अपना शहर चुनें

States

महाराष्ट्र ATS को बड़ी सफलता, पटना में गिरफ्तार संदिग्‍धों की निशानदेही पर आतंकी गिरफ्तार

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार एटीएस ने पटना रेलवे जंक्‍शन के पास से दो संदिग्‍ध बांग्‍लादेशी आतंकियों को गिरफ्तार किया था.

  • Share this:
पटना जंक्शन के पास से गिरफ्तार दो संदिग्‍ध बांग्लादेशी आतंकवादियों की निशानदेही पर आतंकवाद निरोधी दस्ता (ATS) ने आज एक और आतंकी महाराष्ट्र से गिरफ्तार किया है. पुणे और पिंपरी चिंचवाड़ से सटे चाकण इलाके से गिरफ्तार आतंकी शरीयत मंडल से ATS पूछताछ कर रही है. पूछताछ में उसने खुलासा किया कि शरीयत पटना में गिरफ्तार आतंकवादी अबु सुल्तान और खैरूल मंडल के संपर्क में था.

पूछताछ में उसने बताया कि आतंकवादी संगठन ISBD के रिक्रूटमेंट कैडर में भी वह शामिल था. गौरतलब है कि गिरफ्तारी के बाद शरीयत मंडल को महाराष्ट्र ATS ने पुणे की कोर्ट में आज पेश किया. पेशी के बाद कोर्ट ने शरीयत मंडल को 48 घंटे की ट्रांजिट रिमांड पर बिहार ATS को सौंप दिया है. बिहार ATS शरीयत मंडल को लेकर जल्द ही पटना लेकर आएगी. पटना आने के बाद शरीयत मंडल को कोर्ट में भी पेश किया जाएगा.

ये भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव 2019: विरासत की महाभारत में 'कृष्ण', का सरेंडर, जीत गए 'अर्जुन' !



सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पकड़े गए दोनों संदिग्‍ध आतंकी ने पटना ATS को बताया है कि वे पीएम मोदी की होने वाली सभाओं के बारे में जानकारी जुटा रहे थे. बांग्लादेश में बैठे उनके आका ने उन्हें रेकी के लिए भारत भेजा था. चुनाव के दौरान चुनावी सभा में हिंसक घटनाओं को अंजाम देकर यहां के सामाजिक और धार्मिक माहौल को बिगाड़ने की साजिश थी.
ये भी पढ़ें- छात्र राजद के संरक्षक पद से तेजप्रताप का इस्तीफा, लिखा- नादान हैं वो जो हमें नादान समझते हैं

सुरक्षा एजेंसियों के सूत्रों के अनुसार, आतंकी संगठन जमीयत-उल-मुजाहिदीन और इस्लामिक स्टेट बाग्लादेश के सक्रिय सदस्य अबु सुल्तान और खैरूल मंडल  की मंशा पीएम मोदी की सभा में आतंकी वारदात को अंजाम देकर उन्हें नुकसान पहुंचाने की थी. लिहाजा वे पीएम के चुनावी मूवमेंट की जानकारी भी हासिल कर रहे थे. दो अप्रैल को गया और जमुई में मोदी की चुनावी सभा होने वाली है.

इनपुट- अमित कुमार

ये भी पढ़ें-
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज