• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • बिहार में शराबबंदी: BJP कोटे के मंत्री रामसूरत के कारण कठघरे में नीतीश कुमार

बिहार में शराबबंदी: BJP कोटे के मंत्री रामसूरत के कारण कठघरे में नीतीश कुमार

मंत्री के पिता के नाम पर चल रहे स्कूल परिसर से शराब बरामद होने के बाद शराबबंदी पर घिरे नीतीश कुमार. (फोटोः टि्वटर)

मंत्री के पिता के नाम पर चल रहे स्कूल परिसर से शराब बरामद होने के बाद शराबबंदी पर घिरे नीतीश कुमार. (फोटोः टि्वटर)

Politics on Liquor Ban: बिहार सरकार में बीजेपी कोटे से मंत्री रामसूरत राय के पिता के नाम की जमीन पर चल रहे स्कूल से भारी मात्रा में मिली शराब पर सियासत. नीतीश कुमार के दावों पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने उठाए सवाल.

  • Share this:
पटना. शराबबंदी पर विपक्ष के हमले ने सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया है. आनन-फानन में सीएम नीतीश कुमार सोमवार को मद्य निषेद्य विभाग के अधिकारियों के साथ रिव्यू मीटिंग की. मीटिंग में उन्होंने शराब पीकर घूमने वालों और इसकी खरीद बिक्री करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश भी दिए. शनिवार को विधानसभा के अंदर और बाहर विपक्ष के हंगामे के बाद सरकार रेस हो गई है और कार्रवाई के मूड में है. विपक्ष ने इस मामले में सरकार पर दोहरी नीति अपनाने के आरोप लगाए हैं. साथ ही सदन के अंदर और बाहर इस मामले पर सरकार से कई सवाल किए. साक्ष्य और आवश्यक कागजात पेश कर सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया.

दरअसल, चार माह पहले सरकार में भाजपा कोटे के मंत्री रामसूरत राय के पिता के नाम की जमीन पर चल रहे स्कूल परिसर से भारी मात्रा में शराब मिली थी. इस मामले में पुलिस की कार्रवाई को लेकर पिछले सप्ताह मंगलवार को उत्पाद विभाग के बजट पर चर्चा के दौरान सीपीआईएमएल के अमरजीत कुशवाहा ने सदन में सवाल किए. उनके इस सवाल को कई अखबारों ने छापा और इसके तुरंत बाद चर्चा होने लगी. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने इसमें सक्रियता दिखाते हुए शनिवार की सुबह उस विद्यालय को चलाने वाले अमरेंद्र कुमार के छोटे भाई अंशुल भास्कर को मीडिया के सामने पेश कर दिया.

शराब बरामदगी पर राजनीति

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज