• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • PATNA PATNA BIHAR CM NITISH KUMAR INSTRUCTED GOVERNMENT OFFICIALS TO LISTEN TO MP AND MLA SUGGESTIONS NODMK8

CM नीतीश कुमार का अफसरों को स्पष्ट संदेश, सांसदों-विधायकों के सुझावों को सुनें 

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जल संसाधन विभाग की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

रविवार को जल संसाधन विभाग की समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने अधिकारियों को साफ-साफ लहजे में निर्देश दिया कि वो अधिकारी सांसदों और विधायकों के सुझाव पर अमल करें. इन सुझावों से बाढ़ पूर्व की तैयारी में काफी सहूलियत होगी

  • Share this:
पटना. बिहार के सांसदों और विधायकों की अक्सर यह शिकायत रहती है कि अधिकारी उनकी सुनते नहीं. जनप्रतिनिधियों की इस शिकायत को दूर करने के लिए अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि अधिकारी सांसदों और विधायकों के सुझाव पर अमल करें.

रविवार को पटना (Patna) में नीतीश कुमार संभावित बाढ़ के खतरे (Flood Danger) को देखते हुए जल संसाधन विभाग की समीक्षा बैठक कर रहे थे. बैठक में जल संसाधन मंत्री संजय झा भी मौजूद थे. इस दौरान सीएम नीतीश कुमार लगातार अधिकारियों से बाढ़ की तैयारियों की जानकारी ले रहे थे. साथ ही उन्हें इस संबंध में जरूरी निर्देश भी दे रहे थे. इस दौरान नीतीश कुमार ने अधिकारियों को साफ-साफ लहजे में निर्देश दिया कि वो अधिकारी सांसदों और विधायकों के सुझाव पर अमल करें.

बैठक में जल संसाधन विभाग के सचिव संजीव कुमार हंस ने बताया कि 13 से 21 मई तक सांसदों, विधायकों और विधान पार्षदों के साथ प्रमंडलवार बैठक की गई. बैठक के दौरान जनप्रतिनिधियों ने बाढ़ पूर्व कार्यों और भावी परियोजनाओं को लेकर सुझाव दिए.

मुख्यमंत्री ने इस पर कहा कि सांसदों, विधायकों और विधान पार्षदों के साथ बैठक में महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए थे. इन सुझावों से बाढ़ पूर्व की तैयारी में काफी सहूलियत होगी. उन्होंने कहा कि सभी जनप्रतिनिधियों ने अपने-अपने क्षेत्र के फीडबैक भी संबंधित विभागों को दिए हैं. इससे भावी योजनाओं के निर्माण में मदद मिलेगी. सीएम नीतीश कुमार ने स्पष्ट कहा कि जनप्रतिनिधियों के सुझाव को ध्यान में रखते हुए सभी विभाग कार्य करें.

बैठक में नीतीश कुमार ने संभावित बाढ़ के खतरे को देखते हुए अधिकारियों को महत्वपूर्ण निर्देश दिये... 

- क्षतिग्रस्त सड़कों पुल-पुलिया की पुनर्स्थापना को प्राथमिकता के साथ 15 जून तक पूर्ण करें. सभी पथों एवं पुलों का अनुरक्षण करें
- तटबंध के ऊंचीकरण, मजबूतीकरण कार्य को तेजी से पूर्ण करें
- बाढ़ सुरक्षा हेतु शेष सभी कटाव निरोधक कार्य एवं सुरक्षात्मक कार्य को जल्द पूरा करें
- विशेष अभियान चलाकर बरसात के पूर्व पुल-पुलिया की सफाई करें
- बाढ़ को लेकर सभी अधिकारी पूरी तरह से सचेत रहें
Published by:Manish Kumar
First published: