लाइव टीवी

कोरोना संकट के लिए नीतीश सरकार ने खोला खजाना, 100 करोड़ की राशि से बनेंगे राहत केंद्र
Patna News in Hindi

News18 Bihar
Updated: March 26, 2020, 1:42 PM IST
कोरोना संकट के लिए नीतीश सरकार ने खोला खजाना, 100 करोड़ की राशि से बनेंगे राहत केंद्र
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार. (फाइल फोटो)

कोरोना (Corona) और लॉकडाउन (Lockdown in Bihar) के बीच बिहार में 100 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले इन आपदा राहत केंद्रों में ऐसे गरीब लोगों की भोजन और आवास की व्यवस्था की जाएगी साथ ही वहां उनके स्वास्थ्य जांच की भी सुविधा होगी.

  • Share this:
पटना. कोरोना वायरस (Corona Virus) की समस्या से जूझ रहे बिहार के लोगों के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने बड़ी राहत की घोषणा की है. मुख्यमंत्री राहत कोष से गुरुवार को बिहार सरकार ने ₹100 करोड़ की राशि जारी करने की घोषणा की. इस राशि का उपयोग लॉकडाउन (Lockdown) के कारण बिहार में फंसे मजदूर, रिक्शा चालक, ठेला वेंडर एवं अन्य गरीबों के लिए आपदा राहत केंद्र बनाने में किए जाएंगे.

एक ही जगह होगी रहने और खाने की सुविधा

इन आपदा राहत केंद्रों में ऐसे गरीब लोगों की भोजन और आवास की व्यवस्था की जाएगी साथ ही वहां उनके स्वास्थ्य जांच की भी सुविधा होगी. इसके साथ ही वैसे लोग जो बिहार के बाहर फंसे हुए हैं या रास्ते में है उन्हें स्थानीय आयुक्त के माध्यम से संबंधित राज्य सरकार एवं स्थानीय प्रशासन से समन्वय कर वहीं पर भोजन एवं आवास की व्यवस्था बिहार सरकार के खर्चे पर भी की जा रही है.



कोरोना की रोकथाम की भी होगी व्यवस्था



बिहार सरकार द्वारा बाहर फंसे लोगों के लिए भोजन और रहने के साथ ही आपदा राहत केंद्रों पर कोरोना वायरस में संक्रमण की रोकथाम के लिए संबंधित सेवाएं भी उपलब्ध रहेंगी. बिहार सरकार ने सरकार ने दिल्ली में मौजूद बिहार सरकार के पदाधिकारियों को यह निर्देश दिया है कि वहां फंसे हुए बिहार के मजदूरों को तत्काल राहत पहुंचाई जाए. बता दें कि देश की राजधानी में काम करने वाले तकरीबन 250 से ज्यादा मजदूरों ने श्रम विभाग को फोन कर मदद की गुहार लगाई है.

पंजाब में भी फंसे हैं बिहार के मजदूर

अररिया जिले के नरपतगंज के रहने वाले मजदूरों ने एक वीडियो भेज कर पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम नीतीश कुमार से मदद मांगी है. वीडियो के माध्यम से मदद की गुहार लगाने वाले ये सभी मजदूर बिहार के अररिया के रहने वाले हैं और दिल्ली समेत पंजाब में मजदूरी का काम करते हैं.


लॉकडाउन के दौरान अघोषित कर्फ्यू वाले हालात में फंसे मजदूरों ने पंजाब के एक शहर से इस वीडियो को भेजते हुए पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम नीतीश कुमार से मदद मांगी है. उन्‍होंने कि हमारी मदद करें. दस की संख्या में इन मजदूरों ने अपने घरों की स्थिति को दिखाते हुए बताया है कि राशन से लेकर गैस सिलेंडर तक खाली है और ऐसे समय में हमारी मदद मालिक भी नहीं कर पा रहा है.





News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 1:27 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading