Patna News: रामनवमी पर हनुमान मंदिर रहेगा बंद, आचार्य किशोर कुणाल ने श्रद्धालुओं से की अपील

मंदिर न्यास समिति ने बताया कि मंदिर में तीनों निर्धारित स्थानों पर महावीरी ध्वज बदले जाएंगे.

मंदिर न्यास समिति ने बताया कि मंदिर में तीनों निर्धारित स्थानों पर महावीरी ध्वज बदले जाएंगे.

आचार्य किशोर कुणाल (Acharya Kishore Kunal) ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखते हुए भक्तों से मन्दिर नहीं आने की अपील की है.

  • Share this:
पटना. पटना के प्रसिद्ध हनुमान मंदिर (Hanuman Temple) के प्रशासन ने भक्तों से अपील की है कि कोरोना को देखते हुए रामनवमी (Ram Navami) के दिन महावीर मंदिर नहीं आएं. ये अपील आचार्य किशोर कुणाल ने किया है. मंदिर प्रशासन ने लोगों को जानकारी देते हुए कहा की भक्त ऑनलाइन जियो टीवी पर  मंदिर के अंदर के पूजा पाठ का दर्शन कर सकेंगे. दरअसल, कोरोना को देखते हुए पटना के प्रसिद्ध महावीर मंदिर रामनवमी के अवसर पर भक्तों के लिए बंद कर दिया गया है. मंदिर न्यास समिति के सचिव आचार्य किशोर कुणाल (Acharya Kishore Kunal) ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखते हुए भक्तों से मन्दिर नहीं आने की अपील की है. उन्होंने बताया कि रामनवमी के दिन महावीर मंदिर में भक्तों की सुख-शान्ति और कोरोना संकट से मुक्ति के लिए विशेष पूजा होगी. भक्तों के लिए जियो टीवी के माध्यम से ऑनलाइन  दर्शन की व्यवस्था की गई है.

मंदिर न्यास समिति ने बताया कि मंदिर में तीनों निर्धारित स्थानों पर महावीरी ध्वज बदले जाएंगे. मुख्य पूजा मन्दिर परिसर  के उत्तरी भाग में स्थित ध्वज के पास होगी. कार्यालय के निकट दूसरे ध्वज स्थल पर पूर्व की भांति भक्तों के नाम, गोत्र आदि के संकल्प के साथ ध्वज लगाए जाएंगे. मन्दिर काउंटर से इसके लिए भक्तों ने पहले से ही रसीद कटा रखी है. शनिदेव के निकट स्थित महावीरी ध्वज भी बदला जाएगा. हर वर्ष रामनवमी के दिन महावीर मंदिर में 3 -4 लाख श्रद्धालु दर्शन करने के लिए आते थे. इसके लिए पुलिस-प्रशासन के सहयोग से विशेष इंतजाम किए जाते रहे हैं. गत वर्ष भी कोविड संक्रमण के कारण भक्त हनुमान जी के दो विग्रहों वाले इस अनूठे मंदिर में दर्शन नहीं कर पाए थे. आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि राम जन्मभूमि मंदिर प्रबंधन ने भी संक्रमण के मद्देनजर भक्तों से दर्शन हेतु न आने की अपील की है. महावीर मंदिर के अन्य सेवा प्रकल्प जैसे "दरिद्र नारायण भोज" जिसमें गरीबों के लिए मुफ्त भोजन की व्यवस्था की जाती है तथा सिन्दूर-सिंगार पूजा आदि के लिए मंदिर के काउंटर से रसीद कट रही है.

 श्रद्धालु को किसी भी प्रकार से दिक़्क़त का सामना न करना पड़े

आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि मंदिर का विशेष प्रसाद "नैवेद्यम" भी अब भक्त ऑनलाइन  गुगल पे नंबर 9334467800 के जरिए पेमेंट के बाद 9334468401 पर व्हाट्स एप्प सन्देश करके मंगवा सकते हैं. इसके लिए मंदिर के वेबसाइट पर व्यवस्था की गयी है.  मन्दिर के प्रवेश द्वार पर स्थित काउंटरों पर भी सुबह से शाम छह बजे तक नैवेद्यम उपलब्ध है. बहरहाल, राम नवमी को लेकर मंदिर प्रशासन ने पूरी तैयारी कर रखी है, ताकि कोरोना काल में किसी भी श्रद्धालु को किसी भी प्रकार से दिक़्क़त का सामना न करना पड़े.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज