होम /न्यूज /बिहार /जानें वो वजह जिसके कारण नीतीश कुमार ने बदल दिया कार्तिक कुमार का मंत्रालय

जानें वो वजह जिसके कारण नीतीश कुमार ने बदल दिया कार्तिक कुमार का मंत्रालय

बिहार सरकार के मंत्री कार्तिक कुमार का विभाग बदल दिया गया है

बिहार सरकार के मंत्री कार्तिक कुमार का विभाग बदल दिया गया है

Bihar Minister Kartik Kumar: कार्तिक कुमार राजद कोटे से नीतीश सरकार में मंत्री हैं. बिहार की सियासत में लोग उनको कार्ति ...अधिक पढ़ें

पटना. बिहार में नई सरकार के शपथ लेने के एक महीने से भी कम समय में मंत्रिमंडल में बदलाव हुआ है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विवादों में घिरे अपने मंत्री कार्तिक कुमार को लेकर बड़ा फैसला किया. नीतीश कुमार ने उनका विभाग बदल दिया. कार्तिक सिंह अब कानून मंत्री नहीं होंगे. कानून की जगह उन्हें गन्ना उद्योग विभाग की जिम्मेदारी दी गई है. सरकार द्वारा जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक गन्ना उद्योग मंत्री शमीम अहमद अब कानून मंत्री  की जिम्मेदारी संभालेंगे.

दरअसल मंत्रिमंडल में जगह मिलते ही कार्तिक कुमार विवादों में घिर गए थे. उनके ऊपर अपराध से जुड़े मामले में संगीन आरोप लगा था. कार्तिक कुमार पर आरोप था कि उनके खिलाफ कोर्ट से अपहरण के मामले में वारंट जारी है. ऐसे में बीजेपी ने इसको लेकर नीतीश कुमार के नए गठबंधन वाली सरकार पर जमकर हमला बोला था. कार्तिक सिंह पर पटना से सटे बिहटा से 2014 में राजीव रंजन नाम के एक आदमी का अपहरण हुआ था जिसमें उनका भी नाम आया था. उसी मामले में कोर्ट ने संज्ञान लेते हुए कार्तिक कुमार के खिलाफ दानापुर कोर्ट ने वारंट जारी किया है.

कार्तिक सिंह उस मामले में अभी तक ना तो कोर्ट के सामने सरेंडर किये है ना ही जमानत के लिए अर्जी दी है और बिहार सरकार में मंत्री बन गए. इसको लेकर विपक्ष लगातार नीतीश कुमार पर हमला बोल रहा था और आरोप लगा था कि जिनके खिलाफ खुद गिरफ्तारी का वारंट जारी किया जा चुका हो उसे नीतीश कुमार ने कानून मंत्री बना दिया है. इन्हीं आरोपों और सरकार पर विपक्ष के हमले के बाद उनके विभाग को बदल दिया गया है.

मालूम हो कि कार्तिक कुमार राजद के एमएलसी हैं और मोकामा इलाके से आते हैं. कार्तिक कुमार बिहार की राजनीति में छोटे सरकार के नाम से चर्चित मोकामा के पूर्व विधायक अनंत सिंह के खासमखास माने जाते हैं.

Tags: Bihar News, PATNA NEWS

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें