लाइव टीवी

बिहार में कानून का राज स्थापित रखना राज्य सरकार की प्राथमिकता- राज्यपाल
Patna News in Hindi

News18 Bihar
Updated: January 26, 2020, 1:25 PM IST
बिहार में कानून का राज स्थापित रखना राज्य सरकार की प्राथमिकता- राज्यपाल
गांधी मैदान में झंडोत्तोलन करते हुए बिहार के राज्यपाल फागू चौहान

राज्यपाल ने कहा कि भ्रष्टाचार के विरुद्ध भी लगातार कार्रवाई की जा रही है. लोक शिकायत निवारण में भी बेहतर काम हो रहा है. बिहार में शिक्षा के क्षेत्र में भी तेजी से कई काम किए जा रहे हैं.

  • Share this:
पटना. बिहार में गणतंत्र दिवस (Republic Day) का मुख्य समारोह के लिए पटना के गांधी मैदान (Gandhi Maidan) में आयोजित किया गया. यहां राज्‍यपाल फागू चौहान (Fagu Chauhan) ने तिरंगा फहराया और परेड की सलामी ली. इस दौरान गांधी मैदान में पर्यावरण संरक्षण के संदेश के बीच बिहार के विकास की झांकी दिखी. इस अवसर पर राज्यपाल ने अपना संक्षिप्त संबोधन भि दिया जिसमें उन्होंने कहा कि बिहार में कानून का राज (Rule Of Law)कायम रखना राज्य सरकार की प्राथमिकता है.

राज्यपाल ने कहा कि भ्रष्टाचार के विरुद्ध भी लगातार कार्रवाई की जा रही है. लोक शिकायत निवारण में भी बेहतर काम हो रहा है. बिहार में शिक्षा के क्षेत्र में भी तेजी से कई काम किए जा रहे हैं. स्वास्थ्य क्षेत्र में भी बेहतरीन काम हो रहा है.

उन्होंने कहा देश में बिहार का एक व्यंजन हर थाली में हो इसके लिए फसल उत्पादन के लिए नई तकनीक के उपयोग को बढ़ावा दिया जा रहा है. बिहार में वर्तमान में 5000 मेगावाट से अधिक बिजली उत्पादन हो रहा है. हर घर नल का जल और हर गली नाली का निर्माण इसे वर्ष पूरे कर लिए जाएंगे.

फागू चौहान ने बताया कि  सूबे में 11 मेडिकल कालेज खोले जा रहे हैं. देशी शराब और ताड़ी के व्यवसाय से जुड़े लोगों के जीविकोपार्जन की व्यवस्था की गई है. अल्पसंख्यकों के लिए राज्य सरकार के कई कार्यक्रम चल रहे हैं.

राज्यपाल ने कहा कि PM आवास योजना में जिनका नाम छूट गया था उन्हें मुख्यमंत्री ग्राम आवास योजना का लाभ मिलेगा. आपदा पीड़ितों के मदद के लिए राज्य सरकार कृतसंकल्प है.

उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष बिहार ने बाढ़ और सूखे से जूझ रहे 38 हज़ार से ज्यादा परिवारों को सहायता दी गयी. 4 लाख किसानों को 205.32 करोड़ की अनुदान राशि दी गई. बिहार जलवायु परिवर्तन से ग्रसित हो रहा है इसलिए बिहार सरकार ने जल जीवन हरियाली अभियान शुरू किया गया.

राज्यपाल के संबोधन के बाद गांधी मैदान में कई झांकियां निकाली गईं जो बिहार के उत्तरोत्तर विकास की कहानी कह रही थीं. पहली झांकी नगर विकास विभाग की थी जबकि दूसरी जीविका की, तीसरी झांकी उद्योग विभाग की और चौथी झांकी मद्य निषेध विभाग की थी. इसका शीर्षक था नशामुक्त बिहार खुश हाल परिवार.पांचवी झांकी परिवहन विभाग की थी जबकि छठी झांकी महिला विकास निगम की. वहीं सातवीं झांकी कृषि विभाग की और आठवीं झांकी बिहार शिक्षा परियोजना की थी. नौंवी झांकी स्वास्थ्य विभाग की थी जिसमें ये बताया गया था कि PMCH का अपग्रेडेशन कैसे हो रहा है.

दसवीं झांकी पर्यटन विभाग की थी जबकि 11वीं झांकी निर्वाचन आयोग की. 12वीं झांकी जल संसाधन विभाग के जल जीवन हरियाली की और 13वीं सूचना एवं जनसंपर्क विभाग की थी.  कुल 17 झांकियों में  14वीं ग्रामीण विकास का जल जीवन हरियाली से संबंधित थी.

बता दें कि गांधी मैदान झांकी में बिहार शिक्षा परियोजना परिषद प्रथम स्थान मिला. जबकि  दूसरे नंबर पर् उपेन्द्र महारथी शिल्प अनुशंधान संस्थान, उद्योग विभाग को तो तीसरे नंबर पर् रही स्वास्थ्य विभाग की झांकी रही.

गौरतलब है कि मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने एक अणे मार्ग स्थित अपने आवास पर झंडोत्‍तोलन किया. इतना ही नहीं, मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने सीएम आवास पर मौजूद बच्‍चों को जलेबी भी खिलाई. वहीं, बिहार विधान सभा में विधानसभा अध्‍यक्ष विजय चौधरी ने झंडोत्‍तोलन किया.

इनपुट- नीलकमल

ये भी पढ़ें

CAA-NRC पर समझाने पहुंचे वामपंथी नेता तो युवा बोले- मत कीजिए देश विरोधी काम, जानें क्या हुआ आगे...

पद्म पुरस्कार मिलने पर बिहार की इन हस्तियों ने जताई खुशी, CM नीतीश ने दी बधाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 26, 2020, 1:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर