• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • पटना हाईकोर्ट की नीतीश सरकार को दो टूक, कोटे के बाद भी ऑक्सीजन नहीं दे सकते तो अस्पतालों में बेड कम कर दें

पटना हाईकोर्ट की नीतीश सरकार को दो टूक, कोटे के बाद भी ऑक्सीजन नहीं दे सकते तो अस्पतालों में बेड कम कर दें

पटना हाईकोर्ट ने कोरोना के इलाज को लेकर नीतीश सरकार से सवाल पूछे हैं (फाइल फोटो)

पटना हाईकोर्ट ने कोरोना के इलाज को लेकर नीतीश सरकार से सवाल पूछे हैं (फाइल फोटो)

Strict Attitude of Patna High Court: पटना हाईकोर्ट ने कोरोना से जुड़े मामलों को दायर जनहित याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए पूछा कि जब केंद्र सरकार ने राज्य को 194 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का कोटा जारी किया तो उसे अस्पतालों तक क्यों नहीं ले जाया जा रहा है?

  • Share this:
पटना. बिहार में बढ़ रहे करोना महामारी (Corona Pandemic) और चिकित्सा व्यवस्था (Health System) की दुर्दशा पर पटना हाईकोर्ट (Patna High Court) ने सख्त रुख अपनाया है. जस्टिस सीएस सिंह की खंडपीठ ने आक्सीजन की कमी (Oxygen Crisis) को लेकर दायर जनहित याचिकाओं पर सुनवाई की. इस दौरान कोर्ट ने राज्य के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कम आपूर्ति पर नाराजगी जताई. कोर्ट ने राज्य सरकार पूछा कि जब केंद्र सरकार ने राज्य को 194 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का कोटा जारी किया तो उसे अस्पतालों तक क्यों नहीं ले जाया जा रहा है?

पटना हाईकोर्ट ने सख्त टिप्पणी करते हुए कहा कि अगर ऑक्सीजन आपूर्ति नहीं हो सकती तो अस्पतालों में बेड की संख्या कम कर दें. कोर्ट ने कहा कि बेड की संख्या कम कर दें तो ऑक्सीजन की कम ही जरूरत होगी. कोर्ट ने लगे हाथों राज्य सरकार के उस दावे को खारिज कर दिया, जिसमें अस्पतालों में ऑक्सीजन सिलेंडर पर्याप्त संख्या में होने की बात कही गई थी. कोर्ट ने कोरोना से निबटने के लिए की जा रही कार्रवाई की रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया है.

अभी तक कार्रवाई का ब्योरा पेश करने के आदेश
कोर्ट ने इस मामले में अभी तक की कार्रवाई का ब्योरा पेश करने का निर्देश दिया है. मालूम हो कि बिहार में कोरोना से संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं. राज्य में फिर से संक्रमित मरीजों के आंकड़ों में पिछले 3 दिनों की अपेक्षा काफी वृद्धि देखी गई है. 24 घंटे में राज्यभर में कुल 13374 कोरोना के नए मरीज मिले हैं, जिसके साथ ही अब एक्टिव केस (Active Cases ) की संख्या लाख के करीब 98747 पहुंच गई है.

24 घंटे में सबसे ज्यादा मरीज पटना में मिले
पटना जिले में सबसे ज्यादा 2207 मरीजों में कोरोना संक्रमण (Corona Infection ) की पुष्टि हुई है, जबकि समस्तीपुर में 401, बेगूसराय में 764, भागलपुर में 454, औरंगाबाद में 597, पूर्णिया में 548, सारण में 589, सुपौल में 427, वेस्ट चम्पारण में 547, गया में 1133, मुजफ्फरपुर में 490, नालन्दा में 423 मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है. बढ़ते संक्रमण के आंकड़ों के बाद राज्य में रिकवरी दर में भी काफी गिरावट हो रही है और रिकवरी दर घटकर 77.09 प्रतिशत पर पहुंच गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज