• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • Bihar News: पटना के इस लोकेशन पर नया रेलवे स्टेशन बनने का रास्ता साफ, यहां जानें पूरा प्लान

Bihar News: पटना के इस लोकेशन पर नया रेलवे स्टेशन बनने का रास्ता साफ, यहां जानें पूरा प्लान

पटना हाई कोर्ट के आदेश के बाद हार्डिंग पार्क में नया स्टेशन बनने की राह आसान हुई.

पटना हाई कोर्ट के आदेश के बाद हार्डिंग पार्क में नया स्टेशन बनने की राह आसान हुई.

Patna News: पटना स्थित हार्डिंग पार्क में उपनगरीय स्टेशन (Sub Urban station) के निर्माण से पटना जंक्शन का लोड काफी कम हो जाएगा. रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार सामान्य परिचालन की स्थिति में पटना जंक्शन से आने जाने वाली 50 से अधिक सवारी गाड़ियां हार्डिंग पार्क में प्रस्तावित टर्मिनल से खुलेंगी. 

  • Share this:

पटना. रेल यात्रियों के लिए पटना हाई कोर्ट (Patna High Court) की ओर से बड़ी खुशखबरी सामने आई है. मेट्रो सिटीज और बड़े शहरों की तर्ज पर अब पटना से आने-जाने वाली पैसेंजर ट्रेनों के लिए अलग से स्टेशन बनने का रास्ता साफ हो गया है. दरअसल, रेलवे की ओर से पटना के हार्डिग पार्क (Harding Park in Patna) (पुराना बस स्टैंड) की जमीन राज्य सरकार से मांगे जाने के बाद अब हाई कोर्ट से भी हरी झंडी मिल गई है. पूर्व मध्य रेल के सीपीआरओ राजेश कुमार के अनुसार राज्य सरकार से जमीन हस्तांतरण की कार्रवाई पूरी होते ही स्टेशन का निर्माण शुरू हो जाएगा.

बता दें कि पटना हाई कोर्ट ने पटना स्थित हार्डिंग पार्क मामले में फैसला देते हुए राज्य सरकार और रेलवे के बीच हुए समझौते को सही ठहराया है. चीफ जस्टिस संजय करोल की खंडपीठ ने शंभू शरण सिंह की याचिका पर सुनवाई पूरी कर फैसला सुरक्षित रखा था, जिसे सोमवार को सुना दिया गया.  राज्य सरकार के महाधिवक्ता ललित किशोर ने बताया कि बिहार सरकार और रेलवे के बीच एक समझौता हुआ, जिसके तहत हार्डिंग पार्क के दक्षिणी हिस्से को राज्य सरकार रेलवे को सौंपेगी.

ललित किशोर ने बताया कि पटना जंक्शन के विकास के लिए राज्य सरकार ने रेलवे को 4.82 एकड़ भूमि देगी, जिस भूमि पर रेलवे पटना स्टेशन के विकास के लिए कार्य करेगा. बता दें कि हार्डिंग पार्क के विकास और सौंदर्यीकरण के लिए यह रिट याचिका दायर की गई थी. इस पर हाईकोर्ट में लंबी बहस हुई थी. गौरतलब है कि रेलवे राज्य सरकार को पटना साहिब स्टेशन से पटना घाट तक के उन्नीस एकड़ भूमि सौंपेगी, जिसमें राज्य सरकार विकास कार्य करेगी. इसके साथ ही खगौल में रेलवे द्वारा राज्य सरकार को 9 एकड़ भूमि दी जाएगी.

पटना हाईकोर्ट का फैसला इस मायने में महत्वपूर्ण है कि हार्डिंग पार्क के दक्षिणी हिस्से में, जहां कभी बस अड्डा हुआ करता था, अब वह भूमि रेलवे को मिल गई है. इसका उपयोग वह पटना रेलवे स्टेशन के विस्तार और विकास के लिए करेगी. रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार पटना में भी अब मुंबई, चेन्नई और हावड़ा की तर्ज पर पैसेंजर गाड़ियों के लिए सब-अर्बन स्टेशन बनाया जाएगा.

रेलवे अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार पटना जंक्शन के यार्ड से सटे हार्डिंग पार्क की खाली जमीन पर पैसेंजर ट्रेनों के लिए चार प्लेटफार्म बनाने का काम जल्द शुरू होगा. यहीं से पैसेंजर ट्रेनें खुलेंगी. इसका नक्शा बनकर तैयार है. पटना हार्डिंग पार्क स्टेशन के बन जाने से पटना जंक्शन का लोड काफी कम हो जाएगा. जंक्शन पर पैसेंजर ट्रेनों के यात्रियों की भीड़ कम जाएगी. खास तौर से पश्चिम जाने वाली और पाटलिपुत्र स्टेशन होकर जाने वाली पैसेंजर ट्रेनों के यात्रियों को काफी सुविधा हो जाएगी.

बताया जा रहा है कि हार्डिंग पार्क में लोकल ट्रेनों के लिए फिलहाल सिंगल लाइन वाले चार प्लेटफॉर्म बनाए जाएंगे. इस तरह यहां अप में दो व डाउन में दो सवारी गाड़ियां एक साथ खड़ी हो सकेंगी सिंगल लाइन होने के कारण दोनों प्लेटफार्म पर यात्री उतर सकेंगे. मेमू ट्रेनों के चलाने में इंजन बदलने की आवश्यकता नहीं होती है, इसलिए सिंगल लाइन से भी आसानी से इन्हें ऑपरेट किया जा सकेगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज