• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • 2023 में बनकर तैयार हो जाएगा पटना एयरपाेर्ट का नया टर्मिनल, एक साथ पार्क हो सकेंगे 14 विमान

2023 में बनकर तैयार हो जाएगा पटना एयरपाेर्ट का नया टर्मिनल, एक साथ पार्क हो सकेंगे 14 विमान

हिसार एयरपोर्ट को जल्द मिलेगी एनओसी. (सांकेतिक फोटो)

हिसार एयरपोर्ट को जल्द मिलेगी एनओसी. (सांकेतिक फोटो)

Patna Airport: पटना एयरपोर्ट पर बन रहे इस नए टर्मिनल में मल्टीलेवल पार्किंग में 750 कार पार्किंग हाेगी. कार पार्किंग के बाद यात्री टर्मिनल भवन से पहुंचेंगे, फिर एयराेब्रिज से सीधे विमान में पहुंच जाएंगे.

  • Share this:
पटना. पटना से हवाई यात्रा करने वाले लोगों को जल्द ही कई सुविधाओं का लाभ मिलेगा. पटना एयरपाेर्ट (Patna Airport) के नए टर्मिनल भवन का काम जोरो पर है. लाॅकडाउन (Lockdown) की वजह से पटना एयरपाेर्ट के नए टर्मिनल भवन के बनने में एक साल देर हाे गया है. दरअसल इसे 2022 में ही पूरा हाेना था पर अब यह मार्च 2023 में बनकर तैयार हाेगा. 1216.90 कराेड़ की लागत से बनकर तैयार हाेने के बाद पटना एयरपाेर्ट की क्षमता बढ़कर 80 लाख यात्री सालाना हाे जाएगी जो कि अभी 45 लाख है.

एयरोब्रिज की मिलेगी सुविधा

एयरपाेर्ट प्रशासन ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि नई सुविधा के तहत 14 एयरक्राफ्ट पार्किंग बे बनेगा साथ ही 5 एयराेब्रिज बनेगा. नए भवन में 52 चेक इन काउंटर बनेंगे, 5 कंवेयर बेल्ट रहेगा, लिफ्ट और एस्केलेटर भी रहेगा. 7 लाख वर्गफीट में बेसमेंट, जी प्लस टू बन रहे इस नए भवन की ऊंचाई 25 मीटर हाेगी. बेसमेंट में सिक्युरिटी, बैगेज, भवन प्रबंधन, एयरपाेर्ट हैंडलिंग रहेगा. ग्राउंड फ्लाेर पर अराइवल, प्रथम तल्ला पर डिपार्चर और दूसरे तल्ले पर अधिकारियाें के दफ्तर रहेंगे.

मल्टी ब्रांड रिटेल भी

इसी भवन में 62 हजार वर्गफीट में मल्टी ब्रांड रिटेल भी बनेगा. नए भवन बन जाने बाद विमानाें की तादाद भी बढ़ेगी. नई एयर कंपिनयाें के जहाज यहां से शुरू हाे जाएंगे. एयरपाेर्ट अथाॅरिटी ऑफ इंडिया, पटना एयरपाेर्ट के जीएम प्राेजेक्ट इंजीनियरिंग केएस विजयन ने बताया कि काेराेना और लाॅकडाउन की वजह से प्राेजेक्ट देर हाे गया. मार्च 2023 में इसे पूरा करने की पूरी काेशिश की जाएगी.

क्या हाेगा यात्रियाें काे फायदा

1. एयराेब्रिज बनने से- यात्री टर्मिनल भवन से चेकआउट करने के बाद एयराेब्रिज से सीधे हवाई जहाज में पहुंच जाएंगे. इससे कम समय कम लगेगा और यात्रियों को बस पर बैठने की जरूरत नहीं हाेगी. यात्रियाें की हैडलिंग आसान हाे जाएगी. विमानाें की तादाद बढ़ने के बाद भी यात्रियाें काे दिक्कत नहीं हाेगी.

2. 14 एयरक्राफ्ट पार्किंग वे से एक समय में 14 विमानाें की पार्किंग हाेगी. इससे लगातार विमानाें की आवाजाही हाेती रहेगी और यात्रियाें का समय बचेगा.

3. 52 चेकइन काउंटर से यात्रियाें काे चेकइन करने में लंबी कतार नहीं लगानी हाेगी. कम समय में ही उनकी चेकइन हाे जाएगा. अरावाइल में 5 कन्वेयर बेल्ट लग जाने से पटना आने वाले यात्रियाें का सामान जल्द मिल जाएगा. उन्हें सामान लेने के लिए इंतजार नहीं करना हाेगी. अभी इस व्यवस्था में 15 से 30 मिनट लगता है.

4. जी प्लस 5 मल्टीलेवल पार्किंग में 750 कार पार्किंग की व्यवस्था हाेगी. कार लगाने के बाद यात्री फ्लाईओवर से टर्मिनल भवन से पहुंचेंगे फिर एयराेब्रिज से सीधे विमान में पहुंच जाएंगे.

5. इसके अलावा एसटीएफ ने जाे जमीन दिया है उसमें एटीसी टावर, फायर स्टेशन, कार्गाें व टेक्निकल विभाग के दफ्तर बनेंगे. अभी जाे टर्मिनल भवन है उसमें 2 हजार वर्गफीट का विस्तार हुआ है.  कंव्येर बेल्ट 2 से 3, हैंड बैगेज मशीन की तादाद 3 से 5, रजिस्टर्ड बैगेज मशीन 3 से 5 अाैर फीमेल फ्रिसकिंग बूथ की तादाद 2 से 4 हाे जाएगी. इन सब की तादाद बढ़ जाने से यात्रियाें काे चेकइन एरिया में कम वक्त तक कतार में रहना पड़ेगा.

बिहटा एयरपाेर्ट का नहीं हुआ है टेंडर

पटना से सटे बिहटा एयरपाेर्ट के नए टर्मिनल भवन बनने के लिए अभी टेंडर नहीं हुआ है. केंद्र सरकार की पब्लिक इंवेस्टमेंट ब्यूराे ने टेंडर के लिए हरी झंडी नहीं दी है. सरकार से 8 एकड़ जमीन की और मांग की जा रही है जाे अभी नहीं मिली है. अभी बिहटा एयरपाेर्ट के पास 108 एकड़ जमीन है. 8 एकड़ जमीन मिल जाने से एयरक्राफ्ट पार्किंग वे की तादाद बढ़ेगी. 8 एकड़ जमीन मिलने के बाद भी रनवे की लंबाई करीब 75 साै वर्गफीट ही रहेगी पर भवन बड़ा हाे जाएगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज