• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • PATNA NITISH KUMAR SET THE TARGET FOR PLANTATION 5 CRORES PLANTS

मिशन हरियाली: CM नीतीश कुमार ने सेट किया टार्गेट, संस्थाओं को मिलेंगे निशुल्क पौधे

बिहार सरकार ने महत्वकांक्षी योजना जल जीवन और हरियाली की शुरुआत की

बिहार के वन पर्यावरण मंत्री नीरज कुमार बबलु ने बताया कि वन विभाग के द्वारा संबंधित संस्थाओं को निशुल्क पौधे उपलब्ध कराए जाएंगे.

  • Share this:
पटना. बिहार में हरित आवरण बढ़ाने के लिए नीतीश कुमार ने लक्ष्य निर्धारित कर लिया है. विश्व पर्यावरण दिवस के मौक़े पर अपने सरकारी आवास पर महोगनी का पौधा लगाकर 5 करोड़ पौधारोपण के लक्ष्य की शुरुआत कर दी. दरअसल बिहार का जब बंटवारा हुआ था उस वक़्त बिहार से झारखंड के अलग होने के बाद मात्र 9 प्रतिशत हरित आवरण बच गया था. इस समस्या को देखते हुए नीतीश कुमार ने तय कर लिया था कि प्रदेश में हरित आवरण को बढ़ाना है, इसके बाद शुरू हुई मिशन हरियाली 2012 में इस मिशन की शुरुआत होने पर 22 करोड़ से ज़्यादा पौधे लगाए गाए थे. इसका असर भी हुआ और बिहार में
हरित आवरण बढ़ने लगा और इसके साथ ही बिहार में हरियाली के लिए बिहार सरकार ने महत्वकांक्षी योजना जल जीवन और हरियाली की शुरुआत की जिसका बजट 24 हज़ार 524 करोड़ रुपया है. इस योजना के शुरू होने के बाद बिहार में हरित आवरण बढ़कर 15 प्रतिशत हो गया. अब सरकार ने 5 जून से 9 अगस्त के बीच पांच करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य बनाया है जो 9 अगस्त तक चलेगा.

इस योजना को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर सभी वन प्रमंडलों में वृक्षारोपण की औपचारिक शुरुआत भी की गई. मनरेगा द्वारा भी प्रत्येक जिले में पौधरोपण का कार्य प्रारंभ किया गया. इस अभियान के अंतर्गत प्रदेश के ग्रामों में जीविका दीदियों द्वारा उनकी भूमि पर पौधारोपण कार्य की भी शुरुआत की गई. विभिन्न एनजीओ और दूसरे संस्था द्वारा भी विभिन्न स्थलों पर पौधारोपण कार्य प्रारंभ किया गया.

मिशन 5.0 पौधारोपण के लक्ष्य को पूरा करने के लिए वन विभाग के पौधशालाओं में 5.50 करोड़ से अधिक पौधे तैयार कराए गए. वन विभाग द्वारा 1.24 करोड़ पौधे विभिन्न विभागीय योजनाओं के अंतर्गत लगाए जाएंगे. ग्रामीण विकास विभाग अंतर्गत मनरेगा द्वारा 2.0 करोड़ एवं बिहार जीविकोपार्जन प्रोत्साहन समिति, बिहार के तहत जीविका दीदियों द्वारा 1.5 करोड़ पौधों का रोपण किया जाना है. वन विभाग द्वारा विभागीय वृक्षारोपण के अतिरिक्त विभिन्न माध्यमों से आम जनता को विभागीय पौधशालाओं एवं मोबाइल वैन से प्रत्येक जिलों में 15.0 लाख पौधों का विक्रय किया जाएगा.

बिहार के वन पर्यावरण मंत्री नीरज कुमार बबलु ने बताया कि वन विभाग के द्वारा संबंधित संस्थाओं को निशुल्क पौधे उपलब्ध कराए जाएंगे. कृषकों की आय बढ़ाने के उद्धेश्य से कृषि वानिकी योजना अंतर्गत विभागीय पौधशालाओं से कृषकों को 50.0 लाख पौधे उपलब्ध कराये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है. योजना अंतर्गत कृषकों को 03 वर्ष पश्चात् 60 रूपये प्रति पौधे दिये जाएंगे. रोपित किए जाने वाले पोधें की सुरक्षा एवं सम्पोषण हितधारकों के द्वारा ही की जाएगी.