सरकारी सेवकों को छोड़ बिहार में सबको वृद्धावस्था पेंशन, पत्रकारों को महीने में 6 हजार

सीएम नीतीश कुमार ने 'बिहार पत्रकार सम्मान योजना' की शुरुआत करने की घोषणा की. इसके तहत उन पत्रकारों को 6 हजार रुपया जीवन भर दिया जाएगा जिन्होंने 20 वर्षों तक पत्रकारिता क्षेत्र में बिताए हैं.

News18 Bihar
Updated: February 13, 2019, 6:17 PM IST
सरकारी सेवकों को छोड़ बिहार में सबको वृद्धावस्था पेंशन, पत्रकारों को महीने में 6 हजार
नीतीश कुमार (फाइल फोटो)
News18 Bihar
Updated: February 13, 2019, 6:17 PM IST
बिहार के उन सभी बुजुर्गों को वृद्धावस्था पेंशन मिला करेगी जो सरकार सेवा से सेवानिवृत नहीं हुए हैं. यानि अब इस दायरे में बीपीएल, एपीएल के साथ सभी सामान्य वर्ग के लोग भी शामिल हो गए हैं. आपको बता दें कि वृद्धावस्था पेंशन अब तक BPL में शामिल लोगों को ही मिलती थी.

सीएम नीतीश कुमार ने विधानसभा में स्वयं इस बात की घोषणा की और कहा कि पेंशन का लाभ 1 अप्रैल 2019 से मिलेगा. आपको बता दें कि अब तक बीपीएल में आने वाले बुजुर्गों को वृद्धावस्था पेंशन योजना के तहत प्रति महीने 400 रुपया दिया जाता है.  इसके लिए 60 वर्ष तक के सभी महिला और पुरुष पात्र हैं.

बीपीएल-एपीएल सबको मिलेगा वृद्धावस्था पेंशन




नीतीश कुमार ने दूसरी बड़ी घोषणा प्रदेश के पत्रकारों के लिए भी की है. इसके तहत  पत्रकार के लिए 'बिहार पत्रकार सम्मान योजना' की शुरुआत की बात विधानसभा पटल पर कही है. इसके तहत उन पत्रकारों को 6 हजार रुपया जीवन भर दिया जाएगा जिन्होंने 20 वर्षों तक पत्रकारिता क्षेत्र में बिताए हैं.

अब पत्रकारों को सम्मान पेंशन देगी बिहार सरकार


बड़ी बात ये है कि इसमें न्यूज पेपर, टीवी जनर्लिस्ट और वेब पोर्टल में कार्यरत सभी पत्रकारों को शामिल किया जाएगा. इसके साथ ही  अगर पत्रकार की मौत हो जाती है तो उनकी पत्नी या पति को भी इस योजना का लाभ दिया जाएगा.

इनपुट- अमित कुमार
Loading...

ये भी पढ़ें-  बिहार कांग्रेस ने मांगी आधी लोकसभा सीटें, तेजस्वी यादव ने दिया ऐसा जवाब
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर