कोरोना के खौफ से बिहार की सबसे बड़ी बेऊर जेल में कैदियों से सीधी ‘मिलाई’ पर रोक, कर सकते हैं ई-मुलाकात

पटना के बेउर जेल में कैदियों से मुलाकात पर लगी रोक (फाइल फोटो)

पटना के बेउर जेल में कैदियों से मुलाकात पर लगी रोक (फाइल फोटो)

Corona Terror: बिहार में रोजाना कोरोना के नए केस बड़ी संख्या में तेजी से सामने आ रहे हैं. इन हालातों में कोरोना संक्रमण से कैदियों को बचाने के लिए जेल प्रबंधन ने एहतियात के तौर पर कैदियों से मुलाकात पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है.

  • Share this:
पटना. बिहार में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ता ही जा रहा है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में सभी जिलों के डीएम और एसपी के साथ हुए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में फीडबैक लेने के बाद सीएम ने कोरोना से निबटने के लिए तमाम तरह के निर्देश दिए हैं. जेल विभाग ने भी कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जेल में इसकी आंच नहीं आने को लेकर एहतियात के तौर पर कई कदम उठाये हैं.

बिहार के सबसे बड़े बेउर जेल के कैदी अपने परिजनों से अगले आदेश तक नहीं मिल सकेंगे. जेल विभाग ने कैदियों के उनके परिजनों से मुलाकात पर प्रतिबंध लगा दिया है. यानी अब बेउर जेल में कैदियों की परिजनों से मुलाकात संभव नहीं है. जेल प्रशासन ने बंदी के परिजनों से अनुरोध किया है कि वे ई-मुलाकात के माध्यम से अपने बंदी से मिल सकते हैं. जेल में चल रहे टेलिफोन बूथ के माध्यम से बातचीत करने के लिए बंदियों के तीन रिश्तेदारों का मोबाइल नंबर जेल प्रशासन को दिया जा सकता है.

फोन पर भी परिजन कैदियों से कर सकते हैं बात

इन सभी मोबाइल नंबर की जांच कराने के बाद कैदियों की अपनों से बात करवाई जा सकेगी, साथ ही वकालतनामा या बेल बांड को लेकर किसी भी तरह की असुविधा या फिर किसी भी तरह के सुझाव के लिए भी मोबाइल नंबर पर संपर्क करने का अनुरोध किया गया है. मोबाइल नम्बर 0612 2250352/ 9835461408/ 7273085841/ 9471009824 पर संपर्क कर बेलबांड या वकालतनामा से संबंधित परेशानी की जानकारी दी जा सकती है.
जेल प्रशासन ने चेताया

जेल प्रशासन ने किसी प्रकार की प्रतिबंधित सामग्री के आदान-प्रदान किए जाने के साक्ष्य प्राप्त होने पर सख्त कानूनी कार्रवाई की भी चेतावनी दी है. जेल प्रशासन ने कहा है कि वकालतनामा बेल बाउंड या अन्य किसी प्रकार के कार्य के लिए अगर कोई जेल कर्मी या परिजन पैसा का लेन-देन करता है तो यह दंडनीय अपराध माना जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज