'बाहुबलियों' की कांग्रेस में एंट्री की अटकलों पर महागठबंधन में मतभेद !

ऐसी खबरें हैं कि कांग्रेस पार्टी आरजेडी के पूर्व नेता और बाहुबली सांसद पप्पू यादव, बाहुबली नेता आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद और बाहुबली नेता अनंत सिंह को लोकसभा चुनाव में मौका दे सकती है.

News18 Bihar
Updated: January 23, 2019, 1:41 PM IST
'बाहुबलियों' की कांग्रेस में एंट्री की अटकलों पर महागठबंधन में मतभेद !
तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)
News18 Bihar
Updated: January 23, 2019, 1:41 PM IST
बिहार कांग्रेस 3 फरवरी को पटना में होने वाली राहुल गांधी की रैली को ऐतिहासिक बनाने में पूरा जोर लगा रही है तो दूसरी ओर कई मुद्दों पर महागठबंधन के दलों में मतभेद उभरकर सामने आ रहे हैं. अब तीन नेताओं के कांग्रेस में शामिल होने की अटकलों को लेकर आरजेडी और कांग्रेस में सियासी दूरी बढ़ने की अटकलें लगने लगी हैं.

दरअसल ऐसी खबरें हैं कि कांग्रेस पार्टी आरजेडी के पूर्व नेता और सांसद पप्पू यादव, बाहुबली नेता आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद और बाहुबली नेता अनंत सिंह को लोकसभा चुनाव में मौका दे सकती है. इसपर आरजेडी ने अपना असंतोष पहले भी जाहिर कर दिया था. वहीं महागठबंधन के अन्य घटक दल भाकपा माले ने भी अनंत सिंह के कांग्रेस में शामिल होने की खबरों पर एतराज किया है.

ये भी पढ़ें-  तेजस्वी यादव का केन्द्र सरकार पर तंज, कहा- बहुजनों से धोखाधड़ी कर रही BJP सरकार

हालांकि इस मामले पर बिहार कांग्रेस के प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने न्यूज 18 से फोन पर साफ कहा कि लवली आनंद कांग्रेस में बिना शर्त शामिल होंगी. वहीं  पप्पू यादव और अनंत सिंह के कांग्रेस में शामिल होने पर अब तक कोई फैसला नहीं लिया गया है. उन्होंने महागठबंधन के नेताओ में विवाद की खबर को प्लांटेड बताया है.

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले ही अनंत सिंह के आरजेडी में शामिल होने की खबरों पर तेजस्वी यादव ने अनंत सिंह को एंटी सोशल एलिमेंट करार दिया था. इसके बाद अनंत सिंह की नजदीकियां कांग्रेस की तरफ बढ़ गई थीं. अब कयास लगाए जा रहे हैं कि कांग्रेस उन्हें मुंगेर से अपना टिकट दे सकती है.

ये भी पढ़ें-  EVM के समर्थन में उतरे नीतीश कुमार, बोले- इससे लोगों का मताधिकार और मजबूत हुआ

दूसरी ओर महागठबंधन के घटक भाकपा माले के राष्ट्रीय महासचिव दीपांकर भट्टाचार्य ने भी अनंत सिंह की उम्मीदवारी पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि बिहार के कुख्यात माफिया डॉन अनन्त सिंह जो मुंगेर लोकसभा सीट से अपने आप को महागठबंधन के एक उम्मीदवार के रूप में उछाल रहा है,
मेरे नाम और फोटो का दुरुपयोग कर रहा है.  मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं.

ये भी पढ़ें-  बिहार के सियासी दांव में 'पहले आप' के फलसफे का पेंच !

उन्होंने यह भी साफ किया था कि भाकपा- माले किसी भी परिस्थिति में उसकी उम्मीदवारी का समर्थन नहीं करेगी. जाहिर है कांग्रेस अपने हितों को आगे रखती है तो महागठबंधन में मतभेद की खबरें महज अटकल भर नहीं बल्कि सच्चाई है. वहीं अगर कांग्रेस अपने कदम पीछे खींचती है तो उसे सियासी नुकसान होने का खतरा हो सकता है.

इनपुट- रंजीता झा/ज्योति मिश्रा

ये भी पढ़ें- बिहार सरकार के सवर्ण आरक्षण बिल के विरोध में राजद ! विधायक दल की बैठक में होगा फैसला
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...