JDU Virtual Rally: कोरोना से लेकर करप्शन तक, जानें नीतीश कुमार के भाषण की 10 बड़ी बातें
Patna News in Hindi

JDU Virtual Rally: कोरोना से लेकर करप्शन तक, जानें नीतीश कुमार के भाषण की 10 बड़ी बातें
पटना में जेडीयू की वर्चुअल रैली को संबोधित करते नीतीश कुमार

पटना में जेडीयू दफ्तर में आयोजित इस डिजिटल रैली को पार्टी ने चुनावी आगाज का रूप दिया है. नीतीश कुमार ने अपने संबोधन में लालू परिवार के करप्शन से लेकर चंद्रिका राय और उनकी बेटी के साथ हुई घटना का भी जिक्र किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 7, 2020, 3:39 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार में जारी चुनावी सरगर्मी के बीच सीएम नीतीश कुमार ने सोमवार को पटना में जनता दल यूनाइटेड की ओर से चुनावी प्रचार का आगाज किया. डिजिटल प्लेटफॉर्म से हुई इस वर्चुअल रैली के माध्यम से नीतीश कुमार ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं समेत बिहार की जनता को संबोधित किया. नीतीश ने अपने संबोधन में लालू-राबड़ी शासन काल से लेकर कोरोना वायरस और बिहार में आई बाढ़ की समस्या तक पर बिंदुवार चर्चा की, हालांकि इस दौरान निशाने पर नीतीश कुमार लगातार लालू और तेजस्वी समेत अपने विपक्षियों को लेते रहे.

नीतीश कुमार ने पिछले 15 सालों की तुलना को विकास का पैमाना दिया तो वहीं लालू राबड़ी शासनकाल की खामियां भी लोगों को गिनाई. उन्होंने कहा कि बिहार में आज कोरोना वायरस की रफ्तार काफी कम है साथ ही अपराध समेत अन्य मसलों पर भी पहले से हालात काफी बेहतर हुए हैं. उन्होंने सड़कस, बिजली पानी समेत लॉ एंड ऑर्डर का हवाला देते हुए अपनी बातों को जनता के समक्ष रखा. ऐसे में न्यूज़ 18 हिन्दी आपको बता रहा है नीतीश कुमार की वर्चुअल रैली की 10 बड़ी बातें
नीतीश कुमार ने कहा कि कुछ लोग आलोचना करते रहते हैं, बोलते रहते हैं लेकिन हमने शुरुआत से ही कोरोना जांच बढ़ाने के लिए कहा था, आज बिहार में हर दिन 1.50 लाख से ज्यादा जांच हो रही है.
नीतीश कुमार ने कहा कि लालू प्रसाद यादव और राबड़ी देवी के शासन में हालात इतने बुरे थे कि सामूहिक नरसंहार होता था. लोग शाम को चार बजे के बाद निकतले नहीं थे और माओवाद, उग्रवाद जैसे शब्द से बिहार जाना जाता था.
नीतीश कुमार ने जेडीयू की इस रैली में एक बार फिर दोहराया, जब तक हम हैं शराबबंदी लागू रहेगा. शराबबंदी महिलाओं और युवाओं की मांग कर किया गया है
नीतीश कुमार ने नियुक्ति को लेकर राजद पर साधा निशाना. बोले- 1990 से 2005 के बीच नब्बे हज़ार के आसपास नौकरी दी गई थी. हमारे राज में छह लाख से अधिक लोगों को नौकरी दी गई है. इसमें कई विभाग के आंकड़े नहीं जोड़े गए हैं. लोग रोज़गार की बातें कहते हैं. हमें अगली बार मौका मिलेगा तो और कई काम करेंगे. हमने शराबबंदी और नशामुक्ति का काम किया है.
नीतीश कुमार ने कहा कि नई पीढ़ी को बता रहे हैं भूलिएगा मत. सड़क में गड्ढा..गड्ढे में सड़क की स्थिति थी..हमने बड़े पैमाने पर सड़क बनवाने का काम किया. पहले गड्ढे में सड़क है की सड़क में ग़ड्डा कुछ पता नही चलता था, आज राजधानी पहुंचने में महज पांच घंटा लगता है.
नीतीश कुमार ने कहा कि हमारे कार्यकाल में बिहार में 3 मेडिकल कॉलेज बनाये गए, 8 नए बन रहे हैं. केंद्र और राज्य सरकार की मदद से ये मेडिकल कॉलेज बन रहे हैं. कृषि के क्षेत्र में हमारी सरकार ने काम किया है. कृषि का सबसे ज्यादा विकास करना हमारा कर्तव्य है. हम कृषि रोड मैप के जरिये काम कर रहे हैं.
जेडीयू की रैली में नीतीश ने खेला इमोशनल कार्ड, बोले- चंद्रिका राय और उनकी पुत्री के साथ क्या व्यवहार हुआ ? पढ़ी-लिखी लड़की के साथ क्या व्यवहार हुआ? नीतीश कुमार ने कहा कि मैं परिवार के मामलों में नहीं जाना चाहता..लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री के परिवार के साथ क्या व्यवहार हुआ?
नीतीश कुमार ने कहा- शिक्षा के क्षेत्र में हमारी सरकार ने बहुत काम किया है. लोग कुछ भी बोलते हैं. 5 वीं के बाद बच्चियों को स्कूल नहीं भेजा जाता था. 2007 में पोशाक और साईकिल योजना की शुरूआत की थी , तब भी विरोध किया था आज लड़कियां कितने आराम से स्कूल जाती हैं.
नीतीश कुमार बोले- आज घर-घर बिजली पहुंच गई है. अब लोगों को लालटेन की कोई जरूरत नहीं है. नई पीढ़ी को बताइए, पुरानी चीजों को नहीं जानेगा तो गड़बड़ लोगों के चक्कर में फंस जाएगा.
नीतीश कुमार ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर कहा कि उनके परिवार को न्याय जरूर मिलेगा, इसका हमें भरोसा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज