पुणे से पटना पहुंची ढाई लाख वैक्सीन डोज, 18-44 वर्ष के टीकाकरण अभियान में आएगी तेजी

मंगलवार को कोविशील्ड की दो लाख 52 हजार और को-वैक्सीन की एक लाख डोज विमाण से पुणे से पटना पहुंची (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मंगलवार को कोविशील्ड की दो लाख 52 हजार और को-वैक्सीन की एक लाख डोज विमाण से पुणे से पटना पहुंची (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना एयरपोर्ट (Patna Airport) पर माैजूद राज्य स्वास्थ्य समिति के अधिकारी ने वैक्सीन की डोज को रिसीव किया जहां से इसे राज्य स्वास्थ्य समिति में ले जाया गया. यहां से जरूरत के अनुसार वैक्सीन सभी सेंटरों पर पहुचाया जाएगा

  • Share this:

पटना. बिहार में 18 वर्ष से 44 साल के उम्र के लोगों को वैक्सीन (Vaccination) लगायी जा रही है. हालांकि इस दौरान कई टीका केंद्रों पर वैक्सीन की किल्लत (Vaccine Crisis) देखी जा रही है. वैक्सीन की इस कमी को देखते हुए केंद्र सरकार के द्वारा बिहार (Bihar) में लगातार वैक्सीन की सप्लाई की जा रही है. मंगलवार को इंडिगो का एक विमान कोविशील्ड (Covishield) वैक्सीन की दो लाख 52 हजार डोज लेकर पुणे से पटना पहुंचा. पटना एयरपोर्ट (Patna Airport) पर माैजूद राज्य स्वास्थ्य समिति के अधिकारी ने वैक्सीन की डोज को रिसीव किया जहां से इसे राज्य स्वास्थ्य समिति में ले जाया गया. यहां से जरूरत के अनुसार वैक्सीन सभी सेंटरों पर पहुंचाया जाएगा. वहीं, पटना एयरपोर्ट पहुंचे अधिकारी ने बताया कि पुणे से वैक्सीन की खेप आयी है जो 21 बॉक्स और 10 बॉक्स हैं, इन्हें सभी जगहों पर भेजा जाएगा.

निश्चित तौर पर यह कहा जा सकता है कि वैक्सीन की किल्लत को दूर करने के लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है. इसके तहत मंगलवार को कोविशील्ड की दो लाख 52 हजार और को-वैक्सीन की एक लाख डोज विमाण से पुणे से पटना पहुंची.

बिहार में पिछले कुछ दिनों में कोरोना संक्रमण की रफ्तार धीमी पड़ी है. अब वैक्सीन के लगातार आने से  निश्चित तौर पर संक्रमण काल मे यह राहत की बात है. उम्मीद है कि फिलहाल जिन केंद्रों पर वैक्सीन के कमी के कारण टीकाकरण रुका था, वहां फिर से टीकाकरण शुरू अभियान शुरू होगा और सरकार ने जो 18 से 44 साल तक के लिए जनता के लिए मुहिम चलाया है वो सफल होगा।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज