तेजस्वी यादव से लेकर अल्पसंख्यकों के प्लान तक पर बोले नीतीश, पढ़ें NDA के बैठक की इनसाइड स्टोरी

पटना में हुई एनडीए की बैठक में नीतीश कुमार और अन्य

नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने कांग्रेस एमएलसी प्रेमचंद्र मिश्रा के शराबबंदी पर सवाल उठाने और शराब की बिक्री की बात कहने पर नाराजगी ज़ाहिर की और पूछा कि कौन धर्म कहता है कि शराब पीना चाहिए ?

  • Share this:
पटना. बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) में भले ही छह महीने से अधिक समय बचा हो लेकिन सारी पार्टियां चुनावी मोड में आ चुकी हैं. इस कड़ी में एनडीए (NDA) ने भी अपनी तैयारी शुरू कर दी है. विधान मंडल के बजट सत्र के शुरू होते ही नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने एनडीए विधायक दल की महत्वपूर्ण बैठक बुलाई. इस बैठक का मक़सद साफ़ था, विधायकों को ये मैसेज देना कि एक जुटता दिखाए और विरोधियों के हर सवाल का जवाब सरकार के विकास कार्यों का हवाला देकर दीजिए.

तेेजस्वी और राजद पर निशाना

पटना में हुई इस बैठक में नीतीश कुमार ने एनडीए के विधायकों से कई महत्वपूर्ण बातें कहीं. तेजस्वी यादव की रोज़गार यात्रा पर चुटकी लेते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि जिनके राज में तीन-तीन BPSC अध्यक्ष जेल चले गए वो रोज़गार की बात करते हैं. उनके समय में कितनों को रोज़गार मिला और हमने कितनों को रोज़गार दिया, ये तो सब देख रहे हैं. बिहार में कितनी बहाली हुई है, क्या ये लोगों को नहीं दिख रहा है. तेजस्वी को नसीहत देते हुए नीतीश ने कहा कि जिसका पिता जेल में है अगर वो बाहर रहते तो हम जवाब देते, बेटा को क्या जवाब दें.

मुस्तैदी से दें आरोपों का जवाब

नीतीश ने कहा कि अल्पसंख्यकों के लिए हमने बहुत काम किया है और आगे भी करेंगे. आप लोग चिंता मत कीजिए. हम किसी के साथ नाइंसाफ़ी नहीं होने देंगे. भागलपुर दंगा में दंगाइयों को कौन बचा रहा था लेकिन हमने भागलपुर के दंगाइयों पर कार्रवाई की. नीतीश कुमार ने दोनों दलों के विधायकों को पूरी मुस्तैदी से हर आरोप का जवाब देने को कहा साथ ही विधायकों को नसीहत भी दी कि बेवजह बयानबाजी ना करें क्योंकि इससे केवल नुकसान ही होता है.

सामने आई नीतीश की पीड़ा

नीतीश कुमार ने अपनी पीड़ा का भी इज़हार किया और कहा कि बिहार में इतना काम हुआ, मानव श्रृंखला बना लेकिन राष्ट्रीय मीडिया ने जगह नहीं दी वहीं दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने काम बस दस प्रतिशत किया लेकिन प्रचार 90 प्रतिशत हुआ. नीतीश कुमार कांग्रेस एमएलसी प्रेमचंद्र मिश्रा के शराब बंदी पर सवाल उठाने और शराब की बिक्री की बात कहने पर नाराजगी ज़ाहिर की और कहा कि कौन धर्म कहता है कि शराब पीना चाहिए, लोग मुझे बताएं. सबने साथ में मिलकर शपथ लिया लिया था लेकिन अब कुछ लोग शराब बंदी का विरोध कर रहे हैं. यह सदन का अवमानना भी है.

एनडीए विधायकों ने उठाए सवाल

नीतीश कुमार ने कहा कि बजट सत्र के बाद एनडीए के तमाम ज़िला पदाधिकारियों और प्रमुख पदाधिकारियों के साथ महत्वपूर्ण बैठक करेंगे ताकि चुनाव के पहले क्या कमी है उसकी जानकारी मिल सके साथ ही चुनावी रणनीति बनाने में भी मदद मिले. NDA विधान मंडल दल की बैठक में विधायकों ने मांग उठाई की 20 सूत्री जल्द से जल्द बनाया जाए साथ ही विधायकों ने मंत्रालयों से जबाब समय पर ना मिलने की भी की शिकायत की जिस पर मंत्रियों को जवाब देने में काफ़ी परेशानी आई. राशन कार्ड , मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना सहित कई कल्याणकारी योजनाओं में गड़बड़ी की शिकायत भी विधायकों ने सीएम से की.

ये भी पढ़ें- हादसों की सुबह- नवादा और कटिहार में चार लोगों की दर्दनाक मौत

ये भी पढ़ें- दारोगा परीक्षा में गड़बड़ी की CBI जांच की मांग, चिराग ने सीएम नीतीश को लिखा पत्र

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.