सरकारी योजनाओं का लाभ हर गरीब को, शिक्षक नियुक्ति के लिए आवेदन 27 अगस्त से

बिहार में करीब 40 हजार माध्यमिक एवं प्लस-टू शिक्षकों की नियुक्ति होगी. इसके लिए शिक्षा विभाग ने सोमवार को नियोजन का शिड्यूल जारी कर दिया है.

News18 Bihar
Updated: July 2, 2019, 7:57 AM IST
सरकारी योजनाओं का लाभ हर गरीब को, शिक्षक नियुक्ति के लिए आवेदन 27 अगस्त से
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सोमवार को विधानसभा में भाषण देते हुए
News18 Bihar
Updated: July 2, 2019, 7:57 AM IST
चमकी बुखार से हो रही बच्चों की मौतों पर घिरी नीतीश सरकार ने सोमवार को विधानसभा में अपना पक्ष रखा. विपक्ष के आरोपों का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने स्वीकार किया कि एईएस से इस बार बड़ी संख्या में बच्चों की मौत हुई है. हम पता लगा रहे हैं कि यह बीमारी होती क्यों है. वर्ष 2014 से ही रिसर्च जारी है. अभी तक नतीजे पर नहीं पहुंच पाए हैं.

सामाजिक-आर्थिक सर्वे जरूरी
दैनिक जागरण, प्रभात खबर और हिन्दुस्तान समेत सभी प्रमुख अखबार लिखता है कि सीएम ने विपक्ष के आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि हम चुप नहीं बैठे हैं. हमने कई बैठकें की हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने दौरा किया. जागरूकता पर काम भी किया जा रहा है. संयुक्त कमेटी बनाई जा रही है. हालांकि यह तथ्य निकलकर आया है कि जिन परिवारों में मौतें हुई हैं वे सभी गरीब परिवारों से हैं और उनमें बच्चियों की संख्या अधिक हैं.

सीएम ने कहा कि सामाजिक-आर्थिक सर्वे जरूरी है, ताकि पता चल सके कि यह बीमारी गरीब बच्चों को ही क्यों हो रही है. रिपोर्ट के आधार पर कार्य योजना बनाकर काम होगा और सरकारी योजनाओं का लाभ हर गरीब को मिलेगा.

शिक्षक नियुक्ति का शिड्यूल जारी
बिहार में करीब 40 हजार माध्यमिक एवं प्लस-टू शिक्षकों की नियुक्ति होगी. इसके लिए शिक्षा विभाग ने सोमवार को नियोजन का शिड्यूल जारी करते हुए सभी नियोजन इकाईयों को यह आदेश दिया है कि पांचवें चरण की जो नियोजन प्रक्रिया चल रही है, उसे पूरा करते हुए छठे चरण की नियुक्ति की कार्रवाई एवं प्रक्रिया का निर्धारण सुनिश्चित करायेंगे.

हिन्दुस्तान लिखता है कि विभाग ने 29 जुलाई तक सभी जिला परिषद एवं नगर निकाय नियोजन इकाइयों को खाली पदों तथा अतिरिक्त पदों की अंतिम सूची तैयार करने का आदेश दिया है. इसके बाद 27 अगस्त से 26 सितंबर तक अभ्यर्थियों से आवेदन जमा लिया जाएगा.
Loading...

पंचवटी डकैतीकांड का खुलासा
बीते 21 जून को राजीव नगर थाना के दीघा-आशियाना रोड पर दिनदहाड़े अपराधियों ने हथियार के बल पर पंचवटी ज्वेलर्स के दुकान मालिक और उनके कर्मचारियों को बंधक बना लिया था. इसके बाद 5 करोड़ के गहने और 13 लाख नकद लूट लिए थे. पटना पुलिस ने इसमें शामिल अपराधी सरगना रवि गुप्ता समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.

दैनिक भास्कर लिखता है कि गिरफ्तार किए गए तीनों अपराधियों के पास से 3 किलो सोना और 3 किलो चांदी भी बरामद की गई है. पुलिस ने 6 लाख 30 हजार कैस भी बरामद कर लिया है. पटना के आलमगंज का रहने वाले रवि गुप्ता और उनके साथी कई अपराधों में वांछित थे.

ये भी पढ़ें-

तेजस्वी 'लापता' प्रकरण: RJD और महागठबंधन ने सिर्फ खोया ही खोया!

पंचवटी ज्वेलर्स डकैतीकांड का पटना पुलिस ने किया उद्भेदन, मुख्य आरोपी सहित तीन गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 2, 2019, 7:51 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...