Assembly Banner 2021

पैरा मेडिकल छात्रों का अनशन खत्म, 22 सितंबर को होगा मांगों पर फैसला

हॉस्टल में पर्याप्त कमरे न होने और पढ़ाई से संबंधित कई दूसरी खामियां स्टूडेंट उठाते रहे हैं. लंबे समय तक अनसुना होने के बाद वे धरने और उपवास पर बैठ गए.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 14, 2018, 3:40 PM IST
  • Share this:
नालंदा मेडिकल कॉलेज परिसर में पैरा मेडिकल छात्रों का धरना और उपवास शुक्रवार को खत्म हो सका है. चार दिनों से चल रहे धरने में छात्रों ने कई मांगें उठाई थीं. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने आश्वासन दिया है कि उनकी सारी मांगे पूरी की जाएंगी. हालांकि मांगों के संबंध में 22 सितंबर को बैठक में फैसला लिया जाएगा.

बिहार पैरा मेडिकल छात्र समिति के बैनर तले किए जा रहे प्रदर्शन में विद्यार्थियों ने कई अव्यवस्थाओं को सुधारने की मांग की. इनमें हॉस्टल में पर्याप्त कमरे, छात्रवृत्ति और एकेडमिक कैलेंडर दुरुस्त किए जाने समेत कई बातें थीं. पहले भी ये मांगे उठाई जा चुकी थीं लेकिन किसी को सुध न लेता देखकर छात्रों ने इसे आंदोलन का रूप दे दिया.

इधर स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने खुद नालंदा मेडिकल कॉलेज स्थित धरना स्थल पर पहुंच कर पैरा मेडिकल छात्रों को इस दिशा में कार्यवाही किए जाने का आश्वासन दिया. मामले को लेकर 22 सितंबर को सूबे के सभी मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य और अधीक्षक और पारा मेडिकल काउंसिल के साथ स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव की एक महत्वपूर्ण बैठक होगी. इसी दौरान इस पूरे मामले पर निर्णय लिया जाएगा. वहीं पैरा मेडिकल छात्रों का कहना है कि जब तक सभी मांगें पूरी नहीं की जाएगी, वे वह चैन से नहीं बैठेंगे. मांग पूरी नहीं होने पर जेल भरो आंदोलन भी चलाया जा सकता है. (रिपोर्ट- मनोज)



ये भी पढ़ें-
जीतन राम मांझी ने दारोगा पर लगाया एससी-एसटी एक्ट में फर्जी केस थोपने का आरोप

10वीं पास ले सकते हैं गैस सिलेंडर की एजेंसी, ये है अप्लाई करने का तरीका 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज