Home /News /bihar /

OMG: बिहार के किसान ने उपजाई 800 ग्राम की एक प्‍याज

OMG: बिहार के किसान ने उपजाई 800 ग्राम की एक प्‍याज

क्‍या आपने आधे किलो का एक प्‍याज देखा है? यह सवाल आपको थोड़ा चौंका देगा, लेकिन बिहार के एक किसान के खेत में आधे किलो से लेकर आठ सौ ग्राम का एक-एक प्‍याज पैदा हुई है।

क्‍या आपने आधे किलो का एक प्‍याज देखा है? यह सवाल आपको थोड़ा चौंका देगा, लेकिन बिहार के एक किसान के खेत में आधे किलो से लेकर आठ सौ ग्राम का एक-एक प्‍याज पैदा हुई है।

क्‍या आपने आधे किलो का एक प्‍याज देखा है? यह सवाल आपको थोड़ा चौंका देगा, लेकिन बिहार के एक किसान के खेत में आधे किलो से लेकर आठ सौ ग्राम का एक-एक प्‍याज पैदा हुई है।

क्‍या आपने आधे किलो का एक प्‍याज देखा है? यह सवाल आपको थोड़ा चौंका देगा, लेकिन बिहार के एक किसान के खेत में आधे किलो से लेकर आठ सौ ग्राम का एक-एक प्‍याज पैदा हुई है।

पटना के मायूस जल्ला के किसान सीता राम सिंह ने के खेतों में उपजे प्याज का वजन 600 ग्राम से लेकर 800 ग्राम तक है। इतने वजन के प्याज के पैदावार से किसान सीता राम सिंह खासे उत्साहित हैं। इस प्याज को देखने के लिए लोगों की भीड भी जुट रही है।

राष्ट्रीय और क्षेत्रीय स्तर पर चार बार आलू और प्याज के पैदावार के लिए सम्मानित किसान सीताराम सिंह का कहना है कि अगर राज्य सरकार उचित संसाधन मुहैया कराए तो एक प्याज का वजन दो किलो तक हो सकता है। साथ ही बिहार मे भी साल में दो बार प्याज की फसल लगाई जा सकती है।

वहीं, सीताराम सिंह को देख अन्य किसानों में भी खासा उत्साह है, लेकिन बीज महंगा होने के कारण सभी किसान इसे खरीदने मे असमर्थ हैं और वह इस बीज को खरीदने के लिए राज्य सरकार से सब्सिडी की मांग कर रहे हैं। ताकि किसान उन्नत किस्म के बीज को अपने खेतों में लगाकर ज्यादा से ज्यादा उपज पा सकें।

रख-रखाव की व्यवस्था के अभाव में किसानों को अपने फसल को कम कीमत पर बिचौलियों को बेचना पड़ रहा है। किसानों का कहना है कि भू-माफियाओं की नजर किसानों की जमीन पर है। केन्द्र सरकार ने भूमि अधिग्रहण बिल मे सुधार कर देश भर के किसानों के जमीन को कम दामो पर खरीद रहे हैं और ऐसे मे किसान भूमिहीन होते जा रहे हैं।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर