लाइव टीवी

पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा का अनावरण आज, विपक्ष ने पहले ही शुरू कर दी राजनीति
Patna News in Hindi

Neelkamal | News18Hindi
Updated: February 11, 2020, 12:01 AM IST
पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा का अनावरण आज, विपक्ष ने पहले ही शुरू कर दी राजनीति
राजद का कहना है कि देश के महान विभूतियों की प्रतिमा लगाने में कोई हर्ज नहीं है. इससे नई पीढ़ी को इतिहास की जानकारी मिलती है. (फाइल फोटो)

सुबह 11 बजे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के हाथों होने वाले अनावरण के दौरान उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के साथ बिहार सरकार के कई मंत्री और आम लोग मौजूद रहेगें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2020, 12:01 AM IST
  • Share this:
पटना. राजधानी के राजेन्द्र नगर स्थित पार्क में मंगलवार को पंडित दीनदयाल उपाध्याय के आदमकद प्रतिमा का अनावरण होगा. सुबह 11 बजे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के हाथों होने वाले अनावरण के दौरान उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के साथ बिहार सरकार के कई मंत्री और आम लोग मौजूद रहेगें. हालांकि प्रतिमा के अनावरण से पहले ही इसपर विपक्ष ने राजनीति भी शुरू कर दी है.

कई महान विभूतियों के गुण से संपन्न थे पंडित दीनदयाल
भाजपा विधायक और सत्तारूढ़ दल के मुख्य सचेतक अरूण कुमार सिन्हा ने कहा कि उपाध्याय जी के अंदर कई महान व्यक्ति के गुण मौजूद थे. उन्होंने कहा कि उपाध्याय जी की पुस्तक है एकात्म मानववाद जिसका  सार है कि अंतिम सिरे पर खड़ा व्यक्ति जब तक आगे के श्रेणी यामि अग्रणी भूमिका में नही होगा तब तक राष्ट्र आगे नही जाएगा और राष्ट्रीयता और राष्ट्रभक्ति का कोई मतलब नहीं है. उनके अनुसार राष्ट्रनिर्माण का मतलब देश के एक-एक व्यक्ति को चरित्रवान, धनवान, शक्तिवान और विद्यावान बनाना था. उन्होने कहा कि वे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का भी धन्यवाद करते हैं जो ऐसे महान व्यक्ति के पुण्य तिथि पर उन्हे ऐसी श्रद्वांजलि दे रहे हैं.

कांग्रेस ने नीतीश पर साधा निशाना

पंडीत दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा लगाए जाने की खबर पर कांग्रेस का कहना है कि भाजपा और आरएसएस विचारधारा को मानने वाले नीतीश कुमार ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा लगाने में देरी की है. कांग्रेस विधान पार्षद प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और भाजपा की दोस्ती तीस साल पूरानी है. यही वजह है कि नीतीश कुमार अब पूरी तरह से भाजपा और आरएसएस के रंग में रंग चुके हैं. प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि नीतीश कुमार जब भाजपा से अलग हुए थे तब उन्होंने कहा था कि वे संघ मुक्त भारत बनाना चाहते हैं. लेकिन विडंबना देखिए आज उसी संघ विचारक और जनसंघ के पंडीत दीन दयाल उपाध्याय के प्रतिमा का अनावरण कर रहे हैं. कांग्रेस ने कहा कि जनता सब देख और जान रही है, इसका हिसाब वो चुनाव में लेगी.

राजद ने कहा अन्य विभूतियों की भी लगे प्रतिमा
वहीं राजद का कहना है कि देश के महान विभूतियों की प्रतिमा लगाने में कोई हर्ज नहीं है. इससे नई पीढ़ी को इतिहास की जानकारी मिलती है. लेकिन नीतीश कुमार और भाजपा को चाहिए कि वो सिर्फ भाजपा या आरएसएस के व्यक्ति की प्रतिमा न लगाएं. कई समाजवादी और महान विभूति और भी हैं जिन्हे सम्मान दिया जाना चाहिए. राजद नेता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि उनका दल तो नीतीश कुमार को भाजपा की ही बी टीम मानता है और नीतीश कुमार भी भगवा रंग में रंग चुके है यह भी पूरा बिहार जानता है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2020, 8:36 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर