बिहार: ऑक्सीजन देने वाली पौध लगाने की होड़, जानिए किस पौधे की क्या है कीमत

ऑक्सीजन देने वाले पौधों की मांग राजधानी पटना में भी बढ़ गई है.

ऑक्सीजन देने वाले पौधों की मांग राजधानी पटना में भी बढ़ गई है.

Bihar News: कोरोना का कहर देखने के बाद लोग ऑक्सीजन देने वाले पौधे पीपल, बरगद, नीम, पाकड़ खरीदकर घर में लगा रहे हैं. वहीं छोटे घरों या अपार्टमेंट में रखने वाले इनडोर लगने वाले पौधों की डिमांड करने लगे हैं. पटना की ज्यादातर नर्सरियों की यही कहानी है.

  • Share this:

पटना. बिहार में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को लेकर ऑक्सीजन का संकट पैदा हो गया है. लोगों को संक्रमित होने के बाद इलाज तक नहीं मिल पा रहा है. स्वास्थ्य विभाग की ओर से तैयार किए गए सभी बेड फुल हैैं. ऐसे में तमाम लोग संकट के इस समय में फिर से प्रकृति की ओर मुखातिब हुए हैं. अधिक ऑक्सीजन देने वाले पौधे पीपल, बरगद, नीम, पाकड़ खरीदकर घर में लगा रहे हैं. छोटे घरों या अपार्टमेंट में रखने वाले इनडोर लगने वाले पौधों की डिमांड करने लगे हैं. पटना की ज्यादातर नर्सरियों की यही कहानी है. स्थानीय लोगों का मानना है कि इससे कम से कम घर का वातावरण शुद्ध बना रहेगा.

अब ऑक्सीजन देने वाले पौधों की मांग बड़े मेट्रो शहरों के बाद राजधानी पटना में भी बढ़ गई है. लोग नर्सरियों में ऐसे पौधों की डिमांड करने लगे हैं, जो वातावरण में अधिक प्राणवायु छोड़ते हैं. फ्लैट में रहने वाले प्रेयर, स्पाइडर, स्नेक प्लांट, संसबेरिया, पीस लिली, एरिका, सिफोटिका व तुलसी की मांग कर रहे हैं. पटना के हार्डिंग रोड स्थित नर्सरी संचालक विकास पाल ने बताया कि पिछले दो-तीन सप्ताह से पौधों की मांग बढ़ी है. कोरोना की वजह से एक बार फिर इन पौधों की मांग बढ़ गई है. सभी का कहना है कि यह पौधे अधिक ऑक्सीजन देते हैं. कोरोना की वजह से आक्सीजन का संकट चल रहा है. इसलिए नर्सरी से पौधे खरीद कर घरो में लगा रहे हैं .

प्लांट -  कीमत

मनी प्लांट -- 30 से 500 रुपये
रबर प्लांट -- 100 रुपये

स्पाइडर प्लांट-- 100 रुपये

स्नेक प्लांट -- 100 -400 रुपये



ऐरेका पाम -- 100 - 200 रुपये

जामिया -- 100 - 350 रुपये

रेड एगलोम लिप्सटिक -- 250 रुपये

एगलोनोम -- 60 से 200 रुपये

ड्रैगन प्लान -- 60 से 100 रुपये

पीपल -- 50 से 1000 रुपये

बर -- 50 से 1000 रुपये

पटना समेत पूरे बिहार में लॉकडाउन लगने के बाद भी सुबह सुबह लोग अपने घरों के बाहर की नर्सरी से ऐसे प्लांट खरीद रहे हैं जिनकी कीमत 30 रुपये से लेकर कुछ हजार तक है. पटना के शेखपुरा मोहल्ला से ऑक्सीजन प्लांट खरीदने आये धीरज कुमार और आरपीएस मोड़ से आये आयुष ने कहा कि कोरोना हमें प्रकृति से करीब लाना सीखा रहा है. अभी जिस तरह पटना में ऑक्सीजन सिलेंडर की किल्लत से लोगों की जानें गईं हैं , इसे देखते हुए हम अपने घरों में ऐसे पौधे लगा रहे हैं जो हमे ऑक्सीजन दें और हमारा स्वास्थ्य ठीक रहे. वहीं इन पौधों की डिमांड इतनी बढ़ गई है कि लोग देश के अलग अलग हिस्सों से प्लांट का ऑडर कर रहे हैं . कोरोना संकट में शहरों में भी ऑक्सीजन देने वाले पौधों की शोर्टेज हो गई है. जिसके बाद देश की कई नामी ई कॉमर्स कंपनियों के साथ मिलके इनकी बिक्री की जा रही है. पटना के नर्सरी से पौधे इनके माध्यम से दिल्ली मुंबई तक जा रहे हैं. जहां या तो ये पौधे अभी उपलब्ध नहीं है या फिर अगर है तो काफी महंगे हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज