• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • Bihar: भले मुझसे न मिलें CM नीतीश, लेकिन पिता रामविलास पासवान की बरसी में आएं- चिराग

Bihar: भले मुझसे न मिलें CM नीतीश, लेकिन पिता रामविलास पासवान की बरसी में आएं- चिराग

चिराग पासवान ने मीडिया के माध्यम से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अपने पिता रामविलास पासवान की बरसी में आने का निमंत्रण दिया है (न्यूज़ 18 ग्राफिक्स)

चिराग पासवान ने मीडिया के माध्यम से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अपने पिता रामविलास पासवान की बरसी में आने का निमंत्रण दिया है (न्यूज़ 18 ग्राफिक्स)

Bihar News: एलजेपी सांसद चिराग पासवान ने कहा कि रामविलास पासवान की बरसी में सभी लोग पहुंच रहे हैं, और इस प्रदेश (बिहार) के मुखिया होने के नाते नीतीश कुमार भी पहुंचें. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को हम आप लोगों के माध्यम से रविवार को बरसी कार्यक्रम में शामिल होने का निमंत्रण देते हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

पटना. लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के सांसद चिराग पासवान (Chirag Paswan) शनिवार को दिल्ली से पटना (Patna) पहुंचे. पटना एयरपोर्ट पर चिराग पासवान ने कहा कि वो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) से मिलकर अपने पिता रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) की बरसी में आने के लिए निमंत्रण देना चाहते थे. लेकिन उन्हें मौका नहीं मिला है. चिराग ने कहा कि रामविलास पासवान दलितों के बड़े नेता थे. देश और राज्य के लोकप्रिय नेता रहे हैं. वर्षो तक कई लोगों ने उनके साथ काम किया है और सबके लिए उनके मन में समान विचार था. इसलिए जनता और आम आदमी उनको अधिक चाहती थी. वो पार्टी के हर एक कार्यकर्ता को अपने बेटे के समान मानते थे.

चिराग ने अपने दिवंगत पिता और रघुवंश प्रसाद सिंह की मूर्ति लगाने की तेजस्वी यादव की मांग पर कहा कि हम लोग भी चाहते हैं कि उनकी मूर्ति लगे. जिन लोगों के लिए उन्होंने काम किया है, आगे आने वाले समय में लोग उनको जान सकें. उनके विचारों से प्रेरणा ले सकें. साथ ही उन्होंने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम भी हों जिससे उनके विचार और लोगों तक भी पहुंचे.

एलजेपी सांसद ने कहा कि रामविलास पासवान की बरसी में सभी लोग पहुंच रहे हैं, और इस प्रदेश (बिहार) के मुखिया होने के नाते नीतीश कुमार भी पहुंचें. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को हम आप लोगों के माध्यम से रविवार को बरसी कार्यक्रम में शामिल होने का निमंत्रण देते हैं. उन्होंने कहा कि रामविलास पासवान उनके मित्र और सहयोगी थे, इसलिए वो उनकी श्रद्धांजलि सभा में शामिल हों. भले ही वो मुझसे नहीं मिलें, मुझे आशीर्वाद नहीं दें लेकिन रामविलास पासवान को श्रद्धांजलि जरूर दें.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज