IPL की तर्ज पर बिहार में होगा BCL, कपिल देव करेंगे टूर्नामेंट का आगाज, 5 टीमें लेंगी हिस्‍सा

बीसीसीआई के गाइडलाइंस और कोविड-19 को लेकर केंद्र सरकार व राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा- निर्देशों को पालन  करते हुए बीसीएल का आयोजन किया जा रहा है.

बीसीसीआई के गाइडलाइंस और कोविड-19 को लेकर केंद्र सरकार व राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा- निर्देशों को पालन करते हुए बीसीएल का आयोजन किया जा रहा है.

5 टीमें इस टूर्नामेंट में भाग लेने वाली हैं जिनके मेंटर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी पहचान बना चुके जानेमाने चेहरे हैं. BCL का उद्देश्‍य में बिहार में मौजूद क्रिकेट प्रतिभाओं को सामने लाना है.

  • Share this:

पटना. बिहार की राजधानी पटना में आपको IPL के तर्ज पर ही चौके-छक्के की बरसात देखने को मिलने वाली है. IPL की तरह ही पटना में भी BCL यानी बिहार क्रिकेट लीग होने वाला है जो IPL के फ़ॉर्मैट में होगा. क्रिकेट का यह मेला 20 से 26 मार्च तक चलेगा, जिसमें बिहार क्रिकेट से जुड़े खिलाड़ी अपना जौहर दिखाएंगे. हर टीम में रणजी खिलाड़ी से लेकर अंडर 19, 21 खेल चुके खिलाड़ी के साथ-साथ ज़िला क्रिकेट से खेलने वाले खिलाड़ी भी हिस्‍सा लेंगे.

इस टूर्नामेंट का उद्घाटन राज्यपाल करेंगे और आग़ाज़ विश्व विजेता टीम के कप्‍तान रहे कपिल देव करेंगे. आईपीएल के तर्ज पर बिहार में पहली बार इस तरह के टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है. बिहार के खिलाड़ियों से बनी पांच टीमों के बीच 20 से 26 मार्च के बीच यह टूर्नामेंट ऊर्जा स्टेडियम में खेला जाएगा. यूरो स्पोर्ट्स पर 20 से अधिक देशों में सीधा प्रसारण होगा. इस टूर्नामेंट में देशी चियर्स गर्ल्स के साथ-साथ फ़्लड लाइट, बेहतरीन ड्रेसिंग रूम, अंतरराष्ट्रीय स्तर के पीच से लेकर ख़ूबसूरत ग्राउंड भी BCL लीग की रौनक़ बढ़ाएंगे.

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाना है उद्देश्‍य

बीसीएल गवर्निंग काउंसिल के चेयरमैन सोना सिंह ने बताया की बीसीएल को सफल बनाने के लिए विशेष पैमाने पर इंफ्रास्ट्रक्चर का डेवलपमेंट कार्य चल रहा है जो लगभग अंतिम चरण में है. बीसीएल के लिए विशेष रूप से गेस्ट गैलरी, कॉमेंट्री गैलरी, अंपायर गैलरी, स्कोरर गैलरी, प्रेस गैलरी और विभिन्न जिला संघों से आए जिला पदाधिकारियों के लिए भी विशेष स्थान बनाया गया है. बीसीएल के चेयरमैन सोना सिंह ने बताया कि खेल को खेल भावना से खेला जाएगा और इसमें पूरी पारदर्शिता रहेगी. बीसीएल कराने का मूल उद्देश्य बिहार की छुपी हुई क्रिकेट की प्रतिभाओ को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाना है. दूसरी तरफ बीसीसीआई के गाइडलाइंस और कोविड-19 को लेकर केंद्र और राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए बीसीएल का आयोजन किया जा रहा है.
सभी टीमों के अपने-अपने मेंटर

5 टीमें इस टूर्नामेंट में भाग लेने वाली हैं, जिनके मेंटर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी पहचान बना चुके जानेमाने चेहरे हैं. अंगिका अवेंजर्स के वेंकटेश प्रसाद, दरभंगा डायमंड्स के सनत जयसूर्या, भागलपुर बुल्स के आरती सिंह, गया ग्लैडिएटर्स के तिलकरत्ने दिलशान, पटना पाइरेट्स के डैनी मॉरीसन मेंटर हैं. साथ ही टूर्नामेंट को लेकर बिहार क्रिकेट से जुड़े खिलाड़ी और रणजी ट्रॉफ़ी खिलाड़ी अशोक कुमार कहते हैं कि इस आयोजन के बाद देश को कई उम्दा खिलाड़ी मिलेंगे, क्योंकि बिहार में क्रिकेट प्रतिभाओं की कमी नहीं है. इस टूर्नामेंट के विजेता को 15 लाख, उपविजेता को 10 लाख और सेमीफाइनल में पहुंचने वाली टीमों को 2-2 लाख रुपया दिया जाएगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज