लाइव टीवी

पटना में व्यवसायी से 'फेक दारोगा' ने मांगे पैसे, पुलिस महकमे में हड़कंप

Sanjay Kumar | News18 Bihar
Updated: November 14, 2019, 11:18 PM IST
पटना में व्यवसायी से 'फेक दारोगा' ने मांगे पैसे, पुलिस महकमे में हड़कंप
पटना में फर्जी दारोगा ने नो-इंट्री में ट्रकों के प्रवेश के नाम पर फल कारोबारी से पैसे मांगे. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बिहार (Bihar) की राजधानी पटना (Patna) में गांधी सेतु पर रिश्वतखोरी करने वाले 45 पुलिसकर्मियों के सस्पेंड होने के मामले के बाद कारोबारियों से पैसा वसूली करने वाले फर्जी दारोगा (Fake SI) के ऑडियो-क्लिप (Viral Audio) ने मचाया हड़कंप. पुलिस ने जांच के बाद कार्रवाई का दिया भरोसा.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: November 14, 2019, 11:18 PM IST
  • Share this:
पटना. आए दिन अपराधियों (Crime in Bihar) की कारस्तानियों से हैरान पटना पुलिस (Patna Police) अब अपने नाम पर हो रही रंगदारी-वसूली की घटना से भी परेशान हो गई है. हाल ही में गांधी सेतु (Mahatma Gandhi Bridge) पर नो-इंट्री में ट्रकों के प्रवेश को लेकर एक साथ 45 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करने का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था कि बहादुरपुर थाने में एक फर्जी दारोगा (Fake SI) की कारस्तानी ने पुलिस महकमे में हड़कंप मचा दिया है.

खुद को बहादुरपुर थाने का दारोगा बताने वाले एक शख्स ने गुरुवार को बाजार समिति स्थित फल मंडी के कारोबारी (businessman) से ट्रकों की नो-एंट्री के नाम पर पैसे की मांग की. कारोबारी ने जब पैसे देने से इनकार किया, तो फर्जी एसआई ने दबाव बनाने की कोशिश. बाद में कारोबारी ने फर्जी दारोगा से बातचीत का ऑडियो (Viral Audio) पुलिस के आला अफसरों को भेजकर इस मुसीबत से छुटकारा दिलाने की मांग की. पुलिस ने मामले की जांच कर कार्रवाई का भरोसा दिलाया है. कारोबारी ने News 18 को भी यह ऑडियो उपलब्ध कराया है.

राज्य की सबसे बड़ी फल मंडी में घूसखोरी से सनसनी
पटना में स्थित बाजार समिति की फल मंडी, बिहार की सबसे बड़ी फल मंडी है. यहां के व्यावसायियों ने बताया कि मंडी में विभिन्न जिलों से रोजाना कई ट्रक पहुंचते हैं. संभवतः ट्रकों की तादाद को देखते हुए ही फर्जी दारोगा ने फल मंडी के कारोबारी से नो-एंट्री के नाम पर पैसे मांगने का प्लान बनाया होगा. गुरुवार की शाम बाजार समिति व्यावसायिक संघ के महासचिव और फल कारोबारी वरुण कुमार से इस फर्जी दारोगा ने पैसे की मांग की.

वरुण कुमार ने बताया कि खुद को बहादुरपुर थाने का एसआई बताते हुए आरोपी शख्स ने बाजार में ट्रक घुसने देने के नाम पर पैसे मांगे. जब वरुण ने इससे इनकार किया, तो आरोपी दारोगा और उसके साथ मौजूद किसी अन्य शख्स ने दबाव देते हुए कहा कि पैसे तो देने ही पड़ेंगे. वरुण कुमार ने बताया कि इसके बाद उन्होंने आरोपी का फोन काट दिया और पुलिस के पास शिकायत की.

सिटी एसपी ने कहा- जांच के बाद होगी उचित कार्रवाई
फल कारोबारी वरुण कुमार ने पुलिस के अलावा न्यूज 18 को भी फर्जी दारोगा से बातचीत का ऑडियो उपलब्ध कराया है. बहरहाल, न्यूज 18 ने ऑडियो के आधार पर पुलिस से जब आरोपी के खिलाफ कार्रवाई को लेकर सवाल पूछा तो सिटी एसपी जितेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि ऑडियो की जांच कराई जाएगी. जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.ये भी पढ़ें -

बिहारः इलाज के नाम पर झोलाछाप डॉक्टर ने ठग लिए 12 हजार रुपए, मरीज की मौत होते ही हो गया फरार

नवजातों की देखभाल करेगी बिहार सरकार, हर जिले के अस्पतालों में बनेगा न्यू बॉर्न केयर यूनिट

स्मृति शेष : भिखारी बन भटके थे गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण, मौत के बाद एंबुलेंस भी नसीब नहीं हुई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2019, 10:23 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर