लाइव टीवी

देश को आर्थिक महाशक्ति बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है ये बजटः नित्यानंद राय

Neelkamal | News18Hindi
Updated: February 1, 2020, 10:14 PM IST
देश को आर्थिक महाशक्ति बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है ये बजटः नित्यानंद राय
नित्यानंद राय ने कहा कि वहीं रोजगार को बढ़ावा देने के लिए स्किल इंडिया कार्यक्रम के तहत 3000 करोड़ रुपये देने की घोषणा की गई है. (फाइल फोटो)

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री ने आम बजट को सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास वाला बताया है. उन्होंने कहा कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस बजट में देश की सीमाओं को सुरक्षित बनाए रखने पर जोर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 1, 2020, 10:14 PM IST
  • Share this:
पटना. केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने आम बजट को सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास वाला बताया है. उन्होंने कहा कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस बजट में देश की सीमाओं को सुरक्षित बनाए रखने पर जोर दिया है. पिछले वर्ष रक्षा बजट 3.18 लाख करोड़ था . इस बार यह लगभग 4.7 लाख करोड़ है. इस बजट में शिक्षा क्षेत्र के लिए 99 हजार 300 करोड़ रुपये का प्रस्ताव रखा गया है.

रोजगार को मिलेगा बढ़ावा
नित्यानंद राय ने कहा कि वहीं रोजगार को बढ़ावा देने के लिए स्किल इंडिया कार्यक्रम के तहत 3000 करोड़ रुपये देने की घोषणा की गई है. इस बजट में देश के किसानों की आमदनी को बढ़ाने, बागवानी, अनाज भंडारण, पशुपालन आदि को प्रोत्सामहित करने पर केन्द्रित 16 सूत्री कार्य योजना की घोषणा की गई है. नित्यानंद राय ने आगे कहा कि देश की कृषि क्षेत्र के लिए इस बार 2.83 हजार करोड़ का बजट है .जो पिछली बार 2019- 20 में 1.30 हजार करोड़ के लगभग था. इस प्रकार कृषि क्षेत्र में रिकॉर्ड वृद्धि की गई है. 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने के लक्ष्य के साथ इस बजट में प्रधानमंत्री कुसुम योजना के दायरे में 20 लाख ज्यादा किसानों को लाने का प्रस्‍ताव किया. इसके अलावा 15 लाख अतिरिक्तर किसानों को उनके बिजली के पंपों को सौर ऊर्जा चलित बनाने में मदद की जाएगी.

किसानों की बढ़ेगी आमदनी

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री ने कहा कि बजट में किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए सभी तरह के उर्वरकों के संतुलित इस्तेमाल और जीरो बजट प्राकृतिक खेती को प्रोत्सांहित करना है. इसके अलावे वर्षा संचित क्षेत्रों में एकीकृत खेती प्रणाली को बढ़ावा पर जोर दिया गया है. बहुस्तरीय फसल उगाने, मधुमक्खी पालन, सौर पंपों के इस्तेमाल, सौर ऊर्जा उत्पादन और जैविक खेती से संबंधित ऑनलाइन राष्ट्रीय पोर्टल को भी मजबूत बनाया जाएगा.

जलसंकट की समस्या सुलझेगी
उन्होंने कहा कि बजट के तहत जल संकट की समस्या से जूझ रहे देश के 100 जिलों में इससे निपटने के व्यापक इंतजाम किए जाएंगे. नित्यानन्द राय ने कहा कि कुल मिलाकर यह बजट भारत को पांच हजार अरब ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बनाने की दिशा में एक मजबूत कदम है. नए टैक्स स्लैब से मध्यम वर्ग के रोजगार पेशा वाले लोगों को भी बहुत राहत मिलेगी.ये भी पढ़ेंः अब पत्नियां नहीं प्रताड़ना से परेशान होकर पति पहुंच रहे हैं महिला थाने

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 1, 2020, 10:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर