• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • सुर्खियां: बाढ़ पीड़ितों के खाते में जमा हुए 6-6 हजार रुपये, वज्रपात से 13 की मौत

सुर्खियां: बाढ़ पीड़ितों के खाते में जमा हुए 6-6 हजार रुपये, वज्रपात से 13 की मौत

बाढ़ पीड़ित परिवारों की राहत के लिए सहायता राशि डीबीटी के माध्यम से भुगतान प्रक्रिया का शुभारंभ करते हुए सीएम नीतीश कुमार.

बाढ़ पीड़ित परिवारों की राहत के लिए सहायता राशि डीबीटी के माध्यम से भुगतान प्रक्रिया का शुभारंभ करते हुए सीएम नीतीश कुमार.

राज्य सरकार ने बिहार पुलिस सेवा के 30 अधिकारियों का तबादला किया है. बदले गए अधिकारी डीएसपी रैंक के हैं.

  • Share this:
    बीते 16 जुलाई को सीएम नीतीश कुमार ने विधानमंडल में घोषणा की थी कि बाढ़ पीड़ित परिवारों को 6-6 हजार रुपये दिए जाएंगे. वादे के मुताबिक राज्य सरकार ने शुक्रवार को बाढ़ पीड़ितों के बैंक खाते में एक सौ 81 करोड़ रुपया डाल दिया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के एक क्लिक से तीन लाख से अधिक पीड़ित परिवारों के खाते में छह हजार रुपये की दर से रुपये जमा हो गए. अगले 48 घंटे के भीतर यह राशि पीड़ितों को मिल जाएगी. भुगतान डीबीटी के जरिए हुआ.

    DBT के जरिए पैसे हुए ट्रांसफर
    प्रभात खबर लिखता है कि पहले चरण में तीन लाख दो हजार 329 परिवारों की पहचान बाढ़ पीड़ित के तौर पर की गई है. प्रति परिवार छह हजार की दर से एक सौ 81 करोड़ 39 लाख, 74 हजार रुपये का भुगतान किया गया है. पीड़ितों की सूची में नाम दर्ज होने वाले नए परिवारों को भी यह राशि दी जाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारी योजनाओं से अनभिज्ञ परिवारों के खाते खोलने के लिए बैंक अधिकारियों को निर्देश दिये गए हैं.

    सूबे में वज्रपात से 13 की मौत
    दैनिक जागरण लिखता है कि वज्रपात से प्रदेश में 13 लोगों की मौत हो गई. नवादा में जहां शुक्रवार दोपहर बाद तीन बजे वज्रपात से 9 लोगों की अकाल मौत हो गई. वहीं, अरवल के करपी प्रखंड के दो गांवों में बारिश के साथ हुए वज्रपात से सगे भाइयों समेत तीन लोगों और औरंगाबाद के ओबरा थाना के भरूब गांव के बधार में फुटबॉल खेल रहे दो किशोरों की जान चली गई.

    30 पुलिस अधिकारियों के तबादले
    हिन्दुस्तान लिखता है कि राज्य सरकार ने बिहार पुलिस सेवा के 30 अधिकारियों का तबादला किया है. बदले गए अधिकारी डीएसपी रैंक के हैं. शुक्रवार को गृह विभाग की अधिसूचना के अनुसार एसडीपीओ लखीसराय मनीष कुमार को एसडीपीओ पटना सिटी बनाया गया है. डीएसपी (मुख्यालय) पटना सहरियार अख्तर को एसडीपीओ रोसड़ा, दरभंगा में तैनात डीएसपी अनिल कुमार को यातायात डीएसपी पटना, विशेष शाखा के डीएसपी आलोक कुमार सिंह को डीएसपी (मुख्यालय) पटना बनाया गया है.

    एसडीपीओ पटना सिटी बलिराम कुमार चौधरी को सहरसा का अपर पुलिस अधीक्षक बनाया गया है. इसके अलावा पटना में तैनात डीएसपी (रक्षित) श्याम सुंदर प्रसाद कश्यप को इसी पद पर भोजपुर और भोजपुर के आशीष कुमार सिंह को पटना भेजा गया है.

    बिना इंटरव्यू डॉक्टरों की नियुक्ति
    प्रभात खबर लिखता है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई कैबिनेट की बैठक में डॉक्टरों की बहाली के नियम में बदलाव को मंजूरी दे दी गई. स्वास्थ्य विभाग की नियमावली को कैबिनेट की मंजूरी के बाद अब डॉक्टरों की बहाली प्रक्रिया पूरी तरह बदल जाएगी. डॉक्टरों को अब साक्षात्कार नहीं देना होगा। अंक के आधार पर राज्य सरकार के अधीन उनकी नियुक्ति होगी.

    ये भी पढ़ें-


    नवादा में बिजली गिरने से 8 की मौत, सीएम नीतीश ने 4-4 लाख मुआवजे का किया ऐलान




    समस्तीपुर में नहाने गए 5 बच्चे डूबे, सभी की मौत

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज