अपना शहर चुनें

States

बिहार के DGP बोले- रूपेश हत्याकांड संवेदनशील और जटिल केस, अपराधी को जल्द पकड़ेंगे

पटना एयरपोर्ट पर इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रहे रूपेश कुमार सिंह की अपराधियों ने उसके अपार्टमेंट के गेट पर गोली मारकर हत्या कर दी थी (फाइल फोटो)
पटना एयरपोर्ट पर इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रहे रूपेश कुमार सिंह की अपराधियों ने उसके अपार्टमेंट के गेट पर गोली मारकर हत्या कर दी थी (फाइल फोटो)

डीजीपी एस.के सिंघल (Bihar DGP SK Singhal) ने पटना के एसएसपी कार्यालय में कई घंटे बैठक कर रूपेश मर्डर केस (Rupesh Kumar Singh Murder) को हल करने की दिशा में गंभीरतापूर्वक चर्चा की. बाद में उन्होंने मीडिया से बात करते हुए माना कि रूपेश कुमार सिंह हत्याकांड एक संवेदनशील और जटिल मामला है जिस पर पुलिस कई बिंदुओं से जांच कर रही है

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 16, 2021, 9:37 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार की राजधानी पटना (Patna) में पांच दिन पहले हुए इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर रुपेश कुमार सिंह हत्याकांड (Rupesh Kumar Singh Murder) में अपराधी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं. राज्य के पुलिस महानिदेशक (DGP) एस.के सिंघल ने माना कि रूपेश हत्याकांड (Rupesh Murder) संवेदनशील और जटिल केस है. उन्होंने कहा कि पुलिस कई बिंदुओं पर जांच कर रही है. बिहार में बढ़ते अपराध (Crime In Bihar) के मुद्दे पर डीजीपी एस.के सिंघल (Bihar DGP SK Singhal) उखड़ गए. उन्होंने ऐसा कहने वालों को आंकड़ों के आधार पर बढ़ते अपराध की बात को साबित करने की चुनौती दी.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश के बाद राज्य पुलिस मुख्यालय इस मामले को लेकर एक्शन मोड में है. शनिवार को डीजीपी एस.के सिंघल खुद पुलिस मुख्यालय से निकलकर पटना एसएसपी के कार्यालय पहुंचे. डीजीपी के साथ एडीजी लॉ एंड ऑर्डर अमित कुमार, एडीजी सीआईडी विनय कुमार और एडीजी ऑपरेशन सुशील मानसिंह खोपड़े मौजूद थे. वहीं पटना पुलिस प्रशासन की तरफ से आईजी संजय कुमार सिंह के अलावा एसएसपी उपेंद्र शर्मा, सिटी एसपी दिनेश तिवारी के साथ रुपेश हत्याकांड की गुत्थी पर कई घंटे तक बैठक किया.

बिहार के पुलिस महानिदेशक एस.के सिंघल ने कहा कि पुलिस एक्शन मोड में है, रूपेश हत्याकांड में शामिल अपराधी जल्दी ही पकड़े जाएंगे




'रूपेश हत्याकांड की बिहार पुलिस कई बिंदुओं से जांच कर रही है'
बैठक के बाद डीजीपी एस.के सिंघल ने मीडिया से बात करते हुए माना कि रूपेश कुमार सिंह हत्याकांड एक संवेदनशील और जटिल मामला है जिस पर पुलिस कई बिंदुओं से जांच कर रही है. उन्होंने कहा कि बिहार पुलिस ने कई मामलों का उद्भेदन किया है और निश्चित तौर पर रूपेश कुमार सिंह की हत्या का भी खुलासा करेगी. वहीं लड़कियों और महिलाओं के विरुद्ध होने वाले अपराध पर उन्होंने कहा कि बिहार में कई ऐसे केस हैं जिसका अनुसंधान दूसरी एजेंसी नहीं कर पाई है.

राज्य में बढ़ते अपराध के सवाल को डीजीपी ने खारिज कर दिया. उन्होंने आंकड़ों के साथ बढ़ते अपराध की बात का खंडन करते हुए कहा कि वर्ष 2018 से 2019 और फिर 2020, इन तीन वर्षों में 2019 को छोड़ दें तो बाकी दो साल में अपराध में कमी देखी गई है. डीजीपी ने कहा कि प्रिवेंशन डिटेक्शन सही हो सकता है और बिहार ऐसे कई मामले का उद्भेदन कर अपराध में कमी पाई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज