले जिन्होंने ऑर्डर देकर सूट सिलाया था वो दुबारा लौटकर नहीं आए. कोरोना की मार से पंडित जी भी अछूते नही हैं.

पिछले 72 घंटे में जिस तरह से कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं इसमें कोई संदेह नहीं कि आने वाले दिनों में अगर हालत नहीं सुधरे तो सरकार और जिला प्रशासन को कोई बड़ा कदम उठाना पड़ सकता है. हालांकि जिला प्रशासन तत्काल लॉकडाउन लगाने के पक्ष में नहीं है, लेकिन प्रशासन ने शादी समारोह पर पहरा लगाते हुए उनके लिए नई गाइडलाइंस जरूर जारी कर दी हैं. इसके बाद से मांगलिक कार्यों से जुड़े लोगों को अभी से ही परेशानियां झेलनी पड़ रही हैं. मसलन कोरोना के बढ़ते मामले और कोरोना के गाइडलाइंस के चलते लोग मैरिज हॉल की बुकिंग और बैंड बाजे की एडवांस बुकिंग करने से कतरा रहे हैं. दूल्हे राजा को तो शादी रचाने और केवल घोड़ी पर चढ़ने का दर्द है लेकिन असलियत में कोरोना की असली मार तो गरीब बैंड बाजे वालों पर ही पड़ रही है. करीब एक साल से ये लोग अच्छे दिनों के इंतजार में हैं, लेकिन कोरोना के नए स्ट्रेन ने इन सबको अब मायूस कर दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज