होम /न्यूज /बिहार /

नीतीश कुमार का सुशील मोदी पर तंज- मुझ पर बोलने से पार्टी में कुछ नेताओं का कद बढ़ेगा! 

नीतीश कुमार का सुशील मोदी पर तंज- मुझ पर बोलने से पार्टी में कुछ नेताओं का कद बढ़ेगा! 

पटना के राजधानी वाटिका में सीएम नीतीश कुमार व अन्य.

पटना के राजधानी वाटिका में सीएम नीतीश कुमार व अन्य.

Bihar News: बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के बारे में यह आम समझ है कि वे नीतीश कुमार के करीबी रहे हैं. मगर भाजपा-जदयू का संबंध खत्म होने के बाद से सुशील मोदी ने सीएम नीतीश के खिलाफ बीजेपी की तरफ सेने मोर्चा संभाल लिया है. वे लगातार नीतीश कुमार के महागठबंधन में जाने के फैसले पर सवाल उठा रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

पटना. बिहार में सरकार बदलते ही बीजेपी ने जंगलराज का आरोप लगाया है. सबसे पहले केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर हमला किया तो अब छपरा में संदिग्ध जहरीली शराब से हुई 5 लोगों की  मौत पर भाजपा नेताओं ने मोर्चा खोल दिया है. हालांकि, नीतीश कुमार ने साफ तौर पर कहा कि जिनको जो बोलना है बोलते रहें, इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा. बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री द्वारा निशाना साधने को लेकर भी नीतीश कुमार ने जवाब दिया.

बता दें कि भाजपा-जदयू का संबंध खत्म होने के बाद से बीजेपी की तरफ से नीतीश कुमार के करीबी माने जाने वाले पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मोर्चा संभाल लिया है. इस पर नीतीश कुमार ने कहा कि जब सुशील मोदी को 2020 में बिहार में एनडीए को सरकार में उप मुख्यमंत्री नहीं बनाए गए तो मैं काफी दुखी था. उन्हें राज्यसभा भेजा गया तो मुझे लगा कि दिल्ली में उन्हें कुछ बनाया जाएगा, लेकिन उन्हें वहां भी कुछ नहीं बनाया गया. अब सुशील कुमार मोदी मुझ पर यदि कुछ बोलते हैं तो उससे उनका पार्टी में कद बढ़ेगा. जिनको जो बोलना है वह बोलते रहें मुझ पर बोलने से पार्टी उन्हें कुछ न कुछ दे देते हैं तो अच्छी बात है. जिन्हें साइडलाइन कर दिया गया था वह भी अब आ गए हैं.

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि गलत करने वाले कुछ लोग हैं शराब पीना बुरी बात है. जो शराब पिएगा मरेगा ही. शराबबंदी अभियान को सफल करने के लिए सरकार अभियान चला रही है. 90% लोग एक राय के होते हैं; लेकिन कुछ लोग इधर-उधर जरूर करते हैं इसलिए शराब नहीं पीना चाहिए. शराब पीने वालों का हश्र लोग भी देख रहे हैं. आम आदमी के शराब पीने से उनके घर की आमदनी और माली हालत भी ठीक हो गया है. हमलोगों के हित में काम कर रहे हैं लोगों को अपने राष्ट्रपिता की कम से कम बात माननी चाहिए. डब्ल्यूएचओ काफी रिपोर्ट आ गया शराब को लेकर शराब के खिलाफ जो एक्शन लेना है,  वह निरंतर जारी रहेगा.

2024 में विपक्ष का प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार बनने के सवाल पर नीतीश कुमार ने कहा,  मैं हाथ जोड़कर कहता हूं मेरे मन में ये सब कोई बात नहीं है. मेरी चाहत है कि मैं सभी दल को एक साथ मिलकर चलूं तो यह अच्छा होगा. हमलोगों की समस्याओं के लिए बात करेंगे. समाज के लिए बात करेंगे. समाज में अच्छा वातावरण हो; इस पर बात करेंगे. मैंने अपनी इच्छा पहले ही बता दी है.  पॉजिटिव काम हो रहा है बहुत लोगों का फोन आ रहा है. उनसे बातचीत हो रही है. 2024 आने दीजिए फिर देखिए क्या होता है. पहले सब लोगों को एकजुट करना है. मैं नेतृत्व का सपना नहीं देख रहा हूं. मैं चाहता हूं हमारा देश अच्छे ढंग से आगे बढ़े; आज समाज में टकराव की स्थिति है.

बता दें कि 10 अगस्त को आठवीं बार बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद, नीतीश कुमार ने अगले लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधा था. तब उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा, “वह 2014 में जीते थे, लेकिन क्या वह 2024 में होंगे?” जब उनसे पत्रकारों द्वारा पूछा गया कि क्या वह पीएम उम्मीदवार बनना चाहते हैं, तो उन्होंने तब भी कहा था कि वह “किसी भी चीज के दावेदार नहीं हैं”. उन्होंने कहा, “सवाल यह है कि जो 2014 में आया वह 2024 में आएंगे या नहीं.”

Tags: Bihar News, Bihar politics, CM Nitish Kumar, Nitish kumar, Nityanand Rai, PATNA NEWS, Sushil kumar modi, Sushil Modi

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर