अपना शहर चुनें

States

Nitish Cabinet Expansion: थोड़ा इंतजार कीजिए, जल्द ही साफ होगी नीतीश मंत्रिमंडल की तस्वीर

Nitish Cabinet: बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार.
Nitish Cabinet: बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार.

Nitish Cabinet Expansion: बिहार बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल (Sanjay Jaisawal) और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) की मुलाकात के बाद एनडीए सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार जल्द होने के मिले संकेत.

  • Share this:
पटना. बिहार में नीतीश मंत्रिमंडल विस्तार (Nitish Cabinet Expansion) की चर्चा और तेज हो गई है. दरअसल, विस्तार की बातों को कल देर शाम और हवा मिली जब अचानक भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल (Sanjay Jaisawal) और उप मुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद (Tar Kishor Prasad) नीतीश कुमार से मिलने पहुंच गए. बड़े नेताओं के बीच लगभग एक घंटे तक चली मुलाकात के दौरान जेडीयू (JDU) के मंत्री विजय चौधरी भी मौजूद थे. बंद कमरे में हुई इस बैठक के बाद जब भाजपा के नेता बाहर निकले तो पत्रकारों से बातचीत में संजय जायसवाल ने कहा कि यह मुलाकात मित्रवत थी, पहले भी मुलाक़ात होती रही है, इसका कुछ और मतलब न निकालें. लेकिन जब पत्रकारों ने मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर लगातार सवाल पूछा तो जायसवाल बोले कि सोमवार की सुबह का इंतजार कीजिए, जल्द ही तस्वीर साफ हो जाएगी.

पत्रकारों से बातचीत के बाद बीजेपी अध्यक्ष मुस्कुराते हुए चल दिए, और उनकी यही मुस्कुराहट से बिहार में मंत्रिमंडल विस्तार की सुगबुगाहट और तेज हो गई. संजय जायसवाल के चेहरा यह भी बताने के लिए काफी था कि 'मामला फिट' हो गया है. लंबे समय तक अंदरखाने ये चर्चा थी कि मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर मामला फंसा हुआ है. खबर थी कि JDU मंत्रिमंडल में बराबर-बराबर जगह मांग रहा है, लेकिन भाजपा इसके लिए तैयार नहीं है.

दरअसल, इसके पीछे भाजपा की तरफ से ये तर्क दिया जा रहा था कि नीतीश कुमार ने ही मंत्रिमंडल में ये फ़ार्मूला बनाया था कि साढ़े तीन विधायक पर एक मंत्री बनाया जाएगा. यानी इस आधार पर जेडीयू को संख्याबल के हिसाब से 14 मंत्री बनते हैं, लेकिन जेडीयू अब इस फार्मूले पर राजी नहीं है. इधर, मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर हो रहे देरी की वजह से मंत्रियों पर लगातार प्रेशर बढ़ता जा रहा है. इस वजह से विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं.




अब ख़बर ये है कि मंत्रिमंडल में संख्या को लेकर पेंच सुलझ गया है और बहुत जल्द कैबिनेट विस्तार हो जाएगा. खबर ये भी है कि गवर्नर कोटा से MLC का मामला भी सुलझ गया है. यहां भी बराबर-बराबर का मामला सेट होता दिख रहा है. बहरहाल अब नजरें मंत्रिमंडल विस्तार पर निगाहें टिकी हुई हैं कि आखिर किस फॉर्मूले पर सत्तारूढ़ दोनों दलों की सहमति बनी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज