नीतीश कुमार का चिराग पासवान पर हमला, कहा- वोट काटने वालों पर BJP खुद करे फैसला

नीतीश कुमार ने एक  बड़ा बयान दिया है.
नीतीश कुमार ने एक बड़ा बयान दिया है.

नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने कहा कि मतदाताओं ने गठबंधन को जनादेश दिया है और हम सरकार बना रहे हैं. वोट काटने वालों पर बीजेपी (BJP) को फैसला करना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 13, 2020, 8:53 PM IST
  • Share this:
पटना. एक्जिट पोल को गलत साबित करते हुए बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए ने जीत हासिल की. अब नीतीश कुमार चौथी बार सूबे के मुख्यमंत्री की कमान संभालने की तैयारी कर रहे हैं. पार्टी में वोटकटवा को लेकर छीड़ी बहस के बीच नीतीश कुमार ने एक बड़ा बयान दिया है. नीतीश कुमार ने कहा कि  मतदाताओं ने गठबंधन को जनादेश दिया है और हम सरकार बना रहे हैं. नीतीश ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री पद का कोई दावा नहीं किया है. पटना में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान नीतीश कुमार ने कहा,' लोगों ने एनडीए को जनादेश दिया है और सरकार बनेगी.

बिहार के अगले मुख्यमंत्री के सवाल पर नीतीश कुमार ने कहा, "मैंने कोई दावा नहीं किया है, निर्णय एनडीए द्वारा लिया जाएगा." हांलांकि बिहार में एनडीए ने जीत जरूर हासिल की, लेकिन नीतीश कुमार के 10 मंत्रियों को हार का सामना करना पड़ा. इन सबके बीच चिराग पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) पर वोटकटवा का आरोप भी लगा. एलजीपी पर कार्रवाई के मुद्दे पर नीतीश कुमार ने कहा कि जिन लोगों ने पार्टी का वोट काटा है, उन पर कार्रवाई का फैसला बीजेपी को लेना चाहिए.





ये भी पढ़ें: Rajasthan: चूरू जेल में कैदियों के बीच गैंगवार, बर्तन से हथियार बनाकर किया हमला
थपथ पर नीतीश कुमार ने कही ये बात

अटकलें लगाई जा रही हैं कि नीतीश कुमार अगले हफ्ते मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं. नीतीश का कहना है कि यह अभी तय नहीं है कि शपथ ग्रहण समारोह कब होगा, चाहे दिवाली के बाद हो या छठ पूजा के बाद. हम इस चुनाव के परिणामों का विश्लेषण कर रहे हैं. शुक्रवार को चारों पार्टियों के सदस्यों की बैठक होगी'. सूत्रों की मानें तो नीतीश कुमार अगले हफ्ते  चौथे कार्यकाल के लिए बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ले सकते हैं, लेकिन तारीख अभी तक तय नहीं की गई है. हालांकि, राजनीतिक हलकों में अटकलें लगाई जा रही हैं कि वह सोमवार को शपथ लेंगे, जिस दिन 'भैया दूज' त्योहार मनाया जाएगा, क्योंकि यह शुभ दिन माना जाता है.

मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने से पहले नीतीश कुमार को राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपना होगा. राजद के नव निर्वाचित विधायकों द्वारा नीतीश को उनके नेता के रूप में चुना जाना भी बाकी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित भाजपा के शीर्ष नेताओं ने नीतीश कुमार का मुख्यमंत्री के रूप में पुरजोर समर्थन दिया था. इस बीच, मुख्य निर्वाचन अधिकारी एचआर श्रीनिवास ने विधानसभा चुनावों में विजयी उम्मीदवारों की सूची राज्यपाल भवन में राजभवन में सौंप दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज