लाइव टीवी

करोड़ाें की मालकिन लेकिन दाने-दाने को तरसी, अब महिला आयोग का दरवाजा खटखटाया

News18Hindi
Updated: February 7, 2020, 11:45 PM IST
करोड़ाें की मालकिन लेकिन दाने-दाने को तरसी, अब महिला आयोग का दरवाजा खटखटाया
महिला ने कहा कि हिम्मत कर के महिला आयोग आई हूं, बेटों को पता चला तो शायद फिर से मारपीट करेंगे.

महिला ने बताया कि बड़े बेटे ने चार साल पहले रिश्ता तोड़ लिया. छोटा बेटा कुछ समय पहले तक आता था लेकिन अब वह भी नहीं आता. खर्च भी नहीं देते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 7, 2020, 11:45 PM IST
  • Share this:
पटना. 9 घर, करोड़ाें की संपत्ति, किराए से हाे रही आमदनी लेकिन एक 65 साल की बुजुर्ग महिला दाने दाने को तरस गई है. ऐसा हुआ उसके पति की मौत के बाद, जब बेटों ने उसे बेसहारा छोड़ दिया और संपत्ति पर कब्जा कर ‌लिया. अब महिला अपना हक पाने के लिए महिला आयोग पहुंची है. पटना के  मैनपुरा की रहने वाली गीता देवी के दो बेटे और एक बेटी है. बेटी की शादी रायपुर में हो चुकी है और बेटे अपनी पत्‍नियों के साथ अलग रहते हैं. महिला को एक छाटे से कमरे में अपनी जिंदगी काट रही है.

खर्च का पैसा भी नहीं देते बेटे
महिला ने बताया कि बड़े बेटे ने चार साल पहले रिश्ता तोड़ लिया. छोटा बेटा कुछ समय पहले तक आता था लेकिन अब वह भी नहीं आता. खर्च भी नहीं देते हैं. महिला अब चलने फिरने में भी असमर्थ है, ऐसे में उसने पहले टिफिन सेंटर से खाना मंगवाना शुरू किया. लेकिन उसका जब काफी बकाया हो गया तो वह एक किराएदार से पैसे लेने चली गई. इस बात का पता जब बेटों को लगा तो उन्होंने महिला की पिटाई की और जान से मारने की धमकी भी दी.

महिला आयोग का आसरा

महिला ने कहा कि हिम्मत कर के महिला आयोग आई हूं, बेटों को पता चला तो शायद फिर से मारपीट करेंगे. कभी सोचा नहीं था कि पति ने इतनी संपत्ति बनाई लेकिन बच्चे ये दिन दिखाएंगे. बस अब इस प्रॉपर्टी के तीन हिस्से करना चाहती हूं. वहीं महिला आयोग की सदस्य रजिया कामिल अंसारी ने महिला की ‌शिकायत के बाद दोनों बेटों को आयोग में पेश होने का नोटिस भिजवाया है.

ये भी पढ़ेंः बिहार में लड़खड़ाते Start Up एंजेल इंवेस्टर्स का कर रहे इंतजार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 7, 2020, 11:45 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर