Patna News: पटना में इस साल नहीं होगा जलसंकट, नगर निगम ने बनाया ये खास प्लान

पटना में प्रतिदिन पेयजल की मांग 265 एमएलडी की है.

पटना में प्रतिदिन पेयजल की मांग 265 एमएलडी की है.

गर्मी की शुरुआत होते ही बिहार के कई ज़िलों के साथ-साथ राजधानी पटना में भी जल संकट बढ़ सकता है. इसे देखते हुए पटना नगर निगम ने अभी से ही जल संकट से निपटने के लिए ज़रूरी कदम उठाने शुरू कर दिए हैं.

  • Share this:
पटना. पटना के साथ साथ पूरे बिहार में गर्मी का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है. जैसे-जैसे गर्मी बढ़ रही है, बिहार की राजधानी पटना में जल संकट भी बढ़ने लगा है. गर्मी की शुरुआत के साथ ही राजधानी पटना सहित बिहार के कई जिलों में जलसंकट शुरू हो गया है. पटना शहर के कई इलाकों में पानी की समस्या बड़े संकट का इशारा करने लगा है. पटना नगर निगम भी हरकत में आ गया है. पटनावासियों को जलसंकट ना हो इसके लिए विशेष व्यवस्था की है. पटना नगर निगम आयुक्त हिमाशु शर्मा ने कहा कि किसी भी हालत में लोगों को पानी की किल्लत नहीं होने दी जाएगी. जरूरत पड़ने पर जगह-जगह टैंकर से पेयजल भेजने का काम किया जाएगा. निगम ने 170 से ज्यादा टैंकर को तैयार कर लिया गया है ताकि जरूरत पड़ने पर लोगों को पेयजल की किल्लत न हो. हालांकि पटना के जो हालात हैं, वो नगर निगम के दावे पर सवाल खड़े करते हैं.

पटना के मीठापुर, जक्कनपुर, पीर मुहानी, कदम कुंआ, अनिसाबाद, राजेंद्र नगर, पुनाईचक, मंदिरी, बुद्धा कॉलोनी, पोस्टल पार्क, पटना सिटी जैसे इलाकों में अमूमन हर साल गर्मी के दिन में जल संकट खड़ा हो जाता है. पटना नगर निगम का दावा है कि पटना में इस वक्त मौजूद 117 पंप में से 99 पंप से प्रतिदिन 230 265 एमएलडी पानी की सप्लाई प्रतिदिन होती है. हालांकि पटना में प्रतिदिन की मांग 265 एमएलडी की है.

साफ है कि पहले से ही पटना में मांग के अनुसार पानी का डिमांड पूरा नहीं हो पा रही. पटना में लगातार तेजी से नए-नए कॉलोनी विकसित हो रही हैं. आबादी भी तेजी से बढ़ती जा रही है. दूसरी तरफ वर्षों पहले लगे पाइप लाइन भी जर्जर हालात में पहुंच गई है. सप्लाई होने वाले पानी में से 25 फीसदी पानी हर दिन बर्बाद हो रही है.

नगर निगम का दावा है कि पटना में पाइप लाइन विस्तार की योजना पर काम चल रहा है. पटना में अभी लगभग दो हज़ार किमी पाइप लाइन और बिछाई जानी है. पटना में इस समय 1200 किमी में पुरानी पाइपलाइन बिछी हुई है. पटना में पाइपलाइन के विस्तार का काम काफी धीमा चल रहा है. पटना नगर निगम के आयुक्त हिमांशु शर्मा कहते हैं कि समस्या है लेकिन हम पूरी कोशिश कर रहे हैं कि शहरवासियों को पानी की किल्लत न हो. पाइप लाइन बिछाने के काम भी चल रहा है लेकिन उसमें समय लगेगा. पानी की समस्या को देखते हुए 170 टैंकर की व्यवस्था की गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज