कृषि बिल पर PM मोदी के साथ हैं CM नीतीश, बोले- किसानों के हित में है कानून, राजनीति कर रहा विपक्ष

एपीएम मोदी और  सीएम नीतीश कुमार  (फाइल फोटो)
एपीएम मोदी और सीएम नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

हाल में केंद्र सरकार ने कृषि सुधारों से संबंधित दो बिल ( New Agriculture Bill) पास किए हैं जिस पर विपक्ष हमलावर है. लेकिन, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने साफ कर दिया कि इस मुद्दे पर वह केंद्र के फैसले के साथ हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 25, 2020, 7:47 AM IST
  • Share this:
पटना. लोकसभा और राज्यसभा से पारित नये कृषि बिल ( New  Agriculture Bill) पर कई हलकों से विरोध के बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने इसे सही करार देते हुए विरोधी दलों पर राजनीति करने का आरोप लगाया है. गुरुवार को अपने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक के बाद नीतीश कुमार ने कहा कि जो लोग कृषि बिल का विरोध कर रहे हैं, वे लोग इसके बारे में भ्रम फैला रहे हैं. सीएम नतीश ने कहा कि यह बिल किसानों के के पक्ष में है और इसमें बेहतर प्रवाधान किए गए हैं. विपक्ष के लोग इस मुद्दे पर केवल राजनीति कर रहे हैं.

नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में पहले कृषि उपज के नाम पर कुछ नहीं होता था. हमारी सरकार ने किसानों के फायदे के लिए काफी कुछ किया है. बता दें कि जेडीयू ने संसद के दोनों सदनों में कृषि बिल का समर्थन किया था. दूसरी ओर, जेडीयू के राज्यसभा सांसद और महासचिव केसी त्यागी ने अभी हाल में कहा था कि हमारी पार्टी ने बिल का समर्थन किया है, लेकिन हम किसानों की उस मांग का भी समर्थन कर रहे हैं, जिसमें एक कानून बनाने को कहा जा रहा है जिससे कि निजी कंपनियां किसानों से एमएसपी से कम दाम पर उत्पाद न खरीदें.

गौरतलब है कि हाल में केंद्र सरकार ने कृषि सुधारों से संबंधित दो बिल पास किए हैं जिस पर विपक्ष हमलावर है. कांग्रेस ने पूरे देश में विरोध प्रदर्शन किया है. कुछ राज्यों में किसान भी सड़कों पर उतरे हैं. सबकी नजरें इस ओर लगी हैं कि एनडीए के गठबंधन में चल रही बिहार सरकार का इस पर क्या रुख है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने साफ कर दिया कि किसानी से जुड़े इस मुद्दे पर वह केंद्र के फैसले के साथ हैं.



बहरहाल इस बिल के विरोध में शुक्रवार को अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति द्वारा बिहार में कृषि बिल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया जाएगा. विभिन्न राजनीतिक संगठनों द्वारा भी इस विरोध प्रदर्शन को समर्थन दिया गया है. बिल के विरोध में भाकपा माले 12:00 बजे पटना के बुद्ध स्मृति पार्क के पास प्रदर्शन करेगी.
वहीं, कृषि बिल को लेकर विपक्ष के हमले का जवाब बिजेपी के तरफ़ से लगातार दिया जा रहा है भाजपा नेता और बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने वि पक्ष के विरोध को किसान विरोधी बताया. उन्होंने कहा कि ये बिल किसानों के फायदे के लिए लाया गया है. विपक्ष किसानों के बीच भ्रम फैलाने के लिए विरोध कर रहा है. प्रेम कुमार ने साफ़ किया की बीजेपी विपक्ष के इस झूठ का मुंहतोड़ जवाब देगी पार्टी इसकी रणनीति बना रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज