कोरोना लक्षण वाले मरीजों की किसी भी केंद्र पर हो जांच, मार्क किए जाएं टेस्ट सेंटर- नीतीश कुमार
Patna News in Hindi

कोरोना लक्षण वाले मरीजों की किसी भी केंद्र पर हो जांच, मार्क किए जाएं टेस्ट सेंटर- नीतीश कुमार
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने कहा कि होम आइसोलेशन की जानकारी का प्रचार प्रसार किया जाना चाहिए. लोगों तो बताएं कि कोरोना (Corona) को लेकर लोग घबराएं नहीं, सतर्कता बरतें, घर से निकलें, तो मास्क का प्रयोग करें.

  • Share this:
पटना. बिहार में कोरोना (Corona ) के लगातार मिल रहे मामलों को बीच शुक्रवार को एक साथ 1700 से अधिक मरीज मिले. इसके साथ ही राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 23330 हो गई. पिछले दस दिनों के आंकड़ों पर गौर करें तो हर दिन औसतन 1000 से अधिक मरीज सामने आ रहे हैं. ऐसे में राज्य सरकार ने टेस्ट की संख्या और बढ़ाने का निर्णय किया है. इसके साथ ही कोरोना के लक्षण वाले मरीजों को किसी भी सेंटर पर जांच करवाने की सुविधा भी मिलेगी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar ) ने पटना में ये व्यवस्था जल्द से जल्द शुरू करने के भी निर्देश दिए हैं. साथ ही सीएम ने एंटीजन किट की पर्याप्त व्यवस्था करने को कहा है, ताकि जांच की संख्या बढ़ायी जा सके.

सीएम नीतीश कुमार ने इस दौरान कहा कि होम आइसोलेशन की जानकारी का प्रचार प्रसार किया जाना चाहिए. लोगों तो बताएं कि कोरोना को लेकर लोग घबराएं नहीं, सतर्कता बरतें, घर से निकलें, तो मास्क का प्रयोग करें. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि कोरोना संक्रमण के जांच के लिए केंद्र चिह्नित किये जाएं और इसकी जानकारी आम लोगों को दी जाय. सीएम ने इसके लिए स्वास्थ्य विभाग को सभी आवश्यक व्यवस्था मुहैया कराने के लिए कहा.

मुख्यमंत्री ने ये भी निर्देश दिए कि जिन लोगों में कोरोना के लक्षण हैं, उनके लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तक भी इसके जांच की व्यवस्था की जाये. उन्होंने ये भी कहा कि पटना में जांच केंद्रों को चिह्नित करने की व्यवस्था तुरंत शुरू की जाये. इससे संबंधित विज्ञापन निकाल कर या अन्य माध्यमों से आम लोगों को इन केंद्रों के बारे में जानकारी दी जाये. लोगों को यह बताया जाये कि कहां पर, किस तरह के जांच की व्यवस्था की गयी है.







सीएम ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि होम आइसोलेशन में रहनेवाले लोगों की लगातार मॉनीटरिंग की जाये, उन्हें किसी तरह की चिकित्सा सुविधा की जरूरत पड़ने पर तुरंत इसे मुहैया करायी जाये. ऐसे लोगों का मनोबल भी लगातार बनाये रखने की जरूरत है. मुख्यमंत्री ने अपील की है कि लोग धैर्य रखें, सचेत रहें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें. अत्यंत जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलें और घर से बाहर निकलते समय मास्क का प्रयोग जरूर करें.





बता दें कि सीएम ने गुरुवार को भी कोरोना को लेकर मुख्य सचिव के साथ समीक्षा बैठक की थी. इस दौरान सीएम ने कोरोना जांच की क्षमता 10,000 से बढ़ाकर प्रतिदिन 20,000 करने का लक्ष्य प्राप्त करने के निर्देश दिया. इस दौरान मुख्यमंत्री ने बैठक में डेडिकेटेड कोविड अस्पताल, कोविड हेल्थ सेंटर एवं कोविड केयर सेंटर्स में आइसोलेशन बेड की संख्या अविलंब बढ़ाने के निर्देश देते हुए कहा कि कुछ अन्य अस्पतालों को चिन्हित कर नई सुविधाएं भी सृजित की जाएं. साथ ही उपलब्ध सुविधाओं में अतिरिक्त क्षमता सृजित करने की भी कार्रवाई की जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज