लाइव टीवी

बिहार चुनाव से लेकर राम मंदिर के मुद्दे तक जानें नीतीश कुमार के सामने हैं कौन-कौन सी चुनौतियां

News18 Bihar
Updated: November 4, 2019, 11:26 AM IST
बिहार चुनाव से लेकर राम मंदिर के मुद्दे तक जानें नीतीश कुमार के सामने हैं कौन-कौन सी चुनौतियां
नीतीश कुमार को बिहार उपचुनाव में करारी हार मिली है file photo

नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को उनकी पार्टी जेडीयू (JDU) भले ही नेशनल लेवल का नेता मानती हो लेकि उनकी पार्टी अभी भी बिहार (Bihar) को छोड़कर अन्य राज्यों में अपनी पहचान बनाने के लिए लगातार संघर्ष कर रही है. जेडीयू को राष्ट्रीय पार्टी बनाने की बड़ी जिम्मेदारी नीतीश के पास है

  • Share this:
पटना. बिहार के सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) दूसरी बार जेडीयू (JDU) के राष्ट्रीय अध्यक्ष की जिम्मेदारी सम्भाल चुके हैं. सुशासन और ईमानदारी को अपनी सबसे बड़ी उपलब्धि बताने वाले इस राजनेता के सामने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के तौर पर दूसरी पारी कई मायनों में चुनौती से भरी होगी. नीतीश की दोबारा ताजपोशी बिहार (Bihar) में होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Election) की आहट के ठीक पहले हुई है ऐसे में सबसे पहली और बड़ी चुनौती इससे निपटना ही है. न्यूज 18 आपको बता रहा है उन चुनौतियों के बारे में जिससे नीतीश कुमार को आने वाले दिनों में निपटना होगा.

2020 का महामुकाबला

सुशासन सरकार के रूप में खुद को स्थापित करने की बात कह चुके नीतीश के सामने पहली और सबसे बड़ी चुनौती 2020 के महामुकाबले को जीतना होगा. पांच साल पहले हुए चुनाव में तब नीतीश लालू के साथ थे और उनको बिहार में बड़ा जनादेश मिला था लेकिन महागठबंधन में मची खींचतान के बीच नीतीश ने लालू का साथ छोड़ा और अपने पुराने कैंप यानी बीजेपी के साथ एनडीए में चले गए. 2020 की परिस्थितियां और चेहरे भिन्न हैं ऐसे में बतौर सीएम फेस नीतीश कुमार के माथे दोहरी जिम्मेदारी पार्टी के बेहतर प्रदर्शन कराने को लेकर भी है.

एनडीए में तालमेल

नीतीश कुमार बिहार में एनडीए के सबसे बड़े चेहरे बताए जाते हैं. ये बात बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह भी मानते हैं और यही कारण है कि नीतीश को 2020 के रण में भी बीजेपी ने बिहार में एनडीए का चेहरा मान लिया है. विधानसभा चुनाव में हालांकि अभी एक साल का समय है लेकिन इस बीच एनडीए में तालमेल को बनाए रखते हुए बिहार की ज्यादा से ज्यादा सीटे जेडीयू के लिए नीतीश मांगने की कोशिश करेंगे. चुकि जेडीयू केंद्र की मोदी सरकार में भी शामिल नहीं है ऐसे में केंद्र से लेकर बिहार तक में आपसी तालमेल बनाए रखना नीतीश के लिए सबसे बड़ी चुनौती होगी.

पीएम मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)


विवादास्पद मुद्दों पर पार्टी का स्टैंड
Loading...

एनडीए में बीजेपी के साथ होने के बावजूद भी नीतीश कुमार और उनकी पार्टी कई मुद्दों पर बीजेपी से अलग राय रखती है. बात चाहे तीन तलाक का हो या फिर राम मंदिर और एनआरसी के मुद्दे. ये सभी वो मुद्दे हैं जो बिहार के चुनाव में भी विपक्ष के लिए मुद्दा बन सकते हैं. नीतीश कुमार के ऊपर बड़ी जिम्मेदारी है कि इन मुद्दों पर भी उनके प्रवक्ता नपा-तुला बयान दें.

डैमेज कंट्रोल

बिहार की पांच सीटों के लिए हुए उपचुनाव में जेडीयू और बीजेपी दोनों को हार का सामना करना पड़ा था ऐसे में इस चुनाव परिणाम के बाद एनडीए के लिए चुनौती बढ़ती दिख रही है खासकर सीमांचल के इलाके में जहां ओवैसी की पार्टी के प्रत्याशी ने जीत हासिल कर एक साथ कई सवाल खड़े कर दिए हैं. उपचुनाव के नतीजों के बाद महागठबंधन के तरफ़ से चुनौती बढ़ गई है ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि वो इस चुनौती से कैसे पार पाएंगे.

बिहार के बाहर पार्टी का जनाधार

नीतीश कुमार को उनकी पार्टी जेडीयू भले ही नेशनल लेवल का नेता मानती हो लेकि उनकी पार्टी अभी भी बिहार को छोड़कर अन्य राज्यों में अपनी पहचान बनाने के लिए लगातार संघर्ष कर रही है. जेडीयू को राष्ट्रीय पार्टी बनाने की बड़ी जिम्मेदारी नीतीश के पास है साथ ही दिल्ली और झारखंड में होने वाले चुनाव पर भी लोगों की नजरें होंगी. पार्टी बिहार के बाहर कई राज्यों में चुनाव लड़ चुकी है लेकिन उसे उस तरह के नतीजे नहीं मिल सके हैं जिसकी आस और दरकार थी.

जेडीयू नीतीश कुमार को जहां दूसरी बार राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाकर उत्साहित है वहीं नीतीश कुमार ने अपनी ताजपोशी के दौरान ही कार्यकर्ताओं को साफ संदेश दे दिया था कि जेडीयू को जल्द से जल्द राष्ट्रीय पार्टी कैसे बनाएं. नीतीश कुमार के ताजपोशी के बाद पहली परीक्षा झारखंड में होने वाले चुनाव हैं जो काफी हद तक उनकी और उनकी पार्टी के जनाधार को दिखाएगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 11:19 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...