Assembly Banner 2021

उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन का कांग्रेस पर तंज, कहा- पार्टी को अपने ही नेताओं पर भरोसा नहीं

उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने तेजस्वी यादव और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के बीच हुई मुलाकात पर भी निशाना साधा है

उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने तेजस्वी यादव और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के बीच हुई मुलाकात पर भी निशाना साधा है

बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन (Shahnawaz Hussain) ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि वो पूरी तरीके से बंट चुकी है. पार्टी में वर्टिकल डिवीजन देखने को मिल रही है, कांग्रेस के पास कोई नेता है. कांग्रेस अब सिर्फ नाम की बची हुई पार्टी है

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 2, 2021, 11:12 PM IST
  • Share this:
पटना. राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) पश्चिम बंगाल दौरे में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) से मुलाकात कर पटना वापस लौट आए हैं. बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन (Shahnawaz Hussain) ने इस मुलाकात पर चुटकी लेते हुए कहा कि कांग्रेस का सबसे बड़ा दुर्भाग्य है कि उसके नेताओं को ही पार्टी पर भरोसा नहीं है, और कांग्रेस के जो बिहार में सहयोगी हैं उन्हें भी कांग्रेस पर भरोसा नहीं है. उन्होंने कहा कि बिहार में कांग्रेस और आरजेडी ने मिलकर चुनाव लड़ा था लेकिन बंगाल में यह दोनों आमने-सामने होंगे, यह कांग्रेस के लिए अलार्म है. बिहार में इसका कितना असर देखने को मिलेगा यह वक्त बताएगा.

शाहनवाज हुसैन ने कहा कि कांग्रेस पूरी तरीके से बंट चुकी है. पार्टी में वर्टिकल डिवीजन देखने को मिल रही है, कांग्रेस के पास कोई नेता है. कांग्रेस अब सिर्फ नाम की बची हुई पार्टी है. केरल विधानसभा चुनाव के संदर्भ में उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी यहां लाल झंडे से लड़ रही है और मुस्लिम लीग के हरे झंडे को सीने से लगा रही है. मगर जब बंगाल में जाती है तो पार्टी लाल झंडे के साथ हो जाती है और टीएमसी के झंडे को किनारे कर देती है.

उद्योग मंत्री ने कहा कि अलग-अलग राज्यों में कांग्रेस की अलग-अलग राजनीति होती है. बिहार में वो लालटेन (आरजेडी) के साथ रहती है लेकिन बंगाल में जाकर उससे अलग हो जाती. यही कारण है कि कांग्रेस के जो जी-23 लीडर हैं उन्हें अब कांग्रेस पर विश्वास नहीं है. देश की जनता को भी अब कांग्रेस पर विश्वास नहीं है, सिर्फ घर के लोगों को ही कांग्रेस पर भरोसा है उसमें भी अब कहीं ना कहीं दरार दिख रही है. (धर्मेंद्र कुमार की रिपोर्ट)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज