हम की इफ्तार पार्टी: नीतीश कुमार ने मांझी को लगाया गले, क्या बदलेगी बिहार की सियासत ?

मांझी के आवास 12 एम स्‍टैंड रोड पर आयोजित इफ्तार में विरोधी दलों के कई नेताओं ने शिरकत की. इनमें बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी और लालू यादव के बेटे तेजप्रताप यादव भी शामिल रहे.

News18 Bihar
Updated: June 3, 2019, 7:47 PM IST
हम की इफ्तार पार्टी: नीतीश कुमार ने मांझी को लगाया गले, क्या बदलेगी बिहार की सियासत ?
फाइल फोटो
News18 Bihar
Updated: June 3, 2019, 7:47 PM IST
बिहार में इफ्तार की दावत के बहाने सियासत लगातार जारी है. पूर्व सीएम जीतनराम मांझी की इफ्तार पार्टी में जब सीएम नीतीश कुमार पहुंचे तो उन्होंने आगे बढ़कर मांझी को गले लगा लिया. इस दौरान मांझी ने भी आगे बढ़कर सीएम नीतीश कुमार को टोपी पहनाई.

गौरतलब है कि रविवार को जेडीयू की इफ्तार पार्टी में जीतन राम मांझी अचानक पहुंच गए थे. पटना के हज भवन में आयोजित इफ्तार पार्टी में जैसे ही मांझी पहुंचे सीएम नीतीश कुमार ने गर्मजोशी से हाथ मिलाया और उनका स्वागत किया. लंबे अरसेे बाद दोनों नेताओं की इस अंदाज में हुई मुलाकात के राजनीतिक मायने निकाले जाने लगे.

ये भी पढ़ें- रामविलास पासवान के इफ्तार में पहुंचे नीतीश, BJP-JDU नेताओं का लगा जमावड़ा

इसके बाद आज की मुलाकात भी इस सियासी कहानी को ट्विस्ट दे रही है. बता दें कि केंद्रीय मंत्रिपरिषद विवाद को लेकर बिहार का राजनीतिक घटनाक्रम तेजी से बदल रहा है. न सिर्फ सिलसिलेवार तरीके से बयान आ रहे हैं, बल्कि मुलाकातों का सिलसिला भी शुरू हो गया है. इस क्रम में दो दिनों के भीतर मांझी और नीतीश की दो बार मुलाकात को लेकर अटकलों को हवा मिल रही है.

जीतनराम मांझी की इफ्तार दावत में सीएम नीतीश कुमार और विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी


बता दें कि मांझी के आवास 12 एम स्‍टैंड रोड पर आयोजित इफ्तार में विरोधी दलों के कई नेताओं ने शिरकत की. इनमें बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी और लालू यादव के बेटे तेजप्रताप यादव भी शामिल रहे. हालांकि सीएम नीतीश के आने से पहले ही राबड़ी देवी निकल गईं. हालांकि बाद में मीडिया से बात करते हुए उन्होंने सीएम नीतीश के महागठबंधन में वापसी पर सकारात्मक रुख दिखाया और कहा कि नीतीश कुमार का आना गठबंधन तय करेगा.

जीतनराम मांझी की इफ्तार दावत में तेजप्रताप यादव और राबड़ी देवी

Loading...

मांझी की इफ्तार दावत के दौरान विधान सभाध्यक्ष विजय चौधरी, कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा, पूर्व अध्यक्ष कौकब कादरी आरजेडी के भाई वीरेंद्र, शिवानंद तिवारी, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी और हम के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष वृषण पटेल भी इफ्तार पार्टी में पहुंचे. हालांकि इस दावत से उपेन्द्र कुशवाहा और मुकेश सहनी ने दूरी बनाए रखी.

बहरहाल सीएम नीतीश कुमार और पूर्व सीएम जीतन राम मांझी की जिस अंदाज में मुलाकात हुई ये बिहार में आने वाली सियासत में बड़े उलटफेर का संकेत माना जा रहा है.

इनपुट- रवि एस नारायण

ये भी पढ़ें-

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 3, 2019, 7:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...