नीतीश सरकार के इस फैसले का विपक्ष भी हुआ मुरीद, कांग्रेस नेता ने राहुल गांधी को भेजा ये संदेश

नीतीश सरकार ने माता-पिता की उपेक्षा करने वाली संतानों के लिए सजा का प्रावधान करने का निर्णय लिया है. बिहार कांग्रेस के प्रवक्ता ने फैसले का स्वागत करते हुए राहुल गांधी को ट्वीट कर कांग्रेस शासित राज्यों में भी इस व्‍यवस्‍था को लागू कराने की बात कही है.

News18 Bihar
Updated: June 12, 2019, 5:04 PM IST
नीतीश सरकार के इस फैसले का विपक्ष भी हुआ मुरीद, कांग्रेस नेता ने राहुल गांधी को भेजा ये संदेश
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार
News18 Bihar
Updated: June 12, 2019, 5:04 PM IST
राजनीति में ऐसा कम ही देखने को मिलता है, जब सत्ता पक्ष कोई फैसला करे और विपक्ष उसकी सराहना करने को मजबूर हो जाए. बिहार में भी कुछ ऐसा ही हुआ है. नीतीश कैबिनेट के एक फैसले पर प्रदेश में उसकी धुर-विरोधी पार्टियां भी वाह-वाह कर रही हैं.

लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान एनडीए और महागठबंधन में शब्दों के ऐसे तीर चले थे, जिसने मर्यादा की तमाम सीमाओं को ताक पर रख दिया गया था. लेकिन, जब नीतीश सरकार ने बुज़ुर्ग माता-पिता को लेकर एक फैसला किया है तब से विपक्ष भी उनका मुरीद बन गया है. गौरतलब है कि इस निर्णय के तहत अब बुज़ुर्ग माता-पिता की सेवा अनिवार्य कर दी गई है. ऐसा न करने वाली संतान के लिए सजा के साथ-साथ जुर्माना भी लगाने का प्रावधान किया गया है.



आरजेडी ने की निर्णय की सराहना
नीतीश सरकार के इस निर्णय का राजद हो या कांग्रेस सब एक सुर में सराहना कर रहे हैं. आरजेडी प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने फैसले की प्रशंसा करते हुए नीतीश सरकार के कदम का स्वागत किया है. उन्होंने कहा कि आजकल माता-पिता की उपेक्षा आम बात हो गई है, ऐसे में यह निर्णय सराहनीय है.

कांग्रेस नेता ने राहुल को भेजा संदेश
कांग्रेस प्रवक्ता प्रेमचंद्र मिश्र ने कहा कि नीतीश सरकार ने अच्छा फैसला लिया है और अब बुजुर्गों के साथ अन्याय नहीं होगा. सरकार अगर अच्छे फैसले लेती है तो विपक्ष स्वागत करेगा. उन्होंने कहा कि मैंने राहुल गांधी को भी ट्वीट कर ये सलाह दी है कि कांग्रेस शासित राज्यों में भी यह लागू हो. बता दें कि मंगलवार को बिहार कैबिनेट की बैठक में फैसला किया गया कि प्रदेश में रहने वाली संतानें अगर माता-पिता की सेवा नहीं करेंगी तो उन्हें जेल की सजा हो सकती है. माता-पिता की शिकायत मिलते ही ऐसी संतानों पर कार्रवाई होगी.

(रिपोर्ट- आनंद अमृतराज)
Loading...

ये भी पढ़ें-

सियासत का सिरमौर लालू परिवार का अवसान काल क्यों?

नीतीश सरकार ने भी माना- AES से अब तक 35 बच्चों की हुई मौत

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...