बिहार के स्वास्थ्य और संविदा कर्मियों को नीतीश सरकार ने दिया तोहफा, पढ़ें पूरी खबर

सीएम नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

Bihar News: बिहार में संविदा और एजेंसी के जरिए कार्यरत कर्मचारियों की कुल संख्या 12 लाख से अधिक है ऐसे में सरकार के इस फैसले का सीधा लाभ सभी को मिलेगा.

  • Share this:
पटना. बिहार में जारी कोविड-19 और लॉकडाउन (Lockdown) के बीच राज्य के नियमित, संविदा तथा एजेंसी के माध्यम से कार्यरत कर्मियों को भी वेतन मिलेगा. सकरार ने मई 2021 का वेतन भुगतान करने का फैसला लिया है. मार्च, अप्रैल, मई और जुलाई 2020 में लिए गए निर्णय को आधार मानते हुए इस बार भी लॉकडाउन में मई महीने का पूर्ण वेतन व मानदेय देने का निर्णय लिया गया है. दरअसल कोरोना संक्रमण (Corona Pandemic) को देखते हुए राज्य में लगे लॉकडाउन के तहत सरकारी कर्मचारियों को भी सीमित संख्या में कार्यालय बुलाया जा रहा है, ऐसे में हजारों सरकारी कर्मचारी कार्यालय आने में असमर्थ रहे हैं.

12 लाख से अधिक हैं कर्मी

इस कारण से नियमित कर्मियों के साथ ही संविदा और एजेंसी के जरिए कार्यरत कर्मचारियों की भी हाजिरी दर्ज नहीं हो सकी है. राज्य में ऐसे कर्मचारियों की कुल संख्या 12 लाख से अधिक है. राज्य सरकार ने ऐसे कर्मियों को बड़ी राहत दी है. सरकार ने ऐसे सभी कर्मचारियों को मई का वेतन देने का फैसला लिया है और मंगलवार को इसका आदेश भी जारी कर दिया गया. मिलेगा पूरा वेतन

डॉक्टर और स्वास्थ कर्मी को बड़ा तोहफा

दूसरी तरफ स्वास्थ विभाग ने संविदा पर कोरोनाकाल में नियोजित चिकित्साकर्मियों के मानदेय में बढ़ोतरी कर दी है. संविदा पर कार्यरत 30 अलग-अलग पदों के कर्मियों के लिए नये दर पर मानदेय का पुनर्निधारण किया गया है. इसके अलावे चिकित्सा महाविद्यालयों के पीजी स्टूडेंटस के मानदेय में भी बढ़ोतरी की गई है.

कितना होगा मानदेय

रेजिडेंट ओर ट्यूटर के प्रथम वर्ष के छात्र को अब 60 हजार की जगह 85 हजार, द्वितीय वर्ष के छात्र को 65 हजार की जगह 90 हजार और तृतीय वर्ष के छात्र को 70 हजार की जगह 95 हजार पुनरीक्षित मानदेय प्राप्त होगा. अन्य 30 पदों में प्रयोगशाला प्रावैद्यिकी, लैब टेक्नीशियन, शल्य कक्ष सहायक, बुनियादी स्वास्थ्य कार्यकर्ता, परिधापक, एक्स-रे मैकेनिक, वरीय रेडियो ग्राफर, ईसीजी ऑपरेटर, दंत स्वास्थ्य विज्ञानी, कुर्सी साइड परिचारक, फोटोग्राफर, कलाकार, प्रोगामर, गोल्ड वर्क डेंटल मैकेनिक, जनसंपर्क अधिकारी, सहायक लाइब्रेरियन, लाइब्रेरियन, प्राचार्य के सचिव, स्वागती, एसी टेक्नीशियन, शारीरिक निदेशक, विद्युत सहायक एवं पुरूष कक्ष सेवक के मानदेय में भी बढ़ोतरी किया गया है।