Lockdown Diary: दो महीने तक दिल्ली में उठाया 10 मजदूरों का खर्च फिर फ्लाइट से भेजा बिहार
Patna News in Hindi

Lockdown Diary: दो महीने तक दिल्ली में उठाया 10 मजदूरों का खर्च फिर फ्लाइट से भेजा बिहार
दिल्ली से पटना लौटा मजदूरों का जत्था जिन्हें उनके मालिक ने फ्लाइट से वापस भेजा

मजदूरों को फ्लाइट से पटना भेजने वाले मालिक पप्पन सिंह गहलोत दिल्ली में मशरूम की खेती करते हैं. पप्पन सिंह का कहना है कि आज जो भी कमाया इन्हीं मजदूरो की बदौलत कमाया हूं ऐसे में इन सभी को वापस घर भेजना मेरा फर्ज था.

  • Share this:
पटना. लॉकडाउन 4.0 (Lockdown 4.0) के दौरान सड़कों पर परिवार के साथ कंधे पर सामान रखकर हजार किलोमीटर पैदल चलकर घर पहुंचने की तस्वीरें सबने देखी है. लॉकडाउन के बीच लाचारी, बेबसी के कारण आज भी हजारों की संख्या में प्रवासी मजदूर ट्रक, बस, ट्रेन में भेड़ बकरियों की तरह भरकर अपने-अपने घरों को पहुंच रहे हैं, ऐसे में अगर कोई प्रवासी मजदूर (Migrant Workers) फ्लाइट से अपने घर को पहुंचे तो चौंकना लाजमी हो जाता है. हम आपको बता रहे हैं आज एक ऐसी ही कहानी जिसमें दिल्ली से 10 मजदूर गुरुवार की सुबह पटना फ्लाइट से पहुंचे वो भी मालिक के दिए टिकट से.

मालिक ने 10 मजदूरों को दिया फ्लाइट का टिकट

समस्तीपुर के रहने वाले 10 मजदूर दिल्ली में पप्पन सिंह गहलोत के लिए मशरूम की खेती करते हैं  मशरूम के खेतों में काम करते थे. सभी मजदूर पिछले 10 सालों से दिल्ली में एक ही मालिक के पास मशरूम की खेती करते थे. दिल्ली से लौटे मजदूर नवीन राम ने बताया कि लॉकडाउन से पहले काम खत्म कर सभी अपने घर समस्तीपुर आना चाहते थे लेकिन इससे पहले ही लॉकडाउन लग गया और इस कारण वापस आना मुश्किल हो गया था. ट्रेन और फ्लाइट जब चलना शुरू हुआ तो मालिक ने सभी 10 मजदूरों को फ्लाइट के जरिये वापस घर भेजा.



दो महीने से दिल्ली में खर्चा चला रहा था मालिक
मालिक की इस दरियादिली पर मजदूरों को खुशी का ठिकाना नहीं है. वापस लौटे मजदूर जीवक राम का कहना है कि पिछले दो महीनों तक खाना पीना सब मालिक ने अपने पैसे से करवाया. दो महीनों में लगा ही नहीं कि हमलोग लॉकडाउन में रह रहे हैं. वापस लौटे मजदूर नवीन का कहना है कि घर के बाहर रात दिन लोगों को परिवार के साथ पैदल चलते देखता था. लोगों को देखकर रोंगटे खड़े हो जाते थे, लगता था कि हमलोगों को भी ऐसे ही जाना होगा पर मालिक ने फ्लाइट का टिकट कटाकर हाथ में दिया तो विश्वास नहीं हुआ. पटना तक फ्लाइट से भेजने वाले मालिक ने आगे के सफर यानि समस्तीपुर तक जाने के लिए किराया भी दिया ताकि घर तक अच्छे से पहुंच सकें

फिर वापस मालिक के पास जाना चाहते हैं मजदूर

दिल्ली से वापस लौटे सभी 10 मजदूरों का कहना है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद फिर मालिक के पास ही वापस लौटकर काम करना चाहते हैं. वापस लौटे लखिन्द्र राम का कहना है कि बुरे वक्त में मालिक जब इतना साथ दे तो भला कौन ऐसे मालिक को छोड़ना चाहेगा।अगस्त में फिर हम सभी लोग वापस लौटकर वही काम करेंगे.

फ्लाइट से भेजने वाले मालिक ने बताया इसे अपना फर्ज

मजदूरों को फ्लाइट से पटना भेजने वाले मालिक पप्पन सिंह गहलोत दिल्ली में मशरूम की खेती करते हैं. पप्पन सिंह का कहना है कि आज जो भी कमाया इन्हीं मजदूरो की बदौलत कमाया हूं. ऐसा वक्त कभी नही देखा था. रोज टीवी पर मजदूरों को पैदल जाते हुए देखत था जिसे देखकर डर लगता था. मैंने अपना फर्ज निभाते हुए सभी को फ्लाइट से घर भेजा ताकि सहूलियत के साथ वो घर पहुंच सकें.

ये भी पढ़ें-Bihar Matric Result 2020: कम अंक पाने वाले छात्र स्क्रूटनी के लिए कल से कर सकेंगे आवेदन, ये है प्रकिया

ये भी पढ़ें- वर्चस्व की लड़ाई में एक महीने के दौरान 5 हत्या, पढ़ें, गोपालगंज में जारी गैंग्स ऑफ हथुआ के खूनी संघर्ष की इनसाइड स्टोरी

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज